logo
Breaking

सुशांत ने किया खुलासा, डायरेक्टर अभिषेक कपूर ने इस बात का गुस्सा सारा अली खान पर निकाला

छह साल के बॉलीवुड करियर में सुशांत सिंह राजपूत की छह ही फिल्में आई हैं, इनमें से कुछ फिल्मों में सुशांत का काम सराहा गया, बॉक्स ऑफिस पर भी सफलता मिली।

सुशांत ने किया खुलासा, डायरेक्टर अभिषेक कपूर ने इस बात का गुस्सा सारा अली खान पर निकाला

छह साल के बॉलीवुड करियर में सुशांत सिंह राजपूत की छह ही फिल्में आई हैं, इनमें से कुछ फिल्मों में सुशांत का काम सराहा गया, बॉक्स ऑफिस पर भी सफलता मिली। वहीं कुछ फिल्मों को असफलता का मुंह भी देखना पड़ा।

इन दिनों वह अपकमिंग फिल्म ‘केदारनाथ’ को लेकर चर्चा में हैं। अभिषेक कपूर डायरेक्टेड इस फिल्म में सुशांत के अपोजिट सैफ अली खान की बेटी सारा अली खान हैं। फिल्म ‘केदारनाथ’ से जुड़ी बातचीत, सुशांत सिंह राजपूत से।

फिल्म ‘केदारनाथ’ की कहानी और आपका किरदार क्या है?

उत्तराखंड राज्य में भगवान शिव का मंदिर केदारनाथ नाम से हैं। यह एक प्रसिद्ध धार्मिक तीर्थस्थल है। हमारी फिल्म में केदारनाथ के बैकड्रॉप में एक प्रेम कहानी दिखाई गई है।

कनिका ढिल्लन की लिखी इस कहानी में अमीर घर की लड़की मुक्कू (सारा अली खान) अपने परिवार के साथ केदारनाथ की यात्रा पर आती है, यहां उसकी मुलाकात मंसूर से होती है।

फिल्म में मंसूर का किरदार मैंने निभाया है। वह पिट्ठू का काम करता है यानी तीर्थयात्रियों को पिट्ठू पर बिठाकर केदारनाथ की यात्रा करवाता है। अचानक केदारनाथ में प्राकृतिक आपदा आती है, यह 2013 में केदारनाथ में आई आपदा का रेफरेंस है। इन सब घटनाओं के बीच ही मुक्कू और मंसूर की प्रेम कहानी आगे बढ़ती है।

यह फिल्म आपको कैसे मिली?

इस फिल्म के लिए गट्टू जी (डायरेक्टर अभिषेक कपूर) ने मुझे ही सबसे पहले कास्ट किया था। मेरे करियर की पहली फिल्म ‘काय पो छे’ के डायरेक्टर अभिषेक ही थे। इस फिल्म में साथ काम करने पर हम एक-दूसरे की क्वालिटीज, एबिलिटीज को जान-समझ गए थे।

हमारी ट्यूनिंग बहुत अच्छी हो गई थी। जब फिल्म ‘केदारनाथ’ की कहानी अभिषेक ने मुझे बताई तो मैं बहुत खुश हुआ। मेरा रोल बहुत स्ट्रॉन्ग था, इसे मना कैसे कर सकता था।

फिल्म की शूटिंग केदारनाथ की खूबसूरत वादियों में हुई है, कैसे एक्सपीरियंस रहे?

पहाड़ों पर चढ़ना आसान नहीं होता है। हम जितना जमीन से ऊपर की तरफ जाते हैं, ऑक्सीजन लेवल कम होता जाता है, सांस फूलती है। ऐसे में अपनी पीठ पर भारी सामान लेकर पहाड़ पर चढ़ना और भी मुश्किल हो जाता है।

केदारनाथ में बार-बार मौसम बदलता था, शूटिंग करना आसान नहीं होता था। इन सब बातों के बावजूद नेचर के करीब रहने की खुशी अलग ही थी। इतनी सुंदर जगह पर शूटिंग करने के एक्सपीरियंस को मैं कभी नहीं भूल सकता हूं।

फिल्म ‘केदारनाथ’ से सारा अली खान डेब्यू कर रही हैं, उनके बारे में क्या कहेंगे?

हां, सारा अली खान की यह पहली फिल्म है। लेकिन शूटिंग के दौरान मुझे ऐसा नहीं लगा। सारा बहुत ही अच्छी एक्ट्रेस हैं, यह फिल्म में उनकी एक्टिंग देखकर दर्शक समझ जाएंगे। वह बहुत अच्छे नेचर की भी हैं, किसी की बात का बुरा नहीं मानती हैं।

मुझे याद है, एक बार डायरेक्टर अभिषेक कपूर का मूड खराब था, वह शूटिंग के दौरान सारा पर चिल्ला पड़े। लेकिन सारा शांति से उनकी बातें सुनती रही।

सुना है कि हर शॉट के बाद मॉनिटर देखने का जो चलन है, उससे आप दूर रहते हैं?

मैं ईमानदारी से एक्टिंग करता हूं। मैं जब शॉट देता हूं, उसमें मेरा हंड्रेड पर्सेंट होता है। यही वजह है कि मुझे बार-बार मॉनिटर में जाकर देखने की जरूरत नहीं पड़ती है। आगे भी मॉनिटर में देखने की आदत से बचना चाहता हूं। एक एक्टर को खुद पर पूरा यकीन होना चाहिए।

आगे कौन सी फिल्में आप कर रहे हैं?

आगे मेरे पास ‘ड्राइव’, ‘सोन चिरैया’ के अलावा कुछ और फिल्में भी हैं। फिल्म ‘ड्राइव’ में मेरे अपोजिट जैकलिन फर्नांडिस हैं। फिल्म ‘सोन चिरैया’ चंबल के डाकुओं पर है, इसमें मेरा रोल बहुत हटकर है।

सुशांत की एक्टिंग के साथ दर्शक उनकी फिटनेस के भी कायल हैं। उनकी फिटनेस सीक्रेट क्या है?

‘मैं एक्टर होने के साथ डांसर भी हूं, डांस से भी फिट रहता हूं। जिम में भी खूब पसीना बहाता हूं, अलग-अलग तरह की एक्सरसाइज करता हूं, जिससे बॉडी फिट रहे, स्टैमिना बढ़े।

डाइट का जहां तक सवाल है तो इसे लेकर सबसे ज्यादा कॉन्शस रहता हूं। न्यूट्रीशस डाइट लेता हूं, मेरा एक प्रॉपर डाइट चार्ट है, जिससे स्ट्रिकटली फॉलो करता हूं। इस तरह फिट रहता हूं।

Share it
Top