Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

भूपेंद्र हुड्डा की वजह से होगा कांग्रेस को नुकसान, उनके दवाब के आगे उनकी पार्टी ने टेक दिए घुटनेः कैप्टन अभिमन्यु

हरियाणा सरकार में वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु (Captain Abhimanyu) ने एक साक्षात्कार (Interview) के दौरान विपक्ष पर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि लोग जातीय, वंशवाद व क्षेत्रीय राजनीति नहीं चाहते। प्रदेश में चुनावी माहौल (Election Environment) पूरी तरह भाजपा के पक्ष में है।

महाराजा सूरजमल का साथ लिया होता तो देश का इतिहास अलग होता: कैप्टन अभिमन्युहरियाणा पूर्व मंत्री कैंप्टन अभिमन्यू (फाइल)

चुनाव आयोग ने हरियाणा विधानसभा चुनाव (Haryana Assembly Election) की तारीख घोषित कर दी है। सभी राजनीतिक दल हरियाणा विधानसभा चुनाव की तैयारियों में जुटे हुए हैं। सारे राजनीतिक दल अपनी पार्टी के लिए ज्यादा से ज्यादा सीटें सुरक्षित करने के लिए प्रभावी रणनीतियां बना रहे हैं। चुनावी माहौल में हरियाणा सरकार (Haryana Government) में वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु ने कहा कि कांग्रेस को पूर्व मुख्यमंत्री हुड्डा (Ex CM Hudda) की वजह से नुकसान होगा। उनके दवाब के आगे झुककर उनकी पार्टी ने घुटने टेक दिए हैं। कांग्रेस ने हरियाणा में उन्हें चेहरा बनाकर ऐसी धारणा बनाई है कि पार्टी पूरी तरह से केवल उनके ऊपर निर्भर है।

हाल ही में कैप्टन अभिमन्यु (Captain Abhimanyu) ने एक साक्षात्कार (Interview) के दौरान पूछे गए सवालों पर बेबाक व स्पष्ट जवाब दिए हैं। पूर्व सीएम हुड्डा का हरियाणा चुनाव में कांग्रेस के मुख्य नेता के तौर पर उभरने से भाजपा की चुनावी संभावनाओं पर क्या फर्क पड़ सकता है? इसका जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि विधानसभा चुनाव में हुड्डा के पुनरुत्थान की वजह से कांग्रेस को भारी नुकसान का सामना करना पड़ सकता है। हुड्डा आर्टिकल 370 व अन्य मुद्दों पर अपनी पार्टी की विचारधारा के खिलाफ खड़े रहे हैं। लेकिन कांग्रेस पार्टी ने फिर भी उनकी ब्लैकमेल की चाल व दवाब के आगे घुटने टेक दिए।

खुद को साबित किया है सीएम खट्टर ने

हरियाणा सीएम मनोहर लाल खट्टर (CM Manohar Lal Khattar) के बारे में कैप्टन अभिमन्यु ने कहा कि 2019 विधानसभा चुनाव में मनोहर लाल खट्टर ही हमारे कैप्टन हैं। उन्होंने पिछले पांच वर्षों में खुद को कई बार साबित किया है। कैप्टन अभिमन्यु ने कहा कि खट्टर ने 2014 के बाद हरियाणा में केवल सरकार नहीं बदली बल्कि व्यवस्था बदलने की कोशिश की है। वहीं अपनी पार्टियां छोड़कर भाजपा की सदस्यता लेने वालों के संबंध में कैप्टन ने कहा कि राज्य के लोग व नेता वंशवादी राजनीति के खिलाफ हैं। नेताओं ने भाजपा की सदस्यता ली है क्योंकि वह तीन बीमारियों से निजात चाहते हैं जो कि हैं- जाति, वंशवाद व क्षेत्रीय राजनीति। अजय सुरा का भाजपा में शामिल होना लोगों के मूड को दर्शाता है।

जाट आंदोलन की हिंसा बनेगी कांग्रेस की हार का कारण

कैप्टन अभिमन्यु से पूछा गया कि 2016 में जाट कोटा की मांग को लेकर हुई हिंसा का आने वाले चुनाव पर कोई असर पड़ सकता है। जवाब में उन्होंने कहा कि यह सबके सामने स्पष्ट हो चुका है कि पूर्व मु्ख्यमंत्री व उनकी टीम उस हिंसा में शामिल थी। उस घटना की यादों का वजन अभी भी लोगों के दिमाग पर है। यह पक्का है कि उस घटना की वजह से उसमें शामिल लोगों को चुनाव में हार का सामना करना पड़ेगा।

जजपा को नहीं किया समाज ने स्वीकार

दुष्यंत चौटाला की जननायक जनता पार्टी के आगामी विधानसभा चुनाव में प्रदर्शन के बारे में पूछने पर कैप्टन ने कहा कि मुझे लगता है कि उन्हें समाज ने स्वीकार नहीं किया है। दुष्यंत केवल अपने परिवार-दादा की खड़ी की हुई पार्टी की बदौलत सांसद बन पाए हैं। लेकिन उन्होंने परिवार-पार्टी दोनों को ही धोखा दिया है। कैप्टन अभिमन्यु ने कहा कि हरियाणा के हमारे समाज में परिवार व सामाजिक मानदंड को ऊंचे पायदान पर रखा जाता है। लेकिन जेजेपी के संस्थापक दोनों में विफल रहे।

लोगों की नजरों में अपनी साख खो चुका है विपक्ष

कैप्टन अभिमन्यु से पूछा गया क्या आपको लगता है कि पिछले पांच वर्षों में राज्य में विपक्ष कमजोर हो गया है। तो उन्होंने कहा कि मुझे लगता है कि पिछले पांच वर्षों में विपक्ष किसी तरह का मुद्दा नहीं उठा सका। इसका कारण है केवल यह नहीं है कि विपक्ष लोगों की नब्ज नहीं पहचान पाया बल्कि लोगों की नजरों में अपनी साख भी खो चुका है। विपक्ष में कुछ लोग अपने महलों से बाहर नहीं आ सके। यह कारण है कि राज्य में वातावरण पूर्ण रूप से भाजपा के पक्ष में है।

Next Story
Top