logo
Breaking

जानें आपके फेवरेट टीवी स्टार्स कैसे मनाते हैं होली

रंग खेलने के साथ लोग उमंग के साथ एक अलग तरंग में झूमते-गाते और हुड़दंग मचाते हैं।

जानें आपके फेवरेट टीवी स्टार्स कैसे मनाते हैं होली

मुंबई. होली के दिन सभी रिलैक्स मूड में होते हैं, रंग खेलने के साथ लोग उमंग के साथ एक अलग तरंग में झूमते-गाते और हुड़दंग मचाते हैं। रंगारंग को बता रहे हैं, छोटे पर्दे के स्टार्स कि वे होली कैसे मनाते हैं, यह रंग पर्व उनके जीवन में खुशियां कैसे भरता है?

हम भर जाते हैं लबालब मस्ती में

विवान देसना

होली के आगमन के साथ पॉजिटिव फीलिंग आती है। इसलिए यह त्योहार मुझे बहुत पसंद है। होली पर रंगों की जो बहार आती है, ठंडाई पीने का जो मजा होता है, वो सबको मस्ती से लबालब भर देता है। मैं गुलाल से ही होली खेलना पसंद करता हूं। लेकिन मेरे यार-दोस्त मुझे हर तरह के गीले-सूखे रंग लगाते हैं। मेरी सबसे यादगार होली उज्जैन में मनाई हुई है। उज्जैन में मेरा परिवार और मेरे बचपन के दोस्त हैं। वहां रहते हुए मंैने होली में खूब एंज्वॉय किया था। जब मैं टीनएज में था तो अपने दोस्तों के साथ धमाकेदार होली मनाता था। हम होली खेलने के बाद स्विमिंग पूल में बार-बार छलांग लगाकर नहाते थे, खूब मजा आता था। उज्जैन में दोस्तों के साथ मनाई वो होली मुझे आज भी याद है। मैं हर साल होली मनाता हूं। इस साल भी मैं पूरी तरह कलरफुल होकर होली खेलूंगा। रंगारंग के पाठकों को होली की ढेर सारी शुभकामनाएं।

न कोई टेंशन न भाग दौड़ बस मस्ती का आलम

सुगना मेहता

मुझे होली खेलना बहुत पसंद है, खासतौर पर अपने दोस्तों के साथ होली खेलना सबसे ज्यादा मजेदार लगता है। मैंने एक बार मुंबई में अलग तरह की होली देखी, कुछ लोग चटपटी चीजों से होली खेल रहे थे, जैसे-भेल पूरी, गोल-गप्पे के साथ होली खेल रहे थे। मुझे यह होली बहुत अजीब लगी। मेरी दिली तमन्ना है कि मैं एक बार शाहरुख खान के साथ होली खेलूं। शाहरुख रंगों में रंगे हुए बहुत अच्छे लगते हैं। मेरी सबसे यादगार होली कलर्स चैनल में आयोजित होली थी, इस होली में मंैने खूब एंज्वॉय किया था। खूब रंग लगाया था, डांस किया था और ठंडाई पी थी। होली के दिन एकदम रिलैक्स मूड होता है, न कोई काम का टेंशन न भाग दौड़, बस मस्ती का आलम।

होली का असली मजा परिवार के साथ

कविता कौशिक

मैंने पिछले साल सब चैनल की होली पार्टी अटैंड की थी। वो होली इतनी मजेदार थी कि मैं आपको बता नहीं सकती। मुझे खुद विश्वास नहीं हुआ कि मैंने सुबह से लेकर दोपहर चार बजे तक होली कैसे खेल ली। वहां का माहौल ही इतना मजेदार था कि मैं सब कुछ भूल कर होली मनाने के मूड में आ गई। वहां पर बज रहे ढोल के म्यूजिक पर मैंने जमकर डांस किया, खूब धमाल किया। वैसे हम लोगों को दो-दो बार होली मनानी पड़ती है। एक तो अपने परिवार वालों के साथ और दूसरा अपने टीवी स्टार्स के साथ। लेकिन असल मजा मुझे होली का अपने परिवार और दोस्तों के साथ ही आता है। होली पर मिठाई खाना भी मुझे बहुत पसंद है, खासतौर पर गुंझिया। होली में मैं ठंडाईं जरूर पीती हूं। होली के शुभ अवसर पर सबको मेरी ढेर सारी शुभकामनाएं।

आगे की स्लाइड्स में पढ़िए, खबर से जुड़ी अन्य जानकारियां-
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Share it
Top