Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बाजार से गायब हुए मास्क-सैनिटाइजर, मेडिकल स्टोर पर छापेमारी

मास्क और सैनिटाइजर की कालाबाजारी को लेकर की पूछताछ। टीम ने शहर में आधा दर्जन मेडिकल स्टोरों पर जांचा स्टॉक।

Coronavirus: कोरोना वायरस की फैली दहशत, तय कीमत से 6 गुना महंगे दामों पर मिल रहे मास्क
X
कोरोना वायरस के वजह से मास्क की डिमांड बढ़ी(फाइल फोटो)

हरिभूमि न्यूज. जींद। कोरोना वायरस के चलते मास्क और सैनिटाइजर की कालाबाजारी न हो, इसको लेकर जिला खाद्य एवं आपूर्ति विभाग की टीम ने सोमवार को शहर में कैमिस्ट की दुकानों पर दस्तक दी। इस दौरान टीम में शामिल रहे अधिकारियों द्वारा शहर में आधा दर्जन से अधिक मेडिकल स्टोरों पर स्टॉक को जांचा व दुकानदारों से बातचीत कर यह जानने का प्रयास किया कि कहीं मास्क और सैनेटाइजर को अधिक दामों पर तो नहीं बेचा जा रहा है।

इसके अलावा दुकानों पर मौजूद ग्राहकों से भी बातीचत कर पूछा गया कि उन्हें बाजार में मास्क और सैनेटाइजर उचित दामों पर मिल रहे हैं या नहीं। जिला खाद्य एवं आपूर्ति विभाग टीम की इस कार्रवाई से मेडिकल स्टोर संचालकों में पूरा दिन हड़कंप मच रहा। कोरोना वायरस के चलते हरियाणा सरकार ने मास्क और सैनेटाइजर को एसेंशियल कमोडिटी की कैटेगरी में डाल दिया है।

सरकार इनकी सेल को लेकर कहीं भी जांच कर सकती है। इनकी कालाबाजारी करने वाले को साम साल की सजा भी हो सकती है। ऐसे में इस जांच का जिम्मा प्रदेशभर में खाद्य एवं पूर्ति नियंत्रकों को सौंपा गया है। वहीं कोरोना वायरस को लेकर एकदम से बाजार में मास्क व सैनेटाइजर की मांग बढ़ गई है। ऐसे में मेडिकल स्टोर संचालक इन चीजों की कालाबाजारी न कर सकंे, इसे लेकर खाद्य एवं आपूर्ति विभाग की टीम ने सोमवार को बाजार में मेडिकल स्टोरों व सर्जिकल एजेंसियों पर दस्तक दी। यहां टीम द्वारा मास्क व सेनेटाइजर के स्टॉक व बाजार में बेची जा रही कीमत को जानने का प्रयास किया गया। प्रदेशभर में सरकार के आदेशों के बाद टीमें लगातार मास्क व सैनेटाइजर की कालाबाजारी को लेकर मेडिकल स्टोर में छापेमारी कर रही है।

यहां-यहां दी दस्तक

खाद्य एवं आपूर्ति विभाग की टीम ने भिवानी रोड प्रकाश मेडिकल हाल, कार्तिक इन्टरप्राइजिज भिवानी रोड, श्री मेडिकल एंड सर्जिकल एजेंसी जींद, गोयल मेडिकोज, गुम्बर मेडिकल स्टोर, फेयर ड्रिल एजेंसी पर दस्तक दी और यहां स्टॉक को जांचने का काम किया। टीम में सप्लाई इंचार्ज अमित सैनी, एएसएचओ बबीता ढुल व निरीक्षक कृष्ण मौजूद रहे।

अनियमितता पाए जाने पर होगी सख्त कार्रवाई : सैनी

जिला खाद्य एवं पूर्ति नियंत्रक सुरेंद्र सैनी ने कहा कि कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए मास्क एंड हैंड सेनेटाइजर की कहीं भी कालाबाजारी न हो, इसे लेकर विभागीय टीम पूरी तरह से सतर्क है। सोमवार को भी आधा दर्जन सर्जिकल व मेडिकल स्टोरों पर दस्तक दी गई है। जांच में कहीं भी कोई अनियमितता नहीं पाई गई है। उन्होंने कहा कि सरकार ने मास्क और सैनिटाइजर को आवश्यक वस्तु अधिनियम की श्रेणी में शामिल कर दिया गया है, इस कारण इसकी कालाबाजारी नहीं की जा सकती है। अगर ऐसा पाया जाता है तो सख्त कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

Next Story