Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने किया एपीएल परिवारों के लिए भी मुफ्त में राशन का ऐलान

हरियाणा के सीएम मनोहर लाल ने प्रदेशवासियों को घर बैठे सुविधा प्रदान करने के लिए एक एप लॉन्च कर राज्य के एक लाख 40 हजार एपीएल कार्ड धारकों के लिए भी मुफ्त में राशन का ऐलान कर दिया है।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने किया एपीएल परिवारों के लिए भी मुफ्त में राशन का ऐलान
X

Chief Minister Manohar Lal ने प्रदेशवासियों को घर बैठे सुविधा प्रदान करने के लिए एक एप लॉन्च किया जिसका हर वर्ग फायदा उठा सकेगा। उन्होंने कहा कि हरियाणा कोरोना वायरस संक्रमण पर नियंत्रण के लिए लगातार आगे बढ़ रहा है, बाकी राज्यों के मुकाबले तुम्हारी स्थिति ठीक है। सीएम ने राज्य के एक लाख 40 हजार एपीएल कार्ड धारकों के लिए भी मुफ्त में राशन का ऐलान कर दिया है।

मुख्यमंत्री ने बताया कि केरल राज्य के मुकाबले हरियाणा दूसरे नंबर पर है। हरियाणा में बाकी राज्यों के मुकाबले कोरोना वायरस पॉजिटिव केस डबल होने में 18 दिन का समय लग रहा है। बाकी राज्यों में यह 7 दिन में डबल हो रहे हैं। हरियाणा राज्य में एपीएल कार्ड धारकों को भी अब फ्री में राशन देने की व्यवस्था की जा रही है। इनकी संख्या एक लाख 40 हजार बताई गई है। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में सशर्त दुकानें खोलने की पहल की जाएगी, जो लोग इसके लिए अप्लाई करेंगे।

चुनौती का समय अवसर भी

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने बताया कि हमने पूरे प्रदेश में कमेटियों का गठन किया है। जिसमें समाजसेवियों संस्थाओं और सरकारी कर्मचारियों सभी को शामिल किया गया है। इस चुनौतीपूर्ण समय व लाक डाउन के दौरान भी हम इसे पॉजिटिव लेकर एक अवसर मान सकते हैं। उन्होंने इस महामारी और चुनौतीपूर्ण समय में आगे आने की अपील की साथ ही कहा कि जिला प्रशासन के सहयोग से वह समाज हित के कई काम कर सकते हैं।

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने शनिवार को प्रदेशवासियों को संबोधित किया साथ ही कहा कि इस चुनौतीपूर्ण समय में हम प्रदेश के लोगों की भरपूर मदद करने का प्रयास कर रहे हैं। इसके लिए अपने गांव गांव में कॉमन सर्विस सेंटर और आईटी की मदद ली है। लोगों को एक ऐप दी गई है जिसमें कई तरह से सरकार मदद करने का काम करेगी।



हरियाणा के मुख्यमंत्री ने बताया कि हर रोज 6 से सात हजार कॉल हमारे पास विभिन्न समस्याओं को लेकर आ रही हैं। जिसमें कई प्रकार की समस्याएं जनता की आती हैं और उन को हल करने का प्रयास किया जाता है।

जनसहायक बनेगा एप

यह एप जनसहायक बनेगा और दूसरे भी किसी परिवार की मदद कर सकते हैं। इस एप में कोरोना संक्रमण रिलीफ फंड में पैसा देने के लिए के अलावा किसी प्रकार की आवश्यकता की पूर्ति करेगी। इस संबंध में एडिशनल पीएससीएम बी उमाशंकर ने भी अपनी बात रखी। उन्होंने बताया कि हरियाणा के नागरिक ने इसे तैयार किया है जिसमें एक एचसीएस स्तर का अधिकारी भी शामिल है। जिन लोगों को राशन की जरूरत है, या डॉक्टर की जरूरत है। टेलीमेडिसिन और एंबुलेंस बुलाने के लिए भी यह कारगर साबित होगी। लॉक डाउन के टाइम में इस साइट से बच्चे अपने लर्निंग की समस्याओं से भी निपट सकते हैं। इस एप के माध्यम से बैंकों से समय लिया जाएगा और अन्य भी कई तरह की समस्याओं का हल होगा। अंग्रेजी हिंदी दोनों भाषाओं में इस एप का प्रयोग हो सकेगा, कैश मंगाने के लिए भी इस ऐप का सहयोग लिया जा सकता है।

Next Story