Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

अंग्रेजों के लाल डोरे का सिस्टम हरियाणा के बाद पूरे देश में खत्म होगा

हरियाणा के पूर्व राजस्व मंत्री कैप्टन अभिमन्यु के समय में इसको खत्म करने के प्रयास शुरू हुए थे और अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसे पूरे देश से खत्म करने के लिए स्वामित्व योजना की शुरुआत की है।

सरकार की नीतियों से जनता को मिल रहा सीधा रहा लाभ, फिर से बनेगी पूर्ण बहुमत की सरकार : कैप्टन अभिमन्यु
X
Captain Abhimanyu said haryana people full support bjp rebuild with heavy majority

हरिभूमि ब्यूरो। चंडीगढ।हरियाणा के बाद अब देश भर के लाखों गाँवों में रहने वाले करोडों ग्रामीणों को बडा तोहफा मिलेगा। केंद्र सरकार ने हरियाणा सरकार द्वारा लागू की गई एक योजना को देश भर में लागू करते हुए गाँवों से लाल डोरा को ख़त्म करने की दिशा में कदम बढ़ा दिए हैं। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को इस महत्वपूर्ण 'स्वामित्व योजना' की शुरुआत की है। हरियाणा के पूर्व राजस्व मंत्री कैप्टन अभिमन्यु ने सरकार के इस कदम के लिए प्रधानमंत्री का आभार जताते हुए कहा कि अब देश भर के करोडों ग्रामीणों को इस योजना का लाभ मिलेगा और वे गॉंवों में लाल डोरा के अंदर स्थित अपनी प्रोपर्टी का रजिस्ट्रेशन करवा सकेंग।

हरियाणा के पूर्व राजस्व मंत्री कैप्टन अभिमन्यु ने बताया कि लाल डोरा सिस्टम को अंग्रेजों ने सन 1908 में बनाया था। उस समय रेवेन्यू रिकॉर्ड रखने के लिए खेतीबाड़ी की जमीन के साथ गाँव की आबादी को अलग-अलग दिखाने के मकसद से नक़्शे पर आबादी के बाहर लाल लाइन खिंच दी जाती थी। चूँकि इस जमीन के कागज़ तो होते नहीं इसलिए लाल डोरे के अंदर जमीन या घर पर जिसका कब्ज़ा वही उसका मालिक होता है जबकि लाल डोरे से बाहर की जमीन के अलग अलग नंबर होते हैं और वह किसी न किसी के नाम रजिस्टर्ड भी होती है। उनके राजस्व मंत्री रहते हुए हरियाणा सरकार ने लाल डोरा खत्म करने की योजना पर लगातार कार्य किया था।

कैप्टन अभिमन्यु ने बताया कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने करीब तीन साल पहले उनकी अध्यक्षता में एक कैबिनेट सब कमेटी बनाई थी। इस सब कमेटी की कई बैठकों और विचार विमर्श के बाद एक रिपोर्ट सरकार को सौंपी थी जिसकी सिफ़ारिशों के बाद हरियाणा की तत्काल कैबिनेट ने गांवों की तमाम जमीनें लाल डोरे के दायरे से बाहर निकालने के प्रस्ताव को सैद्धांतिक मंजूरी दे दी थी।

कैप्टन अभिमन्यु ने बताया कि हरियाणा सरकार ने गांवो को लाल डोरा से मुक्त करने के लिए ड्रोन कैमरों और नई तकनीक से ग्रामीणो के मकान व प्लाटों की मैपिंग कर उसका डिजिटल नक्शा तैयार करने का काम भारत सरकार की संस्था सर्वे जरनल ऑफ इंडिया को अपने कार्यकाल में दे दिया था. लाल डोरा खत्म होने से हरियाणा के बाद अब देश भर की गॉंवों में बसने वाली करीब 60 प्रतिशत आबादी को सीधा फायदा होगा. लाल डोरे के दायरे में आने वाली तमाम प्रॉपर्टी की रजिस्ट्री हो सकेगी और भू-संपत्तियों की खरीद-फरोख्त शुरू होने के साथ ही जमीन की मार्केट क़ीमत में इजाफा होगा। कैप्टन अभिमन्यु ने बताया कि गॉंवों की प्रोपर्टी की रजिस्टी होने से जहॉं ग्रामीण इस प्रोपर्टी पर लेन ले सकेंगे वहीं इस पर बेजह होने वाले झगडे भी खत्म होंगे।

Next Story