Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

Big Breaking: तहसीन पूनावाला गिरफ्तार, प्रज्ञा ठाकुर के खिलाफ किया था विरोध प्रदर्शन

'गोडसे' को 'देशभक्त' बताने के खिलाफ तहसीन पूनावाला ने संसद के बाहर पोस्टर लेकर प्रदर्शन किया। इस दौरान पुलिस ने उन्हें जबरन हिरासत में ले लिया। आपको बता दें कि कल सदन की कार्यवाही के दौरान साध्वी प्रज्ञा ने गोडसे को देशभक्त करार दिया था।

तहसीन पूनावाला ने प्रज्ञा ठाकुर के खिलाफ विरोध प्रदर्शन, दिल्ली पुलिस ने हिरासत में लियातहसीन पूनावाला

बिग बॉस (Bigg Boss) के घर से बेघर होने के बाद तहसीन पूनावाला (Tehseen Poonawalla) सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहते है। वो राजनीति से जुड़े मुद्दे पर अपनी राय बेबाक तरीके से रखते है। इस बीच खबर आ रही है कि तहसीन पूनावाला को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। बताया जा रहा है कि वो 'नाथूराम गोडसे' को 'देशभक्त' बताने पर साध्वी प्रज्ञा के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे थे। ये प्रदर्शन वो संसद के बाहर खड़े होकर कर रहे थे। प्रदर्शन करने के चलते पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया।

इस बात की जानकारी उन्होंने खुद ट्वीटर के जरिए दी। तहसीन पूनावाला ने ट्वीट में लिखा- 'मैं संसद के बाहर नंगे पांव खड़े होकर बिल्कुल गांधीवादी तरीके से प्रदर्शन कर रहा हूं'.. उनके प्रदर्शन की खबर जैसे ही पुलिस को लगी तो उन्होंने तहसीन पूनावाला को हिरासत में ले लिया। तहसीन पूनावाला ने इससे पहले किए गए ट्वीट कर लिखा- 'हमारे महात्मा गांधी की हत्या आतंकवादी गोडसे ने की है और बीजेपी सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर उन्हें लगातार देशभक्त कह रही हैं.. मैं प्रज्ञा सिंह ठाकुर के खिलाफ संसद के बाहर नंगे पैर प्रदर्शन करूंगा.. साथ ही विपक्ष से अनुरोध करूंगा कि वो सुनिश्चित करे कि सरकार इसके लिए माफी मांगे'

आपको बता दें कि इससे पहले ऋचा चड्ढा (Richa Chadha) ने साध्वी प्रज्ञा के बयान पर नाराजगी जताई थी.. उन्होंने ट्वीट में लिखा- 'क्यों हम भी तो श्राप दे सकते हैं ? हमारा श्राप ज्यादा असरदार होगा, क्योंकि हम आतंक के मामलों पर जमानत पर बाहर नहीं आए हैं... शायद वो प्रधानमंत्री का सम्मान नहीं करती हैं वरना वो इस तरह का कमेंट दोबारा करने की हिम्मत कैसे करतीं ?' ऋचा चड्ढा ने दो ट्वीट किए। ऋचा ने दूसरे ट्वीट में प्रज्ञा सिंह ठाकुर के बयान को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर शर्मिंदगी वाला बयान करार दिया'

लोकसभा में एसपीजी संशोधन बिल पर डीएमके सांसद ए राजा अपनी राय रख रहे थे। लोकसभा में एसपीजी संशोधन बिल पर डीएमके सांसद ए राजा अपनी राय रख रहे थे। इस दौरान उन्होंने गोडसे के एक बयान का जिक्र किया जिसमें गोडसे ने बताया कि था कि उसने महात्मा गांधी को क्यों मारा था। ए राजा ने लोकसभा में कहा कि गोडसे ने माना था कि उसके मन में गांधी के लिए 32 सालों से जहर भरा था, जिसके चलते उसने गांधी को मारने का फैसला लिया.. गोडसे ने गांधी को इसलिए मारा क्योंकि वो एक विशेष विचारधारा में यकीन करता था.. राजा के इस के बीच एकदम से प्रज्ञा ठाकुर ने बोलीं कि आप एक देशभक्त का उदाहरण नहीं दे सकते हैं। उनके इस बयान के बाद लोकसभा में हंगामा मच गया।

Next Story
Top