Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

पंचायत में मारे गए जूते, दलित युवक ने लगाई फांसी

परिवार को बेइज्जत करते हुए मरवाए गए थे जूते और फर्श पर रगड़वाई थी नाक।

पंचायत में मारे गए जूते, दलित युवक ने लगाई फांसी
घरौंडा. हरियाणा में अकसर ही दलितों के उत्पीड़न की खबरे लगतार सामने आतीं हैं। दलित उत्पीड़न की ऐसी ही एक घटना सामने आई है रोहतक के घरौंड़ा से जहां पंचायत के तानाशाही फैसले से दुखी होकर एक दलित युवक ने फांसी लगा ली। पंचायत पर आरोप है कि इसके फैसले के अनुसार युवक व उसके पिता तथा भाई को जूते मारे गए और जमीन पर लकीरे लगवाई गई। पुलिस ने सरपंच समेत छह लोगों पर आत्महत्या के लिए उकसाने व अन्य धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया है। जांच की जा रही है।
गांव चौरा में कुछ दिनों पहले रामपाल का गांव के ही एक परिवार से झगड़ा हो गया था। जिसके बाद मामला पुलिस तक पहुंचा, लेकिन मामले को सुलटाने के लिए गांव में पंचायत बुलाई गई। सरपंच की मौजूदगी में पंचायत ने पीड़ित रामपाल उसके बेटे शिवम् व भतीजे प्रवीन को सात सात जूते मारने व नाक से सात सात लकीरे खींचने की सजा सुनाई गई। आरोप यह भी है कि सरपंच ने ग्रामीणों के समक्ष दूसरे पक्ष के लोगों से रामपाल व उसके परिवार को बेइज्जत करते हुए जूते मरवाए व फर्श पर नाक रगड़वाया।
पंचायत में सरेआम सजा दिए जाने से रामपाल का पुत्र शिवम् आहत हो गया। रामपाल के मुताबिक पंचायत के फैसले के बाद गांव के लोग उसे सजा का हवाला देकर चिढ़ाने लगे उनके परिवार घर से निकलना दूभर हो गया। वह इस कदर दिमागी रूप से आहत हो चुका कि मंगलवार की देर शाम शिवम् ने फांसी का फंदा लगाकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली। पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।
मृतक शिवम् के पिता रामपाल की शिकायत पर पुलिस छ: आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है, लेकिन अभी तक किसी भी आरोपी को गिरफ्तार नहीं किया जा सका। सरपंच की मौजूदगी में सुनाए गए फैसले के बाद अपने ऊपर लगे आरोपों को सरपंच ने निराधार बताया। सरपंच राजेंद्र खुराना के मुताबिक पंचायत में फैसला कई लोगों की सहमति से लिया गया था,लेकिन किसी को जूते नहीं मारे गए और न ही नाक रगड़वाई गई। जांच अधिकारी खुड़ीराम ने बताया कि गांव चोरा में युवक द्वारा फांसी लगाकर आत्महत्या किए जाने का मामला सामने आया है। शव का पोस्टमार्टम करवा कर परिजनों को सौंप दिया है। इस मामले में पीड़ित परिवार ने पंचायत में सजा दिए जाने की शिकायत की है। मामले की जांच की जा रही है।
Next Story
Share it
Top