Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

रेलवे स्टेशन पर जवानों के चेकिंग अभियान से यात्रियों में हड़कंप, फायर ब्रिगेड व एम्बुलेंस रही तैनात

आरपीएफ असिस्टेंट कमांडो की अगुवाई में विभिन्न प्लेटफॉर्म पर जांच अभियान चलाया गया। इस दौरान यात्रियों के सामान की जांच करने के साथ ट्रेनों में यात्रियों को अपने सामान की सुरक्षा करने, संदिग्ध वस्तुओं को नहीं छूने, लावारिस वस्तु मिलने पर तुरंत सूचित करने, जहरखुरानी से बचने आदि के बारे में जागरूक किया गया।

Demo pictureDemo picture

दशहरे के पर्व पर रेलवे स्टेशन उड़ाने की धमकी के बाद मंगलवार को स्टेशन पर हाई अलर्ट रहा पूरा दिन जीआरपी और सीआरपी जवानों की तैनाती रही। रेलवे स्टेशन पर जवानों ने चप्पे-चप्पे की चेकिंग की। वहीं, रेलवे स्टेशन पर आने-जाने वाले यात्री के सामान की जांच की गई।

रेलवे स्टेशन के गेट से लेकर सभी प्लेटफार्म पर करीब 60 जवानों के चेकिंग और गश्त करने से यात्रियों में हड़कंप मच गया। पूरा दिन स्टेशन पर जीआरपी और आरपीएफ के जवान तैनात रहे। साथ ही स्टेशन पर कई फायर ब्रिगेड और एंबुलेंस भी तैनात रही।

14 सितंबर को रोहतक रेलवे स्टेशन प्रबंधन के माध्यम से धमकी भरा पत्र जारी होने के बाद रेलवे प्रशासन किसी प्रकार के कोताही बरतने के मूड में नहीं है। सुरक्षा व्यवस्था दुरुस्त कराने के लिए रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ), राजकीय रेलवे पुलिस (जीआरपी)ने जांच अभियान चलाया गया।

आरपीएफ असिस्टेंट कमांडो की अगुवाई में विभिन्न प्लेटफॉर्म पर जांच अभियान चलाया गया। इस दौरान यात्रियों के सामान की जांच करने के साथ ट्रेनों में यात्रियों को अपने सामान की सुरक्षा करने, संदिग्ध वस्तुओं को नहीं छूने, लावारिस वस्तु मिलने पर तुरंत सूचित करने, जहरखुरानी से बचने आदि के बारे में जागरूक किया गया।

स्टेशन पर ब्लास्ट करने की धमकी के बाद मंगलवार को दिन भर स्टेशन परिसर छावनी में बदला रहा। सुबह से ही स्टेशन के मुख्य गेट पर जीआरपी द्वारा बेरिकेडिंग करते हुए प्रत्येक आने जाने वाले पर नजर रखी जा रही थी। जबकि सुबह करीब 11.30 बजे जीआरपी के 40 जवान, आरपीएफ के 10 जवान, 10 कोरस कमांडो, 20 सीआरपी के जवानों समेत सिटी थाना पुलिस ने स्टेशन पर पहुंचकर सघन चेकिंग अभियान चलाया। प्रत्येक संदिग्ध व्यक्ति की गहनता से तलाशी लेने के बाद उसे रवाना किया गया।

रेलवे स्टेशन पर किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए फायर ब्रिगेड और एंबुलेंस तैनात रही। किसी भी आगजनी की घटना से निपटने के लिए 12 हजार लीटर पानी से भरी फायर ब्रिगेड और सिविल अस्पताल की आधुनिक सुविधाओं से लैस एंबुलेंस दिन भर स्टेशन पर तैनात रही।

धमकी के बाद स्टेशन पर लगातार चेकिंग अभियान चलाया गया जा रहा है। स्टेशन पर कोई भी संदिग्ध व्यक्ति नहीं दिखाई दिया। साथ ही स्टेशन के गेट से लेकर प्लेटफार्म व रेलगाड़ियों में भी चेकिंग की जा रही है। स्नेहीराज, थाना प्रभारी जीआरपी

Next Story
Top