Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

हरियाणा : बेरोजगार युवाओं को रोजगार दिलाने के लिए 'ठाकरे' बनने की तैयारी में दुष्यंत चौटाला

जेजेपी नेता दुष्यंत चौटाला ने कहा कि अगर अपने प्रदेश के नौजवानों की लड़ाई लड़ने के लिए बाल ठाकरे या राज ठाकरे बनना पड़ा तो वह कदम पीछे नहीं खींचेगे। उनका ये ऐलान कि हरियाणा में तभी फैक्ट्री चलेगी जब यहां के युवा वहां नौकरी करेंगे। उनके इस ऐलान को अगर आगामी चुनाव से जोड़ा जाए तो गलत नहीं होगा।

हरियाणा : बेरोजगार युवाओं को रोजगार दिलाने के लिए

सियासत की वास्तविक तासीर ये है कि ये हमेशा बदलती रहती है। राजनीति को बदलने के लिए कई बार नेताओं द्वारा प्रयास किया जाता है तो कई बार जनता के हाथ में बदलाव की चाभी होती है। हरियाणा में जो होने जा रहा वो जननायक जनता पार्टी (Jannayak Janata Party) के नेता दुष्यंत चौटाला कर रहे हैं।

अगर कहा जाए कि वह महाराष्ट्र के ठाकरे परिवार के पदचिन्हों पर चलने जा रहे तो गलत नहीं होगा। दरअसल हरियाणा के युवाओं को रोजगार दिलवाने के लिए जेजेपी के नेता चौटाला (Dshyant Chautala) अब पूरे राजस्थान में प्रदर्शन करेंगे।

उन्होंने साफ कहा कि अगर अपने प्रदेश के नौजवानों की लड़ाई लड़ने के लिए बाल ठाकरे या राज ठाकरे बनना पड़ा तो वह कदम पीछे नहीं खींचेगे। उनका ये ऐलान कि हरियाणा में तभी फैक्ट्री चलेगी जब यहां के युवा वहां नौकरी करेंगे। उनके इस ऐलान को अगर आगामी चुनाव से जोड़ा जाए तो गलत नहीं होगा।

दरअसल हरियाणा में आगामी विधानसभा चुनाव में भाजपा आगे दिख रही है। हाल ही में खत्म हुए लोकसभा चुनाव में प्रदेश की सभी 10 सीटें भाजपा के पाले में चली गई। इसके बाद विपक्षी पार्टियों को लग गया कि मुकाबला बेहद कड़ा है। हरियाणा की राजधानी में बोलते हुए दुष्यंत चौटाला ने कहा कि हरियाणा के युवाओं के लिए बेरोजगारी सबसे बड़ी परेशानी है।

उन्होंने विपक्षी धर्म निभाते हुए सत्ताधारी मनोहर सरकार युवाओं को नौकरी के लिए भटकाने का आरोप लगाया। कहा कि प्रदेश का युवा हाथ में डिग्री लेकर खाली हाथ घूम रहा है। फिलहाल बेरोजगारी ने तो हरियाणा को कसकर जकड़ लिया है।

इस जकड़ से निपटने के लिए सरकार ने कुछ कदम उठाए भी पर ज्यादातर नाकाफी साबित हुए। और इसी का नतीजा है पिछले कुछ सालों में देश के साथ हरियाणा में भी बेरोजगारी का ग्राफ काफी तेजी से ऊपर गया है।

Next Story
Share it
Top