Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बर्थडे स्पेशल: बॉलीवुड अभिनेता शशि कपूर का आज 80वां जन्मदिन है, जानें उनके जीवन से जुड़े ये रोचक किस्से

बॉलीवुड एक्टर शशि कपूर का जन्म 18 मार्च 1938 को हुआ था। वो अपने अलग अभिनय और स्टाइल से जाने जाते थे। शशि कपूर मनमोहन देसाई की फिल्म सुहाग के क्लाइमैक्स सीन की शूटिंग के दौरान मरते मरते बचे थे।

बर्थडे स्पेशल: बॉलीवुड अभिनेता शशि कपूर का आज 80वां जन्मदिन है, जानें उनके जीवन से जुड़े ये रोचक किस्से

शशि कपूर का जन्म 18 मार्च 1938 को कोलकाता में बॅालीवुड के मशहूर कपूर खानदान में हुआ था। शशि कपूर पृथ्वीराज कपूर के सबसे छोटे बेटे और राज कपूर और शम्मी कपूर के भाई हैं। शशि कपूर बचपन से ही अभिनेता बनना चाहते थे।

लेकिन उनके पिता पृथ्वीराज कपूर का मानना था कि शशि खुद से संघर्ष करें और अपनी मेहनत के बल पर अभिनेता बने। इसलिए उनके पिता ने कभी भी शशि कपूर की अभिनेता बनने में मदद नहीं की।

शशि कपूर ने खुद अपनी मेहनत और दमदार अभिनय के बल बॅालीवुड में अपनी जगह बनाई। जिसकी शुरुआत शशि कपूर ने 1944 में अपने पिताजी के पृथ्वी थिअटर के नाटक शकुंतला से की थी।

ये भी पढ़ेःकांग्रेस महाधिवेशन में बोले सिद्धू, कहा- 'अगले साल लालकिले से राहुल भाई फहराएंगे तिरंगा'

वहीं उन्होंने सिनेमा के सफ़र की शुरुआत एक बाल कलाकार के रूप में की थी। आपको बता दे कि 40 के दशक में उन्होंने बहुत सी फिल्मों में बाल कलाकार के रूप में काम किया जिसमें आग और आवारा जैसी फिल्में शामिल है।

शशि कपूर की शादी जेनिफर केंडल के साथ हुई थी। बता दे कि उस समय शशि कपूर अपने खानदान में किसी विदेशी महिला से शादी करने वाले पहले व्यक्ति थे। शशि कपूर की शादी से पहले कपूर खानदान की बेटियां और बहुंए फिल्मों में काम नहीं करती थी।

लेकिन क्योंकि जेनिफर खुद एक एक्टर थी तो उन्होंने उस समय कपूर खानदान की परम्परा को तोड़ते हुए फिल्मों में काम किया। 1961 में शशि कपूर की बतौर अभिनेता पहली फिल्म का नाम धर्मपुत्र था जो यशराज बैनर के तले बने थी। 60 के दशक में शशि कपूर ने बहुत सी फिल्मों में काम किया लेकिन उन्हें वो सफलता नहीं मिली जैसी वह चाहते थे।

ये भी पढ़ेःदरभंगा मर्डर केस में मृतक के बेटे ने कहा- हत्या की वजह सिर्फ 'मोदी चौक'

70 के दशक में शशि कपूर ने लगभग 150 फिल्मों के लिए साईन किया गया। जिसके कारण शशि कपूर एक दिन में 3 से 4 फिल्मों की शूटिंग करते थे। 1970 के दशक में ही जरूरत से ज्यादा फिल्मों में काम करने के कारण शशि ने अभिनय की गुणवत्ता खो दी।

इसके इलावा शशि कपूर ने 7 इंग्लिश फिल्मों में भी काम किया है, जिनमें 5 फिल्मों The Householder, Shakespeare-Wallah, Pretty Polly, Siddhartha, Heat and Dust ने विदेशों में अच्छा बिजनस किया था।

कॉनराड रूक्स की फिल्म 'सिद्धार्थ' उनके जीवन की विवादास्पद फिल्म थी। इस फिल्म के एक सीन में न्यूड सिमी ग्रेवाल के सामने शशि कपूर खड़े हैं। जिसपर आपत्ति होने पर मामला अदालत में चला गया था।

ये भी पढ़ेःकपिल के नए शो 'फैमिली टाइम विद कपिल शर्मा' पर पड़ी RAID

शशि कपूर ने केवल फिल्मों में काम ही नहीं किया ब्लकि फिल्म अजूबा का निर्माण और निर्देशन भी किया लेकिन फिल्म बुरी तरह से पिट गई। अजूबा के पिटने से शशि कपूर को करोड़ो रूपये का घाटा झेलना पड़ा।

यही नहीं शशि कपूर ने अपने पिता पृथ्वीराज कपूर की स्मृति में 1978 में मुंबई में पृथ्वी थिअटर की स्थापना की थी। जिसे 1984 तक उनकी पत्नी जेनिफर ने संभालती थी, और बाद में उनकी मृत्यु के बाद अब इस थिअटर को उनकी पुत्री संजना कपूर संभाल रही हैं।

शशि कपूर को 'दीवार', 'सुहाग', 'त्रिशूल' और 'नमक हलाल जैसी फिल्मों में शानदार अभिनय के लिए सदैव याद किया जाएगा। दरअसल पिछले साल 4 दिसंबर 2017 को मुंबई के लीलावती अस्पताल में लिवर फेल होने की वजह से उनकी मौत हो गई थी।

Next Story
Top