Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

निर्देशक मेघना गुलजार ने क्यों कहा ''''उन्हें नहीं है जरूरत रीमेक फिल्म बनाने की''''

''राजी'' फिल्म की निर्देशक ने एक इंटरव्यू में कहा कि मुझे सुझाव और पेशकश मिलते रहते हैं लेकिन मैं यह कभी नहीं करूंगी। इस पर कभी विचार भी नहीं करूंगी। मैं इस बारे में सोच ही नहीं सकती क्योंकि इसकी कोई जरूरत नहीं है।

निर्देशक मेघना गुलजार ने क्यों कहा उन्हें नहीं है जरूरत रीमेक फिल्म बनाने की
X
इन दिनों मेघना गुलजार की फिल्म 'राजी' काफी चर्चा में है। मेघना गुलजार को उनके पिता और दिग्गज फिल्मकार गुलजार की कई फिल्मों के रीमेक की पेशकश की गयी लेकिन निर्देशक का मानना है कि वह इस बारे में नहीं सोच सकती हैं क्योंकि उत्कृष्ट कृतियों को हाथ नहीं लगाना चाहिए।
गुलजार ने अपने करियर में 'इजाजत', 'आंधी और अंगूर' जैसी सुपरहिट फिल्मों का निर्देशन किया है। मेघना ने हालांकि यह नहीं बताया कि उन्हें किस फिल्म के रीमेक के लिए संपर्क किया गया था।
'राजी' फिल्म की निर्देशक ने एक इंटरव्यू में कहा कि मुझे सुझाव और पेशकश मिलते रहते हैं लेकिन मैं यह कभी नहीं करूंगी। इस पर कभी विचार भी नहीं करूंगी। मैं इस बारे में सोच ही नहीं सकती क्योंकि इसकी कोई जरूरत नहीं है।
मुझे रीमेक की पेशकश मिली थी लेकिन मुझे नहीं लगता कि उत्कृष्ट कृतियों को फिर से हाथ लगाया जाना चाहिए। मेघना ने आगे यह भी कहा कि उनके पिता ने उनकी कोई फिल्म नहीं लिखी है। जिसके लिए उन्होंने बतौर निर्देशक अपनी पहली फिल्म 'फिलहाल' और दूसरी फिल्म 'जस्ट मैरिड' का विशेष उल्लेख किया।
मेघना कहती है कि वह जो विषय चुन रही थी। उसके बारे में उनके पिता ने कहा कि वह 'फिलहाल' और 'जस्ट मैरिड' जैसा कुछ नहीं लिख सकते क्योंकि दोनों के नजरिये में फर्क है। हालांकि मेघना ने यह भी कहा कि उनके पिता समय-समय पर कुछ सुझाव देते रहते हैं।
मेघना ने कॉलेज की पढ़ाई पूरी करने के तुरंत बाद फिल्मकार सईद मिर्जा के सहायक निर्देशक के तौर पर काम करना शुरू कर दिया था। हालांकि दिलचस्प यह है कि उन्होंने अपने पिता के फिल्म के सेट पर कभी काम नहीं किया।
वह बताती हैं कि यह फैसला जानबूझकर किया गया था। सच्ची घटना पर आधारित 'तलवार' और उसके बाद अब 'राजी' बनाने वाली मेघना का कहना है कि उन्हें ऐसी कहानियां पसंद आती हैं।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story