Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

हरियाणा पुलिस के हेड कांस्टेबल ने की लूट, अपने ही जाल में ऐसे फंस गया

फरीदाबाद के थाने में तैनात हेड कांस्टेबल ने लूट की वारदात को अंजाम दिया। गांजा तस्कर के साथ लूट करने पर उसे गिरफ्तार कर लिया गया है।

11 साल के बच्चे के प्राइवेट पार्ट के साथ करते थे घिनौनी हरकत, ब्लैकमेल कर ऐंठे लाखो रुपयेहरियाणा पुलिस (फाइल फोटो)

फरीदाबाद के बीपीटीपी थाने में तैनात एक हेड कांस्टेबल को दस लाख रुपये लूट के आरोप में गिरफ्तार किया है। आरोपी कांस्टेबल ने गांजा तस्कर अकबर के साथ मिलकर इस वारदात को धौज टोल प्लाजा के समीप 28 अक्टूबर को अंजाम दिया था। क्राइम ब्रांच ने कांस्टेबल सुशील को गिरफ्तार कर लिया है। साथ ही आरोपी गांजा तस्कर की भी तलाश शुरू कर दी है।

पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने बताया कि कांस्टेबल वर्तमान में बीपीटीपी थाना क्षेत्र के एक नाके पर तैनात था। उसने गांजा तस्कर अकबर के साथ मिल कर अपने एक साथी नफीस को डेढ़ लाख का फायदा होने का प्रलोभन देकर सुनसान स्थान पर ले गए। इसके बाद धौज टोल प्लाजा के समीप उससे दस लाख रुपये लूट लिए। इसकी शिकायत नफीस ने पुलिस से की थी। एसीपी क्राइम अनिल कुमार ने बताया कि जांच में कांस्टेबल का नाम सामने पर उसे गिरफ्तार कर लिया गया है। साथ ही क्राइम ब्रांच बीपीटीपी प्रभारी एसआई बिजेंद्र का तबादला बल्लभगढ़ थाने में कर दिया गया।

पुलिस को भटकाने की कोशिश

जांच के दौरान पकड़े जाने के डर से सुशील ने अकबर के साथ मिल कर क्राइम ब्रांच की टीम को उलझाने के लिए सीएम विंडो पर बीपीटीपी क्राइम ब्रांच के खिलाफ प्रताडि़त करने व मलद्वार में पेट्रोल डालने की झूठी शिकायत दी। इस मामले की जांच के दौरान आरोपी कांस्टेबल सुशील का नाम सामने आया। उन्होंने बताया कि आरोपी कांस्टेबल ने गांजा तस्कर अकबर के साथ मिल कर करीब 200 किलो गांजा दिल्ली में बेच दिया। इतनी बड़ी मात्रा में गांजा की खेप की सूचना मिलने पर क्राइम ब्रांच की टीम सक्रिय हो गई थी। क्राइम ब्रांच को फंसाने के इरादे से कांस्टेबल सुशील व गांजा तस्कर अकबर ने यह नाटक रचा था।


Next Story
Top