logo
Breaking

शिल्पा शेट्टी ने रोते-रोते बताई अपने जन्म की कहानी

नीतू ने बताया कि उनका बेटा अपने डांस टैलेंट के लिए फेमस हैं।

शिल्पा शेट्टी ने रोते-रोते बताई अपने जन्म की कहानी
मुंबई. सोनी के रियलिटी शो 'सुपर डांसर' की जज और एक्ट्रेस शिल्पा शेट्टी ने अपने जन्म को लेकर चौंकाने वाला खुलासा किया है। उन्होंने कहा कि जब वे मां के पेट में थीं, तब डॉक्टर्स ने साफ कह दिया था कि ज्यादा दिन नहीं जी पाएंगी। शिल्पा ने कहा, "मेरी मम्मी हमेशा कहती हैं कि जब किसी में कोई कमी होती है न और वह उसे सरवाइव कर जाता है तो वह बोर्न सरवाइवर होता है। जब मैं अपनी मम्मी के पेट में थी तो डॉक्टर ने कहा कि मैं सरवाइव नहीं करूंगी। क्योंकि 6 महीने तक मेरी मम्मी ब्लीड कर रही थीं। माफ करना बहुत पर्सनल बात है। मेरी मम्मी इतनी दृढ़ थीं कि उन्होंने सोचा कि वे मुझे जन्म देंगी। डॉक्टर्स ने उस वक्त बोला कि बच्चा नॉर्मली पैदा नहीं हो सकता तो मम्मी ने कहा कि अगर यह सरवाइव कर जाएगा तो बहुत सरवाइवर होगा। इसलिए मैंने अपनी जिंदगी जी।" शिल्पा ने देव को लेकर कहा, "यह बच्चा बोर्न सरवाइवर है और ये बहुत कुछ करके दिखाएगा।"
आपको बता दें, शिल्पा को यह शो के कंटेस्टेंट देव वार्ष्णेय को देखकर आई। ग्वालियर के देव के पैर बचपन से ही विकृत हैं। लेकिन शो में उनके परफॉर्मेंस ने सभी का दिल जीत लिया। देव ने 'ABCD 2' के सॉन्ग 'माई तेरी चुनरिया लहराई' पर डांस किया। इस दौरान ऑडियंस में बैठी उनकी मां नीतू वैष्णव की आंखों में आंसू छलक आए। परफॉर्मेंस पूरा होने के बाद नीतू स्टेज पर आईं और बेटे की स्ट्रगल की कहानी सुनाई। इस दौरान वहां मौजूद ऑडियंस सभी लोग इमोशनल हो गए। शिल्पा भी अपने आंसू नहीं रोक पाईं।
देव की मां नीतू ने कहा कि वह अपने डांस के बल पर भी सरवाइव कर रहा है। देव को जन्म के समय स्पाइन में प्रॉब्लम थी। डॉक्टर्स ने तो यहां तक कह दिया था कि वह तीन-चार दिन से ज्यादा सरवाइव नहीं कर पाएगा। लेकिन खुद देव ने साहस दिखाया। बाद में उसने डांस स्कूल ज्वाइन किया और डांस को अपनी जिंदगी का मकसद बना लिया। नीतू ने कहा, "इसने वहां लाके मुझे खड़ा किया, जहां मैं कभी कल्पना भी नहीं कर सकती थी। ऐसे बच्चों को कभी कम न आंका जाए। मेरे जैसी कितनी मांएं हैं, वो सोचती हैं हमारा बच्चा ऐसा है, वैसा है। मैं तो इसको नॉर्मली ट्रीट करती हूं।"
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Share it
Top