Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मकान बेचने के नाम पर एक व्यक्ति से साढ़े चार लाख रुपये हड़पे

जगाधरी स्थित शांति कालोनी में दो लोगों ने मकान बेचने के नाम पर एक व्यक्ति से साढ़े चार लाख रुपये हड़प लिए। पुलिस ने मामले की जांच के बाद दोनों आरोपितों के खिलाफ धोखाधड़ी के आरोप में केस दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी। मामले में अभी आरोपित फरार हैं।

मकान बेचने के नाम पर एक व्यक्ति से साढ़े चार लाख रुपये हड़पेठगी (फोटो प्रतीक)

जगाधरी स्थित शांति कालोनी में दो लोगों ने मकान बेचने के नाम पर एक व्यक्ति से साढ़े चार लाख रुपये हड़प लिए। पुलिस ने मामले की जांच के बाद दोनों आरोपितों के खिलाफ धोखाधड़ी के आरोप में केस दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी। मामले में अभी आरोपित फरार हैं।

पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार राम नगर कालोनी निवासी राम सिंह ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि वह रिहायसी मकान खरीदना चाहता था। इस दौरान उसकी मुलाकात शांति कालोनी निवासी संदीप तथा जबीर के साथ हुई। आरोपितों ने उसे कहा कि उनका कालोनी में ही एक मकान है।

वह उसे बेचना चाहते हैं। आरोपितों ने उसे मकान दिखाया। मकान उसकी पंसद आ गया। आरोपितों ने उसे मकान के बयाने के नाम पर साढ़े चार लाख रुपये मांगे। उसने आरोपितों को उक्त राशि दे दी। आरोपितों ने जल्द ही मकान की रजिस्ट्री करवाने का आश्वासन दिया।

मगर तय समय पर आरोपितों ने मकान की रजिस्ट्री नहीं करवाई। उसने जब आरोपितों से इस बारे बात की तो उन्होंने संतोषजनक जवाब नहीं दिया। परेशान होकर जब उसने आरोपितों से पैसे वापस मांगे तो उन्होंने पैसे देने से मना कर दिया और दौबारा पैसे मांगने पर जान से मारने की धमकी दी। उसने आरोपितों के खिलाफ पुलिस में शिकायत दी। पुलिस ने मामले की जांच के बाद दोनों आरोपितों के खिलाफ केस दर्जकर कार्रवाई शुरू कर दी।

-प्लाट बेचने के नाम पर हड़पे ढ़ाई लाख रुपये

साढौरा निवासी नितिन ढींगरा ने बताया कि वह प्लाट खरीदना चाहता था। इस दौरान उसकी मुलाकात बसातियां मौहल्ला साढौरा निवासी संयज कुमार शर्मा के साथ हुई। आरोपित ने उसे प्लाट दिखाया। वह प्लाट उसकी पंसद आ गया। उसका ढ़ाई लाख रुपये में प्लाट का सौदा तय हो गया। उसने आरोपित को ढ़ाई लाख रुपये दे दिए।

मगर आरोपित ने उसके नाम प्लाट की रजिस्ट्री नहीं करवाई। उसने जब आरोपित से इस बारे बात की तो उसने कोई संतोषजनक जवाब नहीं दिया। उसने आरोपित से पैसे वापस मांगे तो उसने पैसे देने से मना कर दिया। परेशान होकर उसने आरोपित के खिलाफ पुलिस में शिकायत दी। पुलिस ने मामले की जांच के बाद आरोपित के खिलाफ धोखाधड़ी के आरोप में केस दर्जकर कार्रवाई शुरू कर दी।

Next Story
Top