Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

Shahrukh Khan Interview: पॉलिटिक्स में एंट्री को लेकर शाहरुख़ खान ने खोले अपने पत्ते

बॉलीवुड के किंग खान यानी शाहरुख का चार्म अभी भी लोगों के बीच बना हुआ है। क्या उन्हें कभी यह चार्म और पॉपुलैरिटी के खोने का डर नहीं लगता है? खुद शाहरुख एक उम्दा एक्टर हैं, लेकिन बॉलीवुड में वह किस एक्टर फॉलो करना पसंद करते हैं? दूसरे बॉलीवुड एक्टर्स की तरह क्या शाहरुख खान भी पॉलिक्टिस में जाना पसंद करेंगे?

Shahrukh Khan Interview: पॉलिटिक्स में एंट्री को लेकर शाहरुख़ खान ने खोले अपने पत्ते

एक वक्त था जब किसी फिल्म में लीड रोल में शाहरुख खान के होने का मतलब था हिट की गारंटी। लेकिन पिछले कुछ सालों से उनकी फिल्मों को बड़ी सफलता नहीं मिल रही है। उनकी पिछली फिल्म 'जीरो' भी कोई कमाल न दिखा सकी, जबकि शाहरुख ने इस फिल्म में एक बौने का कैरेक्टर किया था। उनके लिए ऐसा करना बतौर एक्टर एक एक्सपेरिमेंट था, जिसे दर्शकों का मिला-जुला रेस्पॉन्स मिला था। इसके अलावा शाहरुख के बच्चे भी अब बॉलीवुड में कदम रखने वाले हैं, ऐसे में उनका फोकस बच्चों पर भी है। प्रोफेशनल-पर्सनल लाइफ से जुड़ी बातचीत, शाहरुख खान से...

वक्त के साथ आपकी पॉपुलैरिटी कम नहीं हुई। लेकिन कभी आपको इस बात का डर नहीं लगता है कि दर्शक आपको याद नहीं रखेंगे?

पॉपुलैरिटी का बरकरार रहना, फेमस बने रहना, किसे अच्छा नहीं लगता। हां, इसके साथ डर भी बना रहता है कि जब मैं हिट नहीं रहूंगा तो दर्शक, चाहने वाले मुझे नहीं पहचानेंगे। लेकिन इस डर के साथ जीना मुश्किल हो जाएगा, ऐसे में इस बात को इग्नोर कर देता हूं।

लेकिन आपकी जब कोई फिल्म फ्लॉप होती है तो दुख तो होता ही होगा?

हां, टेंशन होती है, मन दुखी होता है। मुझे अपनी हर फिल्म की रिलीज के वक्त टेंशन रहती है। अगर फिल्म फ्लॉप हो गई तो दुख होता है, लेकिन इसके बाद में जल्द ही दूसरी फिल्म की तैयारी शुरू कर देता हूं। यही एक एक्टर की लाइफ है।

दर्शक, फिल्ममेकर चाहते हैं कि आप, सलमान खान और आमिर एकसाथ एक ही फिल्म में नजर आएं। क्या आपको लगता है कि ऐसा मुमकिन है?

आज के समय में कुछ भी मुमकिन है। कोई ऐसा प्रोड्यूसर फिल्म बनाए, जो हम तीनों को अफोर्ड कर सके तो हम क्यों नहीं साथ फिल्म कर सकते हैं।

क्या फिल्म इडंस्ट्री में कोई ऐसा कलाकार है, जिसको आप फॉलो करना चाहते हैं?

हां, मैं मिस्टर बच्चन की तरह बनना चाहता हूं। वह हम कलाकारों के लिए एक मिसाल हैं। बच्चन जी आज भी काम कर रहे हैं और आज भी उतने ही पॉपुलर हैं, जितने की आज से बीस साल पहले थे। मैं उनकी तरह एक अच्छा एक्टर बनना चाहूंगा।

आपके बच्चे सुहाना और आर्यन बॉलीवुड में आने की तैयारी कर रहे हैं। इसका मलतब है कि आप अब ओल्ड हो रहे हैं?

मैं कभी बूढ़ा नहीं होने वाला, मेरा दिल जवान है (हंसते हुए)। लेकिन यह तो दुनिया का दस्तूर है, जब नई पीढ़ी आएगी तो पुरानी पीढ़ी जाएगी। लेकिन आजकल की फिल्में एजलेस हो गई हैं, आज पचास वाले भी टिके हैं और नए कलाकार भी अच्छा काम कर रहे हैं। ऐसे में मुझे बतौर एक्टर डरने की जरूरत नहीं है।

आप बॉलीवुड में दोस्ती निभाने के लिए जाने जाते हैं। कैसे निभा लेते हैं, इतने अच्छी दोस्ती?

लोग जिंदगी में दोस्त ढूढ़ते हैं, मैंने दोस्तों में जिंदगी तलाश की है। मेरे लिए दोस्त और दोस्ती बहुत मायने रखते हैं। दोस्तों से हम अपने दिल की हर बात शेयर कर सकते हैं, जो शायद घरवालों से भी नहीं कर सकते हैं। दोस्तों में एक खास बात होती है, वो कभी आपको बूढ़ा नहीं होने देते हैं। आप किसी भी उम्र में दोस्तों से मिल लीजिए, उनकी बातें आपको हमेशा जवान बनाए रखेंगी।

बॉलीवुड के कई सितारे राजनीति में जा रहे हैं। क्या आपका ऐसा कोई इरादा है?

नहीं, मेरा ऐसा कोई इरादा नहीं है, मेरा मानना है जो काम आपको अच्छे से आए वही करना चाहिए। राजनीति तो मेरे बस की बात बिल्कुल नहीं है।

ऐसे मिलता है अपने और परिवार के लिए समय

शाहरुख खान बहुत बिजी रहते हैं। ऐसे में अपने लिए, परिवार के लिए समय कैसे निकालते हैं? पूछने पर वह बताते हैं, 'मुझे अपने लिए, परिवार के लिए समय मिलता है, रात के समय। दरअसल, मुझे रात को नींद नहीं आती है। कई बार मैं रात भर जागता हूं। इसी टाइम का सही यूज करता हूं, इस दौरान अपने दोनों बच्चों से, जो विदेश में रह रहे हैं, उनसे खूब बात करता हूं। जब पांच बजते हैं तो छोटे बेटे अबराम को जगाता हूं, उसके साथ मार्निंग वॉक पर जाता हूं।'

आरती सक्सेना :

Next Story
Share it
Top