Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

खाना खिलाने से बचने के लिए ठेकेदार ने ट्वीट किया मजदूर भूखे हैं, पुलिस ने भेज दिया जेल

सांपला के हसनगढ़ स्थित एक फैक्ट्री के ठेकेदार द्वारा ट्वीटर पर मजदूरोें के भूखा रहने की शिकायत करने का मामला सामने आया है। शिकायत की जांच करने पर मामला झूूठा पाया गया है। सांपला पुलिस ने केस दर्ज कर आरोपित को गिरफ्तार किया है। इससे पहले सिविल लाइन पुलिस ने भी झूठा मैसेज वायरल करने पर एक युुवक पर केस दर्ज किया था। युवक ने डीसी के नाम से ताश खेलने वालों पर जुर्माना लगाने के फर्जी आदेश का मैसेज वायरल कर दिया था।

खाना खिलाने से बचने के लिए ठेकेदार ने ट्वीट किया मजदूर भूखे हैं, पुलिस ने भेज दिया जेल

सांपला के हसनगढ़ स्थित एक फैक्ट्री के ठेकेदार द्वारा ट्वीटर पर मजदूरोें के भूखा रहने की शिकायत करने का मामला सामने आया है। शिकायत की जांच करने पर मामला झूूठा पाया गया है। सांपला पुलिस ने केस दर्ज कर आरोपित को गिरफ्तार किया है। इससे पहले सिविल लाइन पुलिस ने भी झूठा मैसेज वायरल करने पर एक युुवक पर केस दर्ज किया था। युवक ने डीसी के नाम से ताश खेलने वालों पर जुर्माना लगाने के फर्जी आदेश का मैसेज वायरल कर दिया था।

ये की थी शिकायत

मनीष यादव ने 31 मार्च को ट्वीट किया कि सांपला के पास गांधरा गांव में सैकड़ाें की संख्या में मजदूर भूखे मर रहेे। अब तक उनकी किसी ने कोई मदद नहीं की। कृपा जल्द ही उनकी समस्या का समाधान किया जाए। ट्वीट को सीएम, डिप्टी सीएम, जेजेपी समेत कांग्रेस नेता दिपेंद्र हुड्डा को शिकायत की गई थी। आलाधिकारियों के आदेश पर एसडीएम ने मामले की जांच की तो भेद खुल गया।

पुलिस को दी शिकायत में राजबीर सिंह पटवारी ने बताया कि वह हल्का गांधरा तहसील सांपला में तैनात हैं। 31 मार्च को एक शिकायत ट्वीटर के माध्यम से एसडीएम सांपला को मिली। शिकायत की जांच करने के लिए एसडीएम की तरफ से उन्हें मौके पर भेजा गया। उन्होंने सरपंच ग्राम गांधरा व ग्राम सचिव गांधरा की माैजूदगी में मजदूरों से पूूछताछ की। उनमें से कोई भूखा नहीं मिला। मनीष यादव ने अपने मोबाइल नम्बर 9728664556 से झूठी सूचना ट्वीटर पर भेेजी गई हैै। सांपला थाना में आरोपित पर केस दर्ज किया गया हैै।

सांपला थाना एसएचओ कुलबीर सिंह ने कहा कि मनीष यादव फैक्ट्री में ठेकेदार है। उसने अपने रुपये बचाने के लिए प्रशासन से राशन की मदद लेनी चाही। जिसके लिए उसने झूठी शिकायत दी। मौैके का निरीक्षण करने पर खाने की कोई कमी नहीं पाई गई। आरोपित पर केस दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया गया है जिसे जमानत मिल गई है।


Next Story
Top