Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Sonakshi Sinha Interview: पिता कांग्रेसी, माँ समाजवादी, सोनाक्षी किसके लिए करेंगी प्रचार

सोनाक्षी सिन्हा ने करियर की शुरुआत ‘दबंग’ जैसी हिट फिल्म से की। इसके बाद भी उनकी कई फिल्में हिट रहीं। लेकिन पिछले कुछ सालों से सोनाक्षी सिन्हा की फिल्में सफल नहीं हो रहीं। क्या इस बात से वह निराश हैं? क्या सोचकर फिल्म ‘कलंक’ में उन्होंने सेकेंड लीड किया? और फिल्म ‘दबंग-3’ में उनके रोल में क्या कुछ नया देखने को मिलेगा? बातचीत, सोनाक्षी सिन्हा से।

Sonakshi Sinha Interview:  पिता कांग्रेसी, माँ समाजवादी, सोनाक्षी किसके लिए करेंगी प्रचार
X

आरती सक्सेना: सोनाक्षी सिन्हा की इस साल दो फिल्में आई थीं, 'वेलकम टू न्यूयॉर्क' और 'हैप्पी फिर भाग जाएगी', दोनों ही फिल्मों को सफलता नहीं मिली। हाल ही में वह फिल्म 'कलंक' में नजर आई थीं, इस फिल्म में उनका सेकेंड लीड था क्योंकि आलिया लीड रोल में थीं। लेकिन सोनाक्षी सिन्हा का रोल भी दमदार था, वह अपने एक्सप्रेशन, एक्टिंग से दर्शकों का दिल जीतने में कामयाब रहीं। सोनाली फिल्म 'दबंग-3' का भी हिस्सा हैं। हाल ही में सोनाक्षी सिन्हा से फिल्म 'कलंक' और करियर से जुड़ी बातें हुईं। पेश है, बातचीत के चुनिंदा अंश-

आप अब तक लीड रोल करती थीं लेकिन फिल्म 'कलंक' में सेकेंड लीड किया। क्या करियर के लिहाज से यह डिसीजन ठीक था?

पहली बात फिल्म में कोई भी फर्स्ट या सेकेंड लीड नहीं है। हर कलाकार के किरदार की अपनी अलग अहमियत है। मेरा रोल फिल्म 'कलंक' में एक ऐसी पत्नी का था, जो कैंसर से पीड़ित है और मरने से पहले अपने पति की दूसरी शादी करवाती है, वह अपने पति को खुश देखना चाहती है।

इस किरदार को निभाना बहुत मुश्किल था, इसमें मुझे दर्द भरे इमोशन दिखाने थे। जब एक इंसान मरने वाला होता है और अपनों को खो रहा होता है तो उसकी क्या हालत होती है, इस बात को अपने चेहरे पर, इमोशन में, डायलॉग के जरिए दिखाना था। इस तरह फिल्म में मेरा रोल लंबा न होते हुए भी असरदार था।

सुनने में आया है कि आपके किरदार को मिली तारीफ से आलिया नाराज हैं?

आलिया ऐसी बिल्कुल नहीं है। वह इनोसेंट, बबली लड़की है। हमने सेट पर बहुत एंज्वॉय किया। मैं, आदित्य, वरुण और आलिया जब भी सेट पर साथ में होते थे तो शूटिंग कम मस्ती ज्यादा होती थी। आलिया किसी से नाराज नहीं होती है, वह एक उम्दा एक्ट्रेस है, कुछ ही सालों में इंडस्ट्री में आलिया ने अपने लिए खास जगह बनाई है। वह किसी से जलने, इनसिक्योर होने वाली इंसान नहीं है।

इस फिल्म में माधुरी दीक्षित और संजय दत्त भी थे। उनके साथ वर्किंग एक्सपीरियंस कैसे रहे?

