Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

ED ने मोती लाल वोरा और भूपेंद्र सिंह हुड्डा के खिलाफ दायर की चार्जशीट, जानिए पूरा मामला

सोमवार को प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने एसोसिएटेड जर्नल्स लिमिटेड (AJL) को पंचकूला भूमि आवंटन मामले में बड़ी कार्रवाई की है। ईडी ने अपनी पहली चार्जशीट दायर की है। इस चार्जशीट में कांग्रेस नेता मोतीलाल वोरा और हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा का नाम शामिल है।

ED ने मोती लाल वोरा और भूपेंद्र सिंह हुड्डा के खिलाफ दायर की चार्जशीट, जानिए पूरा मामला
X

सोमवार को प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने एसोसिएटेड जर्नल्स लिमिटेड (AJL) को पंचकूला भूमि आवंटन मामले में बड़ी कार्रवाई की है। ईडी ने अपनी पहली चार्जशीट दायर की है। इस चार्जशीट में कांग्रेस नेता मोतीलाल वोरा और हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा का नाम शामिल है।

ईडी ने चार्जशीट पंचकूला स्थित स्पेशल पीएमएलए कोर्ट में चार्जशीट दायर की है। बता दें कि भूपेंद्र सिंह हुड्डा उस समय हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण के चेयरमैन थे। जबकि मोती लाल वोरा एसोसिएटेड जर्नल्स लिमिटेड हाउस के चेयरमैन थे।

क्या था मामला

यह मामला साल 1992 में तत्कालीन सरकार द्वारा पंचकूला में सी-17 स्थित एक प्लॉट का आवंटन एजेएल को करने में कथित अनियमितताओं और मनी लॉन्ड्रिंग के आरोपों से जुड़ा है। एसोसिएटेड जर्नल्स लिमिटेड (एजेएल) का गांधी परिवार समेत कांग्रेस नेताओं के हाथ में है। एजेएल समूह नेशनल हेराल्ड नाम के समाचार पत्र का प्रकाशन भी करता है।

इस मामले में ईडी प्लॉट को पहले ही कुर्क कर चुका है। इसका मूल्य करीब 64.93 करोड़ रुपये आंका गया है। ईडी द्वारा इस मामले में दाखिल की गई यह पहली चार्जशीट है।

पूर्व सीएम हुड्डा पर है ये आरोप

पूर्व मुख्यमंत्री हुड्डा पर आरोप है कि उन्होंने मुख्यमंत्री रहते हुए नेशनल हेराल्ड की सब्सिडी एसोसिएटेड जर्नल्स लिमिटेड को 2005 में 1982 की दरों पर आवंटित करवाया था। हुड्डा और एजेएल के पदाधिकारियों पर 2005 में अवैध तरीके से भूमि को फिर से आवंटित करने का आरोप है। पंचकूला के सेक्टर छह में 29 जून 2005 को एजेएल को फिर से आवंटित कर दिया गया था। यह भूमि करीब 3360 वर्गमीटर थी।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story