Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Haryana: अब सभी बारबर शॉप, सैलून व ब्यूटी पार्लर खोलने की छूट, साप्ताहिक अवकाश को भी खुलेंगे बाजार

हरियाणा सरकार( Haryana Government ) ने 18 मई को बाजार खोलने की छूट दी थी। लेकिन कुछ चीजें स्पष्ट नहीं थीं। अब नगर निकाय विभाग ने नई गाइडलाइन जारी की। वहीं मैरिज व बैंक्वेट हॉल में भी समारोह(Function) के लिए लगा प्रतिबंध हटा दिया है।

सोनीपत : किराना की दुकानें खुलने का समय बदला, अब सुबह 10 बजे से मिलेगा सामान

हरियाणा सरकार(Government of Haryana) ने अब सभी शॉप, सैलून और ब्यूटी पार्लर खुलने की अनुमति दे दी है। इसके लिए गाइडलाइन (Guideline) भी जारी की गई हैं। वहीं ग्राहक के लिए टोकन सिस्टम या अपाइंटमेंट सिस्टम लागू किया जाएगा। वहीं, सरकार ने शहरों में बाजारों के रविवार या अन्य किसी दिन होने वाले साप्ताहिक अवकाश को भी खत्म कर दिया है। इसी प्रकार प्रदेश सरकार ने मैरिज व बैंक्वेट हॉल में भी समारोह के लिए लगा प्रतिबंध(Restriction) हटा दिया है। मैरिज-बैंक्वेंट हॉल में किसी भी समारोह के आयोजन से पहले संबंधित जिले के डीसी या किसी भी अथॉरिटी से अनुमति लेनी जरूरी होगी। वहां 50 से ज्यादा गेस्ट की अनुमति नहीं होगी।

बता दें कि प्रदेश सरकार ने 18 मई को बाजार खोलने की छूट दी थीद्लेध किन कुछ चीजें स्पष्ट नहीं थीं। ऐसे में जिलों के उपायुक्त इन्हें लेकर असमंजस में थे। अब नगर निकाय विभाग ने नई गाइडलाइन जारी की है। गाइडलाइन में बारबर शॉप, सैलून व ब्यूटी पार्लर में बुखार, सर्दी-जुकाम, खांसी से पीड़ित को प्रवेश नहीं मिलेगा। प्रत्येक ग्राहक के इस्तेमाल के बाद दुकान के सभी इक्यूपमेंट सैनिटाइज करने होंगे। मास्क के बिना किसी को अंदर नहीं आने दिया जाए।

इसी तरह मैरिज-बैंक्वेंट मैरिज-बैंक्वेंट हॉल में किसी भी समारोह में नाम, पता व फोन नंबर दर्ज करने होंगे। एंट्री पॉइंट पर सैनिटाइजर की व्यवस्था रखनी होगी. थर्मल स्क्रीनिंग होगी. 99.50 फारेनहाइट फीवर होने पर व्यक्ति को एंट्री नहीं मिलेगी। वहीं सभी गेस्ट मास्क लगाए हुए हों और मोबाइल में आरोग्य सेतु एप होना चाहिए।

अब कैब टैक्सी चालक भी दो यात्रियों को बैठा सकेंगे

हरियाणा सरकार ने लॉकडाउन-4.0 की अवधि के लिए जनसाधारण को आवागमन में राहत देते हुए टैक्सी, कैब एग्रीगेटर, मैक्सी कैब और ऑटो रिक्शा चलाने के संबंध में दिशानिर्देश जारी किए हैं । हरियाणा के परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा ने बताया कि टैक्सी और कैब एग्रीगेटर को चालक के अलावा दो व्यक्तियों के साथ चलने की अनुमति होगी। इस तरह कुल मिलाकर वाहन में 3 व्यक्ति यात्रा कर सकेंगे। मैक्सी कैब अपनी बैठने की क्षमता के आधे लोगों के साथ चलाई जा सकती हैं। ऑटो रिक्शा और ई-रिक्शा में चालक के अलावा 2 व्यक्तियों के बैठने की अनुमति दी गई है। इसी तरह दुपहिया वाहनों पर 'वन पिलर राइडर को अनुमति दी जाएगी और दोनों व्यक्तियों के लिए हेलमेट, मास्क और दस्ताने पहनना अनिवार्य होगा। हाथ से संचालित (मैनुअली ड्राइवन) रिक्शा में 2 से अधिक यात्रियों को नहीं बैठाया जाएगा।

Next Story
Top