Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सीआईएसएफ कर्मचारी करता था ड्रग्स की सप्लाई, पकड़ने पर दिखाता था आईकार्ड

अंबाला की स्पेशल फोर्स ने ड्रग्स की सप्लाई करते हुए दो लोगों को पकड़ा है। जिनमें एक सीआईएसएफ का जवान है। सीआईएसएफ का जवान टैक्सी चालक के साथ मिलकर ड्रग्स सप्लाई का काम करता था।

सीआईएसएफ कर्मचारी करता था ड्रग्स की सप्लाई, पकड़ने पर दिखाता था आईकार्ड
X
सीआईएसएफ का कर्मचारी करता था ड्रग्स की सप्लाई (प्रतीकात्मक फोटो)

अंबाला की स्पेशल फोर्स ने अफीम की सप्लाई करते हुए दो लोगों को गिरफ्तार किया है। जिसमें एक सीआईएसएफ का जवान है जो कि टैक्सी चालक के साथ मिलकर इस धंधे को चला रहा था।

अंबाला के स्पैशल टास्क फोर्स के डीएसपी कुलभूषण व टास्क फोर्स इंचार्ज राजीव निरीक्षक के निर्देश पर उप निरीक्षक दिनेश कुमार की टीम ने 6 किलो 280 ग्राम अफीम सहित सीआरपीएफ के जवान उमेदा राम पुत्र भवर लाल और मुकेश को पकड़ा है। पुलिस अधीक्षक आस्था मोदी ने बताया कि पुलिस को गुप्त सूचना मिली कि सीआरपीएफ का जवान उमेदा राम पुत्र भवर लाल वासी फुलासर जिला बीकानेर राजस्थान व मुकेश निवासी नीमच मध्य प्रदेश नशीला पदार्थ लेकर कुरुक्षेत्र में सप्लाई करने के लिए ट्रेन से छोटे स्टेशन की तरफ आने वाले हैं।

पुलिस ने नाकाबंदी करके मुखबिर के इशारे पर दोनों को बिरला मंदिर पर काबू कर लिया। चेक करने पर उनके पास नशीला पदार्थ अफीम मिली। अफीम का वजन डब्बे सहित 6 किलो 990 ग्राम हुआ। उन्होंने बताया कि इसमें 6 किलो 280 ग्राम अफीम है। पूछताछ पर बताया कि उमेदा राम सीआरपीएफ में नीमच में तैनात था। उस दौरान उसकी मुलाकात टैक्सी ड्राइवर मुकेश के साथ हो गई थी। नीमच में अफीम का काफी कारोबार है। उन दोनों ने आपस में मिलकर हरियाणा, पंजाब तथा चंडीगढ़ में सप्लाई करनी शुरू कर दी। उसको जहां भी यह लगता था कि वह फंसने वाले हैं तो सीआरपीएफ आई कार्ड दिखा देता था।

Next Story