Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

Fact Check : क्या सच में जन्मदिन की पार्टी मातम में बदली गई, जानें वायरल वीडियो का पूरा सच

सोशल मीडिया पर इन दिनों एक वीडियो खूब वायरल हो रहा है। वीडियो में कुछ लड़के बर्थडे पार्टी का आनंद लेते हुए अपने दोस्त को लात-घूसों से जमकर पीट रहे हैं।

Fact Check : क्या सच में जन्मदिन की पार्टी मातम में बदली गई, जानें वायरल वीडियो का पूरा सच

सोशल मीडिया पर इन दिनों एक वीडियो खूब वायरल हो रहा है। वीडियो में कुछ लड़के बर्थडे पार्टी का आनंद लेते हुए अपने दोस्त को लात-घूसों से खूब पीट रहे हैं। जिस लड़के की पिटाई हो रही है उसी का जन्मदिन है। दोस्तों ने 'बर्थडे बम्प' के नाम पर इतनी पिटाई कर दी की उस लड़के की मौत हो गई। लात-घूसे बरसाते वक्त सभी हंसी मजाक के मूड में दिख रहे हैं। पिटाई खत्म होती है, लड़का दर्द से कराहता हुआ खड़ा होता है और वीडियो खत्म हो जाती है।

इस वीडियो को लेकर सोशल मीडिया पर चर्चा है कि जिस लड़के की पिटाई हो रही थी उसका जन्मदिन था और जन्मदिन के दिन दोस्तों ने मिलकर 'बर्थडे बम्प' के नाम पर इतना पीट दिया कि उसकी मौत हो गई। कहा जाता है कि बर्थडे बंप पर दोस्त मजाक में थोड़ी-बहुत पिटाई करके जन्मदिन की बधाई देते हैं।

इस वीडियो को पूर्व क्रिकेटर वीरेन्द्र सहवाग व एक न्यूज चैनल समेत कई लोगों ने मौत की बात कहते हुए शेयर किया था। सोशल मीडिया पर यह वीडियो लगातार वायरल हो रहा है। जिसमें लोग लड़के की मौत का जिक्र कर रहे हैं। हरिभूमि की जांच में यह पाया कि लड़के की मौत नहीं हुई थी, यह खबर बिल्कुल फेक है। एक मीडिया चैनल ने लड़के से सीधे बात कर यह जानकारी दिया कि वह लड़का बिल्कुल स्वस्थ है।



क्रिकेटर सेहवाग के शेयर किए हुए ट्वीट पर रघुराज सिंह नाम के एक लड़के ने कमेंट किया कि ये खबर फेक है। लड़के ने बताया कि मार खाने वाला लड़का उसी के कॉलेज का है और उसे कुछ भी नहीं हुआ है। लड़के के इस ट्वीट के बाद सहवाग ने अपना ट्वीट तुरंत डिलीट कर दिया।

कमेंट करने वाले लड़के पर भी जांच की गई जिसमें पाया गया कि रघुराज सिंह नाम का लड़का सच में उसी कॉलेज का छात्र है जिसमें वह लड़का पढ़ता है। जांच में यह भी पता लगा कि रघुराज पूर्व सोवियत रूस के एक देश किर्गिस्तान में पढ़ता है। रघुराज के फेसबुक प्रोफाइल से प्राप्त जानकारी के अनुसार वह लड़का कई जगह उसके साथ है। एक ग्रुप फोटो भी मिला जिसमें दोनों साथ में मौजूद थे।


फेसबुक पर कथित मृत लड़के के एक दोस्त दीपक आंजना से पूछताछ किया गया, जिसने कहा कि हम लोग राजधानी बिशकेक के एक कॉलेज में पढ़ते हैं। जब से यह वीडियो वायरल हुआ है तब से कॉलेज में तनाव का माहौल बना हुआ है। दीपक ने बताया कि यह घटना 2018 के दिसम्बर की है, जब वह अपना जन्मदिन मना रहा था।

बता दें कि वीडियो वायरल होने के बाद कॉलेज प्रशासन इसकी छानबीन कर रही है। लड़का काफी तनाव से गुजर रहा है। उस लड़के ने खुद सोशल मीडिया पर लोगों से बताया की मौत की खबर फेक है।



Share it
Top