Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

अलविदा 2018 : इन कम बजट वाली फिल्मों ने बॉक्स ऑफिस पर मचाया तहलका

2018 में इस साल बॉलीवुड में कम बजट वाली फिल्में भी बनी और उन फिल्मों ने बॉक्स ऑफिस पर छप्परफाड़ कमाई भी की। जैसे बधाई हो, स्त्री, राजी आदि। इन फिल्मों को दर्शकों ने काफी पसंद किया।

अलविदा 2018 : इन कम बजट वाली फिल्मों ने बॉक्स ऑफिस पर मचाया तहलका

2018 में बॉलीवुड ने कई उतार-चढ़ाव देखे हैं। 2018 में बॉलीवुज में बिग बजट फिल्में भी रिलीज हुई लेकिन वह अपनी छाप छोड़ने में नाकामयाब रहीं। इसके साथ ही कम बजट वाली फिल्मों को दर्शकों ने काफी पसंद किया। जिनमें बधाई हो, राजी, अंधाधुन आदि शामिल हैं। आइए नजर डालते हैं इन फिल्मों के बारे में....

बॉलीवुड में जिस समय बड़ी-बड़ी फिल्मों का बोल-बाला हो, ऐसे माहौल में कोई कम बजट और कम चमकते चेहरों वाली फिल्म आकर दर्शकों का दिल जीते तो वही सार्थक सिनेमा कहलाएगा। यह साल इस लिहाज से नई उम्मीदें जगाता नजर आया। बॉक्स-ऑफिस की कंटीली राहों पर ‘राजी’ जैसी फिल्म का आना, छाना और कामयाबी पाना बताता है कि ऐसी ही कहानियां सिनेमा को समृद्ध बनाती हैं।

इस फिल्म में डायरेक्टर मेघना गुलजार का एक बार फिर हुनर दिखा। ‘बधाई हो’ जैसी एक बिल्कुल ही अलग कहानी वाली फिल्म ने साल की टॉप-10 फिल्मों में जगह बना कर बताया कि दर्शकों को अलग तरह की कहानियों वाली फिल्में भाती हैं, बशर्ते फिल्मकार में उसे कायदे से बनाने की काबिलियत हो।

एक नाजुक विषय को शालीनता के साथ, कॉमिक सिचुएशंस और चुटीले संवादों के साथ इस फिल्म में बड़ी बखूबी से दिखाया गया। ‘स्त्री’ अपने लुक, लोकेशन, किरदारों की बुनावट, कलाकारों की एक्टिंग, कॉमिक फ्लेवर, हॉरर की खुराक, चुटीले संवादों जैसी बातों से मिलकर दर्शनीय फिल्म बनी।

बिल्कुल ही वर्जित समझे जाने वाले विषय पर आई ‘पैडमैन’ ने मुख्यधारा के सिनेमा में जिस तरह से अपने लिए राह बनाई, उसका बहुत अच्छा स्वागत हुआ। ‘अंधाधुन’ में कहानी को जिस उलझे हुए अंदाज में दिखाया गया, ऐसी मैच्योर स्टोरीटेलिंग अपने यहां कम ही देखने में मिलती है।

इसीलिए सरल कहानियां देखने के आदी दर्शकों को इस फिल्म को समझने में ज्यादा मेहनत करनी पड़ी, लेकिन धीरे-धीरे यह फिल्म आगे बढ़ती चली गई और आखिर में कामयाब रही।

Next Story
Top