Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

''कॉमेडी किंग'' ब्रह्मानंदम को हुई यह बीमारी, फैंस के साथ डॉक्टर भी हुए परेशान

साउथ इंडियन फिल्मों के कॉमेडी किंग ब्रह्मानंदम एक गंभीर बीमारी से जूझ रहे हैं। यह खबर ब्रह्मानंदम के फैंस के लिए काफी बुरी है। लेकिन यह सच है। ब्रह्मानंदम को हार्ट की समस्या हुई है। इसी के चलते उन्हें मुंबई के एशियन हार्ट इंस्टीट्यूट में भर्ती करवाया गया है।

साउथ इंडियन फिल्मों के कॉमेडी किंग ब्रह्मानंदम एक गंभीर बीमारी से जूझ रहे हैं। यह खबर ब्रह्मानंदम के फैंस के लिए काफी बुरी है। लेकिन यह सच है। ब्रह्मानंदम को हार्ट की समस्या हुई है। इसी के चलते उन्हें मुंबई के एशियन हार्ट इंस्टीट्यूट में भर्ती करवाया गया है।

जहां पर उनकी बाईपास सर्जरी हुई है। डॉक्टरों का कहना है कि ब्रह्मानंदम की हालत अभी गंभीर है। इसके चलते ब्रह्मानंदम को आब्जर्वेशन में रखा गया है। डॉ रमाकांत पांड ने उनकी सर्जरी की है। सर्जरी होने के बाद उनकी हालत में सुधार की संभावना बन रही है।

ब्रह्मानंदम की तबीयत खराब होने की खबर आने के बाद ही उनके फैंस सोशल मीडिया पर उनकी हालत ठीक होने की दुआ मांग रहे हैं। फैंस लिख रहे हैं कि हम आपको फिर से स्क्रीन पर हंसाते हुए देखना चाहते हैं।

अगर आप साउथ इंडियन फिल्मों के शौकीन हैं तो आप ब्रह्मानंदम को जरूर जानते होंगे। कोई भी ऐसी कॉमेडी फिल्म नहीं होगी जिसमें ब्रह्मानंदम शायद न हों। आज साउथ का हर निर्देशक उन्हें अपनी फिल्म में लेना चाहता है। अपने तीन दशक के करियर में वह 1100 से ज्यादा फिल्मों में काम कर चुके हैं।

आज ब्रह्मानंदम अपनी हर फिल्म के लिए एक अच्छी खासी रकम लेते हैं। कॉलेज के दिनों में ब्रह्मानंदम अपने स्कूल के साथियों की मिमिक्री किया करते थे। परिवार की हालत बहुत अच्छी नहीं थी। इसी वजह से वह अपने परिवार के इकलौते ऐसे शख्स हैं जिन्होंने एमए किया है।

लेकिन किस्मत तब खुली जब उन्हें तेलगु की एक फिल्म में काम करने का मौका मिला। फिर उन्हें चन्ताबाबाई फिल्म में काम करने का मौका मिला। इस फिल्म के बाद ब्रह्मानंद की मानो लॉट्री लग गई। एक के बाद एक फिल्में उन्हें मिलने लगीं। ब्रह्मानंद ने जो रेस उस समय पकड़ी थी।

वही आज भी बरकरार है। ब्रह्मानंद अपनी एक फिल्म के लिए लगभग एक करोड़ रुपये चार्ज करते हैं। साउथ की फिल्मों में एक कॉमेडियन को इतनी मोटी फीस मिलना कोई छोटी बात नहीं है।अपनी एक्टिंग के कारण ही उन्हें 5 नंदी अवार्ड मिल चुके हैं। उनका नाम गिनीज बुक ऑफ व्लर्ड रिकॉर्ड में भी दर्ज है। यह रिकार्ड उन्हें एक ही भाषा में 700 से ज्यादा फिल्में करने के लिए मिला है।

Next Story
Top