दोनों के साथ वर्किंग एक्सपीरियंस अच्छा रहे। संजू सर तो बहुत शांत स्वभाव के हैं, माधुरी मैम हमारी तरह ही मस्ती करती हैं। मैं तो माधुरी मैम की बहुत बड़ी फैन हूं। जब मुझे उनके साथ काम करने का मौका मिला तो बहुत ही खुश हुई। हालांकि हमारे साथ में सीन ज्यादा नहीं थे, फिर भी उनके साथ जितने सीन करने को मिले, वो यादगार हैं। अगर आपके शुरुआती करियर की बात करें तो फिल्म 'दबंग' से लेकर अब तक के करियर के दौरान आपने अपने लुक्स पर भी काफी मेहनत की है।

पहले के मुकाबले अब आप काफी स्लिम भी हो गई हैं। क्या ऐसा करना आप जरूरी समझती हैं?

हां, एक्टर्स का अच्छा दिखना जरूरी है। छोटा पर्दा हो या बड़ा, हर जगह अच्छे कलाकार हैं। ऐसे में अगर हम काम और लुक्स को लेकर अलर्ट नहीं रहेंगे तो हमें कुछ समय बाद ही घर बैठना पड़ेगा। मैंने यही सोचकर एक्टिंग के साथ-साथ अपने लुक्स पर पूरा ध्यान दिया।

कुछ समय से आपकी फिल्मों को सफलता नहीं मिल रही है। क्या इस बात से निराशा होती है?

हर कलाकार की जिंदगी में एक दौर ऐसा होता है, जब वह निराश हो जाता है। उसके पास ज्यादा काम नहीं होता। कई बार तो घर बैठने तक की नौबत आ जाती है। लेकिन इस दौरान निराश होने के बजाय अपनी बाकी चीजों पर ध्यान देना चाहिए, जब आपका बुरा वक्त खत्म हो जाएगा तो काम मिलने लगेगा। मेरे साथ भी ऐसा ही कुछ हुआ। देखिए, फिल्म 'कलंक' रिलीज हो चुकी है। अब मैं 'दबंग-3' की शूटिंग में बिजी हूं।

फिल्म 'दबंग-3' में आपके रोल में क्या कुछ नया देखने को मिलेगा?

फिल्म 'दबंग-3' बहुत ही अच्छी बन रही है, अभी मैं इसके बारे में ज्यादा तो नहीं बता पाऊंगी लेकिन इतना ही कह सकती हूं कि यह मेरी पहली फिल्म 'दबंग' की तरह ही दर्शकों को पसंद आएगी। रोल रज्जो का ही है।

कुछ समय पहले आपके शादी करने की खबर आ रही थीं। क्या शादी की प्लानिंग है?

फिलहाल मेरा शादी का इरादा नहीं है, न ही मैं किसी रिलेशनशिप में हूं। मैं जब भी शादी करूंगी, बड़े धूम-धाम से करूंगी, आप सब को बता कर करूंगी।

मेरे लिए पार्टी नहीं पैरेंट्स इंपॉर्टेंट हैं

सोनाक्षी सिन्हा के माता-पिता दोनों ही इस बार लोकसभा का चुनाव लड़ रहे हैं। पिता कांग्रेस की तरफ से और मां समाजवादी पार्टी की तरफ से चुनाव लड़ रही हैं। ऐसे में वह किस पार्टी के साथ हैं? इस सवाल पर सोनाक्षी कहती हैं, 'मैं अपने माता-पिता के साथ हूं। मेरे पिता जब भाजपा की तरफ से चुनाव लड़ते थे, उस वक्त मैंने उनको पूरा सपोर्ट दिया था।

अब मेरे पिता कांग्रेस के साथ हैं, उनके टिकट पर चुनाव लड़ रहे है तो अपने पापा को पूरा सपोर्ट करूंगी, उनके लिए चुनाव प्रचार भी करूंगी। अपनी मां को भी अपना सपोर्ट दूंगी। मेरे लिए पैरेंट्स ज्यादा इंपॉर्टेंट हैं, कोई पार्टी नहीं।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story