Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

Amrita Rao Interview : ''शादी-शुदा जीवन के बारे में कुछ नहीं कहना चाहती हूं''

अमृता राव ने पंद्रह साल पहले फिल्म ‘इश्क विश्क’ से बॉलीवुड में कदम रखा था। इसके बाद वह शाहरुख खान स्टारर फिल्म ‘मैं हूं ना’ में नजर आईं। फिर राजश्री प्रोडक्शंस की फिल्म ‘विवाह’ में अमृता को खूब पसंद किया गया, यह फिल्म सुपरहिट हुई। इस फिल्म की सफलता के बाद माना जाने लगा कि अमृता बड़ी फिल्मों का हिस्सा बनेंगी। लेकिन ऐसा हुआ नहीं, अमृता फिल्मों में कम नजर आईं। अचानक उनकी शादी की खबर बॉलीवुड वालों को मिली और अमृता ने करियर से एक लंबा गैप ले लिया। लेकिन पिछले दिनों वह बाला साहब ठाकरे की बायोपिक ‘ठाकरे’ में उनकी पत्नी मीनाताई ठाकरे के किरदार में नजर आईं। फिल्मों में कमबैक और फिल्म ‘ठाकरे’ से जुड़ी बातें अमृता राव से।

Amrita Rao Interview :

अमृता राव (Amrita Rao) ने पंद्रह साल पहले फिल्म ‘इश्क विश्क’ से बॉलीवुड में कदम रखा था। इसके बाद वह शाहरुख खान स्टारर फिल्म ‘मैं हूं ना’ में नजर आईं। फिर राजश्री प्रोडक्शंस की फिल्म ‘विवाह’ में अमृता को खूब पसंद किया गया, यह फिल्म सुपरहिट हुई। इस फिल्म की सफलता के बाद माना जाने लगा कि अमृता बड़ी फिल्मों का हिस्सा बनेंगी। लेकिन ऐसा हुआ नहीं, अमृता फिल्मों में कम नजर आईं। अचानक उनकी शादी की खबर बॉलीवुड वालों को मिली और अमृता ने करियर से एक लंबा गैप ले लिया। लेकिन पिछले दिनों वह बाला साहब ठाकरे की बायोपिक ‘ठाकरे’ में उनकी पत्नी मीनाताई ठाकरे के किरदार में नजर आईं। फिल्मों में कमबैक और फिल्म ‘ठाकरे’ से जुड़ी बातें अमृता राव से।

सवाल- लंबे समय बाद आप फिल्म ‘ठाकरे’ में नजर आईं। इसमें आपको मीनाताई (बाला साहब ठाकरे की पत्नी) का रोल कैसे मिला?

जवाब- मुझे संजय राउत जी ने फोन किया और निर्देशक अभिजीत पानसे ने भी फोन किया, मेरे घर आकर रोल के बारे में डिटेल में बताया। संजय राउत जी ने कहा, ‘मी गृहित धरतो, तुम्ही फिल्म करणार (मैं यह मानता हूं कि आप यह फिल्म करेंगी), वेलकम ऑन बोर्ड।’ मीनाताई एक आदर्श महिला थीं, उनका किरदार निभाना मेरे लिए बहुत बड़ी बात थी। ऐसे में मैंने फिल्म करने के लिए हामी भर दी।

सवाल- मीनाताई का किरदार निभाने के लिए आपने अपने लेवल पर किस तरह की रिसर्च की?

जवाब- मीनाताई और बाला साहब के बेटे उद्धव जी ने बहुत मुश्किल से अपनी मां के कुछ फुटेज तलाश किए। मीनाताई एक शादी के वीडियो में थीं। ऐसे में मेरे पास ज्यादा मटीरियल नहीं था, जिससे उनके रोल की तैयारी कर सकूं, यह मेरे लिए मुश्किल बात थी। ऐसे में मैंने संजय राउत सर, उद्धव सर से मीनाताई के बारे में जानने की कोशिश की। बाला साहब की बहन से भी मैं मिली, उन्होंने भी मीनाताई और बाला साहब के जीवन के बारे में काफी कुछ बताया। इस तरह मैंने अपने रोल की तैयारी की।

सवाल- आपको क्या लगता है कि बाला साहब के जीवन में उनकी पत्नी का कितना योगदान रहा?

