Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

गायों के आए अच्छे दिन, दिया जाएगा मसाज

मशीनों के जरिए गायों को फव्वारों से नहलाने और मसाज से लेकर उनकी पूरी सफाई और ग्रूमिंग की जाएगी।

गायों के आए अच्छे दिन, दिया जाएगा मसाज

देसी गायों की नस्ल में सुधार और दूध उत्पादन बढ़ाने की दिशा में लाला लाजपतराय पशु चिकित्सा एवं पशु विज्ञान विश्वविद्यालय (लुवास) ने लैब रीसर्च पर काम और तेज कर दिया है। हरियाणा के हिसार में पहले हाइटेक गाय फार्म प्रॉजेक्ट पर काम शुरू हो गया है।

इसके तहत मशीनों के जरिए गायों को फव्वारों से नहलाने और मसाज से लेकर उनकी पूरी सफाई और ग्रूमिंग की जाएगी। इस सिस्टम को ऑटोमैटिक पार्लर का नाम दिया जाएगा। मशीनों के जरिए ही पशुओं का दूध निकाला जाएगा और उनकी आवश्यकता के अनुसार चारा डाला जाएगा। ये पूरा सिस्टम कंप्यूटराइजड होगा।
लाला लाजपतराय पशु चिकित्सा एवं पशु विज्ञान विश्वविद्यालय के ऐनिमल जेनेटिक्स ऐंड ब्रीडिंग डिपार्टमेंट के विभागाध्यक्ष डॉ एएस यादव ने कहा कि इस गाय फार्म के लिए लुवास को राष्ट्रीय कृषि विकास योजना के तहत 3 करोड़ रुपये का बजट मुहैया कराया गया है। उन्होंने बताया कि इसके लिए टेंडर जारी कर दिए गए हैं और अब तक तीन विदेशी कंपनियों ने आवेदन कर भी दिया है। यह गाय फार्म अभी यूनिवर्सिटी के पुराने कैंपस में ही स्थापित किया जाएगा।
यह गाय फार्म नट-बोल्ट से जुड़ा होगा और नया कैंपस बनने पर इसे शिफ्ट किया जाएगा।इस फार्म की एक और खासियत है कि इस पूरे फार्म को एक कर्मचारी आदमी कंप्यूटर पर बैठकर हैंडल कर सकेगा। डॉ यादव ने बताया कि दूध निकलने के बाद मशीन गाय के वेट, दूध की मात्रा आदि के हिसाब से ऑटोमैटिक ही चारा डाल देगी। इस चारे में उसकी जरूरत के मुताबिक सभी तरह के आवश्यक तत्व होंगे।
Next Story
Share it
Top