Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बिजली निगम ने किसान को थमाया एक लाख से ज्यादा का बिल

जुलाना में बिजली विभाग की लापरवाही का मामला सामने आया है। विभाग ने दो माह में 13150 यूनिट के बिल 100944 रुपये का बिल दे दिया। किसान ने विभाग से बिल ठीक करने की मांग की है।

रेजिडेंस वेलफेयर फैडरेशन ने बिजली कंपनियों द्वारा अवैध 8 करोड़ वसूली  वापस करने की मांग रखी
X
बिजली (प्रतीकात्मक फोटो)

जुलाना बिजली निगम ने शादीपुर के किसान सुनेहरा को दो माह का बिल एक लाख रुपये से ऊपर का थमा दिया। बिल ठीक करवाने के लिए किसान दफ्तर के चक्कर काट रहा है मगर फिर भी बिजली बिल को ठीक नहीं किया जा रहा है। सुनेहरा ने बताया कि वह लगातार बिजली के बिल भर रहा है।

उसका औसतन बिल दो माह में एक हजार रुपये से नीचे ही आता है। दिसंबर में भी उसने पूरा बिल बिजली का भर दिया था। अब की बार बिजली विभाग ने उसे एक लाख 9 सौ 44 रुपये बिल थमा दिया। ज्यादा भरकम बिल को देखकर किसान के पसीने छूट गए।

किसान ने बताया बिजली विभाग के कर्मचारियों की वजह से उसे परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। जब वह लगातार बिजली का बिल भर रहा है तो इतना बिल कैसे आ गया। उसका बिजली का लोड भी काफी कम है। दिसंबर माह में उसने 600 रुपये बिजली के बिल के भरे थे।

विभाग ने बिजली बिलों में भी मीटर रिडिंग सही ढंग से नहीं दिखाई गई है। अब की बार विभाग ने दो माह में 13150 यूनिट के बिल 100944 रुपये का बिल दे दिया।किसान ने विभाग से बिल ठीक करने की मांग की है।

Next Story