जवाब- बाला साहब के जीवन में मीनाताई का योगदान बहुत ज्यादा था। जैसा कि हम कहते हैं कि हर सफल पुरुष के पीछे एक महिला होती है, यही बात बाला साहब के जीवन में भी थी। मीनाताई, बाला साहब का संबल थीं। हर अच्छे-बुरे वक्त में उनके साथ खड़ी रहीं। इसके अलावा मीनाताई समाज सेवा भी करती थीं, उनका ममतामयी स्वरूप सभी जानते हैं।

सवाल- मीनाताई का मैच्योर रोल निभाने पर आपको नहीं लगा कि आगे आप ऐसे ही किरदारों में टाइप कास्ट हो जाएंगी?

जवाब- देखिए, बॉलीवुड इस समय बायोपिक के ट्रेंड से गुजर रहा है। इन फिल्मों में जिस उम्र का किरदार होगा, कलाकार वैसा ही नजर आएगा। फिल्म ‘ठाकरे’ में मीनाताई का किरदार मैंने 20 साल से लेकर 70 साल तक निभाया है, ऐसे में मुझे मैच्योर लगना ही था। मुझे नहीं लगता कि मैच्योर किरदार निभाने से मैं टाइप कास्ट हो जाऊंगी।

सवाल- आप मीनाताई की कौन सी बातें खुद में पाती हैं?

जवाब- मैं भी उनकी तरह केयरिंग नेचर की हूं। अपने साथ काम करने वालों का पूरा ध्यान रखती हूं। अगर रात में शूटिंग लेट खत्म हुई तो अपनी महिला स्टाफ को कार से खुद घर छोड़कर आती हूं।

सवाल- पंद्रह साल के करियर में आपने बहुत कम फिल्में कीं, ऐसा क्यों?

जवाब- मैंने बहुत कम उम्र में मॉडलिंग शुरू कर दी थी, फिर फिल्मों में आई। कभी खुद काम नहीं मांगा, लेकिन जो फिल्में मैंने कीं, सब बहुत अच्छी थीं। फिर बॉलीवुड का ट्रेंड बदला, हीरोइनों को काफी रिवीलिंग ड्रेसेस पहननी पड़ रही थी, फिल्मों में किसिंग सीन कॉमन हो गए थे। मुझे लगा कि इस तरह की फिल्मों में मैं अनफिट हूं। यही वजह रही कि मैंने ऐसे ऑफर्स को मना कर दिया।

सवाल- लेकिन इस तरह से आप बॉलीवुड से बाहर हो गईं?

जवाब- ऐसा तो नहीं है, लेकिन दूर जरूर हो गई। मैंने अपना सारा वक्त इवेंट्स में और फैमिली में इंवेस्ट किया। जहां मैं कंफर्टेबल नहीं हो सकती, वह काम मुझे नहीं करना था। यह मेरा अपना डिसीजन था, इस बात का मुझे कोई अफसोस नहीं है।

सवाल- आपने तीन साल पहले शादी की, क्या इस वजह से बॉलीवुड से ब्रेक लिया?

जवाब- मुझे शुरुआत से ही अपनी पर्सनल लाइफ के बारे में मीडिया से बात करना पसंद नहीं है। अब भी शादी-शुदा जीवन के बारे में कुछ नहीं कहना चाहती हूं। लेकिन ऐसा बिल्कुल नहीं है कि शादी की वजह से करियर से ब्रेक लिया। आज कोई भी एक्ट्रेस शादी की वजह से करियर में ब्रेक नहीं लेती है। आज ही क्यों पहले भी शर्मीला टैगोर, वहीदा रहमान और नूतन जैसी एक्ट्रेसेस ने शादी के बाद फिल्मों में काम किया। शादी कभी भी करियर में रुकावट नहीं होती है। आम लड़कियां भी तो करियर और शादी दोनों मैनेज करती हैं।

सवाल- आपने टीवी पर एक सीरियल ‘मेरी आवाज ही पहचान है’ किया था। इन दिनों बेव सीरीज का दौर है, क्या आप इनमें काम करेंगी?

जवाब- सीरियल ‘मेरी आवाज ही पहचान है’ दो जानी-मानी महिला सिंगर्स की लाइफ से मेल खाता सीरियल था। मैंने यह सीरियल इसलिए किया, क्योंकि इसका कंटेंट अलग लगा। हां, मैं वेब सीरीज करना चाहती हूं, लेकिन इसमें किरदार दमदार होना चाहिए। मुझे तो क्राइम, थ्रिलर, मर्डर मिस्ट्री, रियालिस्टिक फिल्मों का भी हिस्सा बनना है।

Next Story
Top