Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

प्रद्युम्न हत्याकांड: आरोपियों को नहीं मिल रहे वकील, स्कूल स्टाफ पुलिस के सामने हुआ पेश

स्कूल के प्रिंसिपल और टीचर को प्रद्युम्न हत्याकांड मामले में पुलिस ने पूछताछ के लिए बुलाया था।

प्रद्युम्न हत्याकांड: आरोपियों को नहीं मिल रहे वकील, स्कूल स्टाफ पुलिस के सामने हुआ पेश

रयान इंटरनेशनल स्कूल मामले में पुलिस की कार्रवाई और कोर्ट का हस्तक्षेप जारी है। जहां एक तरफ फ्रांसिस थॉमस के लिए वकील नहीं मिल रहा है वहीं आज स्कूल की प्रिंसिपल और टीचर को पुलिस ने पूछताछ के लिए बुलाया था।

रयान इंटरनेशनल स्कूल के उत्तरी जोन के हेड फ्रांसिस थॉमस ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल कर पूरे मामले की सुनवाई हरियाणा से बाहर कराने की मांग की है। प्रद्युम्न मामले में फ्रांसिस थॉमस को पुलिस ने जुवेनाइल जस्टिस ऐक्ट के तहत गिरफ़्तार किया है।

फ्रांसिस थॉमस ने अपनी याचिका में कहा है कि गुरुग्राम और सोहना बार एसोसिएशन ने घोषणा की है कि प्रद्युम्न मामले में आरोपियों की तरफ से कोई भी वकील केस नहीं लड़ेगा। अगर कोई वक़ील केस नही लड़ेगा तो ये फ्री ऐंड फेयर ट्रायल के अधिकार का उल्लंघन होगा।

इसे भी पढ़े:- प्रद्युम्न हत्याकांडः रयान के मालिकों को मिली एक एक दिन की राहत, कल होगी सुनवाई

फ्रांसिस थॉमस ने अपनी याचिका में कहा है कि कस्टडी में उनके वकीलों को भी उनसे मिलने नहीं दिया जा रहा है। कल गुरुवार को उन्हें सोहना कोर्ट में पेश किया जाना है।

उन पर बच्चे की सुरक्षा को लेकर लापरवाही के तहत जुवेनाइल जस्टिस एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया है। आज हरियाणा पुलिस ने रयान इंटरनेशनल स्कूल के टीचरों और प्रिंसिपल को पूछताछ के लिए बुलाया था।

ट्रांसफर याचिका पर 18 को सुनवाई

याचिका में यह भी कहा गया है कि हरियाणा के शिक्षा मंत्री ने कहा है कि स्कूल मैनेजमेंट के खिलाफ केस किया जाएगा। वहीं सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि मामले की जांच पुलिस कर रही है, उस पर फिलहाल सुनवाई नहीं होगी। कोर्ट ट्रांसफर याचिका पर 18 सितंबर को सुनवाई करेगा।

फॉरेंसिक टीम पहुंची रायन स्कूल

गुरुग्राम के रायन इंटनैशनल स्कूल में हुए 7 साल के प्रद्युम्न की हत्या की गुत्थी उलझती जा रही है। पुलिस की जांच पर उठ रहे सवालों के बीच बुधवार को फॉरेंसिक साइंस लैबरेटरी की टीम ने रायन स्कूल जाकर सबूत जुटाने की कोशिश की।

पुलिस ने इस मामले में आरोपी बनाए गए बस के कंडक्टर अशोक के डीएनए सैंपल जांच के लिए करनाल के लैब में भेजे हैं।

Next Story
Share it
Top