Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

सीएम मनोहरलाल का ऐलान, रेवाड़ी के मनेठी में बनेगा AIIMS

मुख्यमंत्री ने रेवाड़ी के गांव मनेठी में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान का केंद्र खोलने की बड़ी घोषणा की

सीएम मनोहरलाल का ऐलान, रेवाड़ी के मनेठी में बनेगा AIIMS
बावल. प्रदेश में सत्ता संभालने के बाद पहली बार बावल पहुंचे सीएम मनोहरलाल ने घोषणाओं की झड़ी लगा दी। अनाज मंडी में जनहित रैली में मुख्यमंत्री ने रेवाड़ी के गांव मनेठी में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) का केंद्र खोलने की बड़ी घोषणा की। रैली की अध्यक्षता केंद्रीय मंत्री राव इंद्रजीतसिंह ने की। रैली के आयोजक बावल के विधायक विधायक डॉ. बनवारीलाल थे। इस मौके पर राव ने सीएम से कहा कि रेवाड़ी को लंदन जैसा नहीं रोहतक जैसा बना दीजिए।
मुख्यमंत्री ने 500 करोड़ रुपये की लागत से रेवाड़ी का बाईपास बनाने, 19 करोड़ रुपये की लागत से बावल की 34 सड़कों का निर्माण कराने, बावल में ट्रॉमा सेंटर खोलने, अनाजमंडी में शेड बनवाने, चौ. चरणसिंह कृषि विश्वविद्यालय हिसार के बावल स्थित एग्रीक्लचर संस्थान में इसी सत्र से बीएससी की कक्षाएं शुरू करने, एनएच-8 पर माडर्न बस स्टैंड बनाने, धामलावास में मल्टी स्किल्ड सेंटर खोलने की, हेलीमंडी से पाल्हावास, कोसली से गुडियानी, डहीना से जाटूसाना व बेरलीकलां से रेवाड़ी तक सड़क बनवाने के लिए 85 करोड़ रुपये की घोषणा तथा धारूहेड़ा में राष्ट्रीय राजमार्ग को चौड़ा करने पर 40 करोड़ रुपये खर्च कर परियोजना शुरू करने की घोषणा की।
फिलहाल, खट्टर सरकार अपने चुनावी वादों को पूरा करती जा रही है। आजादी से पहले बावल नाभा स्टेट के अधीन जिला सरकार का दर्जा रखता था, लेकिन कभी सरकार का चहेते रहे बावल ने आजादी के बाद खूब उपेक्षा झेली है। भूपेंद्र सिंह हुड्डा के मुख्यमंत्री रहते यहां कांग्रेस तीन धड़ों में बंटी हुई थी। इस गुटबाजी के चलते तत्कालीन मुख्यमंत्री अपनी पहली पारी में बावल में रैली करने ही नहीं आए। हालांकि औद्योगिक निवेश व प्रगति के मामले में बावल औद्योगिक क्षेत्र अंतर्राष्ट्रीय पहचान बनाने में कामयाब रहा, परंतु बावल को आइएमटी का दर्जा मिलने व अंतर्राष्ट्रीय पहचान मिलने में सरकार से अधिक उद्यमियों की मेहनत को ही श्रेय दिया गया।
नीचे की स्लाइड्स में पढ़िए, खबर से जुड़ी अन्य जानकारी -

खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

Next Story
Share it
Top