Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

लापरवाही : कर्मचारियों ने बदला शव, श्मशान घाट पर हुई पहचान

सोनीपत में यूपी निवासी 25 वर्षीय युवक की मौत के बाद बृहस्पतिवार शाम को परिजनों को युवक की डेड बॉडी की बजाय उसी नाम के अन्य युवक का शव दे दिया गया। परिजनों ने श्मशान घाट पहुंचकर शव देखा तो होश उड़ गए। बाद में पुलिस के पहुंचने पर खानपुर मेडिकल कालेज प्रबंधन ने एंबुलेंस में रखकर शव भिजवाया, इसके बाद देर रात अंतिम संस्कार किया जा सका।

लापरवाही : कर्मचारियों ने बदला शव, श्मशान घाट पर हुई पहचान
X
प्रतीकात्मक फोटो

सोनीपत। शहर के ब्रह्मनगर के युवक की मौत के बाद खानपुर मेडिकल कालेज में हुई लापरवाही के चलते किसी अन्य युवक का शव सौंप दिया गया। वह शव के अंतिम संस्कार के लिए श्मशान घाट में पहुंचे तो वहां जाने पर मामले का पता लगा। जिस पर मामले से सिटी थाना पुलिस को अवगत कराया गया। जिस पर पुलिस ने खानपुर अस्पताल प्रबंधन से बातचीत कर ब्रहमनगर के रहने वाले युवक का शव मंगवाकर परिजनों के हवाले कर दिया। वहीं दूसरे युवक के शव सामान्य अस्पताल में भिजवा दिया गया।

मूलरूप से जौनपुर, यूपी फिलहाल ब्रह्मनगर के रहने वाले अजय पुत्र संजय की 25 अप्रैल को तबियत बिगड़ गई थी। जिसके चलते उसे शहर के निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। वहां से उसे खानपुर रेफर कर दिया गया था। जहां पर वीरवार को उसकी मौत हो गई। जिसकी सूचना पर परिजन एम्बुलेंस लेकर खानपुर अस्पताल में पहुंचे। वहां उन्हें युवक का शव अजय बताकर दे दिया गया। युवक के परिजन जब शव को लेकर अंतिम संस्कार के लिए मोहन नगर स्थित श्मशान घाट में पहुंचे तो वहां चेहरे से कपड़ा हटाया गया। जिस पर परिजन दंग रह गए। वह किसी अन्य अजय का शव था। शव पर लगी चिट देखी गई तो उस पर अजय पुत्र रामफल लिखा था। जिस पर परिजनों को पूरा मामला समझ में आया।

उन्होंने मामले से सिटी थाना पुलिस को अवगत कराया। जिस पर सिटी थाना प्रभारी रवि मौके पर पहुंचे। उन्होंने मामले से अधिकारियों को अवगत कराया। जिस पर खानपुर मेडिकल कालेज अस्पताल में सूचना दी गई। जिसके बाद अजय पुत्र रामफल के शव को सामान्य अस्पताल में भिजवा दिया गया। वहीं वीरवार देर शाम को खानपुर से अजय पुत्र संजय का शव लाकर उसके परिजनों को सौंपा गया। इसके बाद उसका अंतिम संस्कार किया गया। वहीं अगर समय रहते अजय पुत्र संजय के परिजनों को पता नहीं लगता को वह अपने बेटे की जगह किसी अन्य के शव का दाह संस्कार कर देते।



Next Story