Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

हत्या के जुर्म में चार को उम्रकैद, अपने ही साथी की चाकूओं से गोदकर हत्या की

हरिनगर निवासी प्रताप ने 29 नवम्बर 2014 को शहर थाना नरवाना पुलिस को दी शिकायत में बताया था कि उसका बेटा अमनदीप बीकॉम प्रथम वर्ष का छात्र था। 28 नवम्बर देर शाम को अमनदीप अपने दोस्त अभिषेक के साथ गया था। जिसके बाद वह घर वापस नहीं लौटा।

महिला की हत्या कर शव सूटकेस में भरकर फेकने वाले तीन आरोपी गिरफ्तार, मुख्य आरोपी फरारमहिला की हत्या कर शव सूटकेस में भरकर फेकने वाले तीन आरोपी गिरफ्तार

अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश गुरविंद्र कौर की अदालत ने लगभग पांच साल पहले साथी की चाकू से गोदकर हत्या करने और शव को खुर्द बुर्द करने के लिए नहर में फेंकने के जुर्म में चार को उम्रकैद तथा सवा-सवा लाख रुपये जुर्माने की सजा सुनाई है। जुर्माना न भरने की सूरत में दोषियों को एक-एक वर्ष की अतिरिक्त कैद भुगतनी होगी।

अभियोजन पक्ष के अनुसार हरिनगर निवासी प्रताप ने 29 नवम्बर 2014 को शहर थाना नरवाना पुलिस को दी शिकायत में बताया था कि उसका बेटा अमनदीप बीकॉम प्रथम वर्ष का छात्र था। 28 नवम्बर देर शाम को अमनदीप अपने दोस्त अभिषेक के साथ गया था। जिसके बाद वह घर वापस नहीं लौटा।

अमनदीप का कोई सुराग न लगने पर पुलिस ने जब अभिषेक से पूछताछ की तो वह टूट गया। उसने पुलिस को बताया उनका अमनदीप के साथ रुपये के लेनदेन को लेकर विवाद हुआ था। जिसके बाद अमनदीप की चाकूओं से वार कर हत्या कर दी और शव को खुर्द बुर्द करने की नीयत से जींद रोड स्थित सिरसा ब्रांच नहर पुल के पास नहर में फेंक दिया था।

बाद में पुलिस ने गोताखोरों की सहायता से अमनदीप के शव को बरामद कर लिया था। पुलिस ने प्रताप की शिकायत पर नवीन, अभिषेक, नवनीत, साहिल के खिलाफ हत्या, शव को खुर्द बुर्द करने सहित विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया था।

तभी से मामला अदालत में विचाराधीन था। शुक्रवार को अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश गुरविंद्र कौर की अदालत ने नवीन, अभिषेक, नवनीत, साहिल को उम्रकैद तथा सवा-सवा लाख रुपये जुर्माने की सजा सुनाई है। जुर्माना न भरने की सूरत में दोषियों को एक-एक वर्ष की अतिरिक्त कैद भुगतनी होगी।

Next Story
Top