Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

कम राशि का एस्टीमेंट बनाने के लिए 10 हजार मांगने के आरोपी जेई को किया चार्जशीट

सोनीपत में मकान के आगे से ट्रांसफार्मर शिफ्ट करने के लिए जेई को रिश्वत मांगना भारी पड़ गया। रिश्वत के आरोप में जेई पर कार्रवाई करते हुए चार्जशीट किया गया है।

कम राशि का एस्टीमेंट बनाने के लिए 10 हजार मांगने के आरोपी जेई को किया चार्जशीटजेई को रिश्वत मांगना पड़ा भारी (सांकेतिक फोटो)

सोनीपत में मकान के आगे से ट्रांसफार्मर शिफ्ट करने के लिये रिश्वत मांगना जेई के लिए मुसीबत बना गया है। जेई ने कम राशि का एस्टीमेट बनाकर 10 हजार रुपये की रिश्वत मांगी थी। रिश्वत नहीं देने पर एस्टीमेट कई गुणा बढ़ा दिया। मामले का खुलासा होने के बाद जेई पर कार्रवाई करते हुए चार्जशीट किया गया है।

जिला परिवाद एवं कष्ट निवारण समिति की बैठक में मंत्री मूलचंद शर्मा ने शनिवार को कार्रवाई की है। कतलूपुर के अमित की शिकायत में कहा गया था कि उनके घर के गेट के सामने एक ट्रांसफार्मर लगा था, जिसे शिफ्ट कराने के लिए बिजली निगम में संपर्क किया तो उनको एस्टीमेट 26 हजार 134 रुपये बनाकर दिया गया।

आरोप है कि उससे दस हजार रुपये की रिश्वत भी मांगी गई, लेकिन जब उसने रिश्वत नहीं दी तो उसकी फाइल कैंसिल कर दी और दोबारा से एस्टीमेट 66 हजार रुपये का बना दिया। जिसके बाद रुपये जमा कराए तो पुराना सामान लगा दिया गया।

इस मामले में उसने कई बार बिजली निगम के अधिकारियों के पास शिकायत की, लेकिन उसके मामले को दबा दिया गया था। यह मामला मंत्री के सामने आया तो एक्सईएन जेसी शर्मा ने बताया कि जांच में जेई दोषी मिला है और उस पर लगे सभी आरोप में उसे चार्जशीट कर दिया गया है।

जिसमें कष्ट निवारण समिति के सदस्यों ने आरोप लगाया कि इस तरह से केवल एक जेई पर पूरा मामला डाला जा रहा है, जबकि इसमें अधिकारियों की लापरवाही भी सामने आई है और उन पर भी कार्रवाई होनी चाहिए। जिसमें मंत्री ने अधिकारियों को इस तरह का मामला दोबारा आने पर कार्रवाई की चेतावनी दी।





Next Story
Top