Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

स्कूल फीस जमा कर पाने में असमर्थ पिता ने कर दी बेटी की हत्या, किया था प्रेम विवाह

एक बाप आखिर कितना बेबस हो सकता है इसका अंदाजा लगाना बेहद मुश्किल है। हर बार मुश्किल हालातों में फंसे बेटे को उभारने का काम पिता ही करता रहा है पर कई बार वह स्वयं इतनी विकट परिस्थिति में फंस जाता है कि वह दुनिया का सबसे बड़ा गुनाह कर बैठता है। हरियाणा से एक ऐसा ही मामला सामने आया है जहां एक युवक ने अपनी ही बेटी को मौत के घाट उतार दिया।

स्कूल फीस जमा कर पाने में असमर्थ पिता ने कर दी बेटी की हत्या, किया था प्रेम विवाहFather Murdered Daughter Reasons for not depositing fees In Kurukshetra

एक बाप आखिर कितना बेबस हो सकता है इसका अंदाजा लगाना बेहद मुश्किल है। हर बार मुश्किल हालातों में फंसे बेटे को उभारने का काम पिता ही करता रहा है पर कई बार वह स्वयं इतनी विकट परिस्थिति में फंस जाता है कि वह दुनिया का सबसे बड़ा गुनाह कर बैठता है। हरियाणा (Haryana) से एक ऐसा ही मामला सामने आया है जहां एक युवक ने अपनी ही बेटी को मौत के घाट उतार दिया।

इंसानियत का शर्मसार करने वाली ये घटना प्रदेश के कुरुक्षेत्र (kurukshetra) जिले के दबखेड़ा गांव का है। गुरुवार की शाम नौकरी से लौटने पर वह अपनी बेटी के साथ खेल रहा था तभी उसके दिमाग में क्या आया उसने बच्ची का गला दबा दिया। गंभीर हालत में परिजन उसे लेकर अस्पताल पहुंचे जहां बच्ची की हालत गंभीर देखते हुए डॉक्टरों ने बच्ची को रतगल के लिए रेफर कर दिया जहां उसे मृत घोषित कर दिया।

बच्ची की मौत के बाद परिवार में मातम छा गया। पत्नी हरजिंदर कौन ने अपने पति के खिलाफ मामला दर्ज करवाया। पुलिस ने मामला दर्ज करके आरोपी पिता को गिरफ्तार कर लिया। हत्या का कारण पूछने पर उसने बताया कि वह बेटी डीपीएस स्कूल में पढ़ती थी पिछले कुछ दिन से फीस नहीं दे पा रहा जिसके कारण पत्नी हमेशा उलाहना देती रहती थी जिससे वह तंग आ गया था।

फीस को लेकर जब डीपीएस स्कूल से बात हुई तो उसने बताया कि बच्ची की महज 2 महीने की ही फीस बकाया थी। स्कूल के निदेशक राजन वढेरा ने बताया कि बच्ची के पिता ने एक हफ्ते में फीस जमा करने की बात कही थी। साथ ही फीस हमेशा बच्ची के दादा जमा करने आते थे।

बताते चले कि जसबीर और हरजिंदर कौर ने प्रेम विवाह किया था, शादी के लिए दोनों के घरवाले राजी नहीं थे, फिर भी दोनों ने परिवार के खिलाफ जाकर शादी की। इसके बाद वह करनाल आकर किराए के मकान में रहने लगे। कुछ दिन पहले जसबीर के पिता ने उन्हें स्वीकार करते हुए घर बुला लिया, पर हरविंदर के परिजनों ने उसे अभी भी नहीं अपनाया है।

Next Story
Top