Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

ओलावृष्टि से बर्बाद हुई फसल के नुकसान के लिए करें आवेदन

कृषि विभाग के रादौर कार्यालय में रविवार को भी किसानों ने नुक्सान की भरपाई के लिए किया आवेदन

पीएम फसल बीमा योजना में किए गए बदलाव, कृषि कार्डधारक किसानों को होगा ये फायदा
X
प्रतीकात्मक फोटो
हरिभूमि न्यूज. रादौर। कृषि विभाग द्वारा ओलावृष्टि से बर्बाद हुई फसलों के नुक्सान की भरपाई के लिए किसानों से रविवार को भी आवेदन लिए गए। रादौर खंड में अब तक नुक्सान की भरपाई के लिए 250 किसान आवेदन कर चुके हैं। कृषि विभाग के अधिकारियों ने किसानों को ओलावृष्टि से बर्बाद हुई फसलों का 72 घंटों के भीतर आवेदन करने की अपील की है।

कृषि विभाग के प्रोजेक्ट अधिकारी दीपेंद्र सिंह ने बताया कि ओलावृष्टि व बारिश से जिन किसानों की फसलों को नुक्सान पहुंचा है। कृषि विभाग उनके नुक्सान की भरपाई के लिए आवेदन ले रहा है। उन्होंने बताया कि रविवार को भी रादौर के कृषि कार्यालय में किसानों से आवेदन लिए गए। दीपेंद्र सिंह ने बताया कि जिन किसानों की फसलों को नुक्सान पहुंचा है वह अपना आधार कार्ड, बैंक की पासबुक की फोटो प्रति, किला नंबर की फोटो प्रति के साथ कृषि विभाग के कार्यालय में 72 घंटे के भीतर अपना आवेदन दे सकते हैं। आवेदन जमा होने के बाद खेतों का सर्वे किया जाएगा।

सर्वे में नुक्सान का आंकलन करके रिपोर्ट तैयार की जाएगी। उन्होंने बताया कि बीमा कंपनी की ओर से किसान को मुआवजा देने में करीब दो से तीन महीने का समय लगता है। इसलिए जिन किसानों की फसलें बर्बाद हुई हैं वह अपना आवेदन जल्द ही कृषि कार्यालय में जमा करवाएं। दीपेंद्र सिंह ने बताया कि अभी तक रादौर खंड में 250 किसानों ने अपनी फसलों के नुक्सान की भरपाई किए जाने के लिए आवेदन किया है। अभी आवेदन करने वालों की संख्या बढ़ने की उम्मीद है।

Next Story