Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Riddhi Sen Interview: काजोल ने इस कारण ऑन-स्क्रीन बेटे रिद्धि सेन को जड़ा था थप्पड़, दिन में दिखाए थे तारे

जल्द ही प्रदीप सरकार निर्देशित फिल्म ‘हेलीकॉप्टर इला’ रिलीज होने वाली है। इसमें काजोल ने एक मां का रोल निभाया है। फिल्म में उनके बेटे के रोल में रिद्धि सेन हैं।

Riddhi Sen Interview: काजोल ने इस कारण ऑन-स्क्रीन बेटे रिद्धि सेन को जड़ा था थप्पड़, दिन में दिखाए थे तारे

जल्द ही प्रदीप सरकार निर्देशित फिल्म ‘हेलीकॉप्टर इला’ रिलीज होने वाली है। इसमें काजोल ने एक मां का रोल निभाया है। फिल्म में उनके बेटे के रोल में रिद्धि सेन हैं। बांग्ला फिल्मों में रिद्धि जाना-माना नाम हैं, बचपन से ही वह फिल्मों में एक्ट करने लगे थे।

उनकी फैमिली भी आर्ट फील्ड से जुड़ी है, पापा थिएटर आर्टिस्ट हैं, मां डांसर हैं। रिद्धि को फिल्म ‘नगरकीर्तन’ के लिए बेस्ट एक्टर का नेशनल अवार्ड मिल चुका है। हिंदी फिल्म ‘हेलीकॉप्टर इला’ का हिस्सा बनकर वह काफी खुश हैं।

फिल्म ‘हेलीकॉप्टर इला’ में आप काजोल के कैरेक्टर इला के बेटे बने हैं, काजोल के साथ वर्किंग एक्सपीरियंस कैसे रहे?

इस फिल्म की कहानी मां-बेटे के रिश्ते पर है। मैंने इसमें काजोल के कैरेक्टर इला के बेटे विवान का कैरेक्टर निभाया है। इला, अपने बेटे की परवरिश के लिए अपने शौक को छोड़ देती है।

ऐसे में जब विवान बड़ा होता है, कॉलेज जाने लगता है तो अपनी मां की जिंदगी को सही ट्रैक पर लाने की कोशिश करता है। इस फिल्म की कहानी बहुत ही इमोशनल है, मुझे उम्मीद है कि दर्शकों को जरूर पसंद आएगी।

जहां तक काजोल मैम के साथ काम करने की बात है तो एक्सपीरियंस बहुत अच्छा रहा। लेकिन शुरुआत में मैं थोड़ा घबरा रहा था। उनके साथ पहले सीन के लिए मैंने बहुत तैयारी की थी।

जब मैंने उनके साथ पहला शॉट दिया तो वह बहुत ही नेचुरल था। काजोल मैम बहुत ही नेचुरल एक्ट्रेस हैं, फिल्म में उनके साथ काम करना मेरे लिए सपने के सच होने जैसा था।

इस फिल्म के जरिए क्या मैसेज देने की कोशिश की जा रही है?

‘हेलीकॉप्टर इला’ में रिश्तों की अहमियत को बताया जा रहा है। साथ ही वूमेन पावर को भी दिखाया जा रहा है। कैसे एक मां अपनी जिम्मेदारियां निभाती है। लेकिन इस दौरान वह खुद को ही भूल जाती है। हमारी फिल्म यही मैसेज देती है कि मां होने के साथ-साथ महिलाओं को अपना अलग वजूद भी बनाए रखना चाहिए।

जिस तरह की मां फिल्म में काजोल हैं, क्या आपकी मां भी रियल लाइफ में वैसी हैं?

फिल्म में इला को अपने बेटे की हमेशा चिंता रहती है। इस तरह मेरी मां को भी हमेशा मेरी टेंशन रहती है। उन्होंने अपनी प्रोफेशनल लाइफ के साथ मेरी परवरिश को पूरा समय दिया। मुझे कभी किसी चीज की कमी नहीं होने दी। मुझे कभी अकेला नहीं छोड़ा। ‘हेलीकॉप्टर इला’ की मां की तरह मेरी मां भी ग्रेट हैं। मैं उनसे बहुत प्यार करता हूं।

आपको कम उम्र में ही नेशनल अवार्ड मिला, इसका क्रेडिट किसे देना चाहेंगे?

अपने पैरेंट्स को, उन्होंने हमेशा मुझे सही सलाह दी। पैरेंट्स ने कहा कि अच्छी एक्टिंग करना आसान नहीं है, ऐसे में मैं इसकी ट्रेनिंग लूं। मैंने उनकी बात मानी, पढ़ाई के साथ-साथ एक्टिंग की ट्रेनिंग भी ली।

इससे मेरा कॉन्फिडेंस बढ़ा। नेशनल अवार्ड मैं हासिल कर पाया, क्योंकि पैरेंट्स ने मेरे पैशन को सपोर्ट किया।आगे किस तरह के रोल आप करना चाहते हैं। रोल छोटा हो या बड़ा, उसमें बस दम होना चाहिए।

मैंने ‘हेलीकॉप्टर इला’ से पहले 2012 में ‘कहानी’ में पलटू चाय वाला का छोटा-सा किरदार निभाया। इसके अलावा मैंने ‘भूमि’ में भी काम किया था, उसमें भी छोटा किरदार था। मैं यह कभी नहीं सोचता कि नेशनल अवार्ड विनर हूं तो सेलेक्टेड काम ही करूंगा। मैं हर तरह के किरदार करना चाहता हूं।

फिल्म ‘हेलीकॉप्टर इला’ में एक सीन है, जहां काजोल रिद्धि सेन को थप्पड़ मारती हैं। सुना है कि सच में उन्हें थप्पड़ मारा था?

‘हां, जब मुझे काजोल मैम से दो करारे थप्पड़ पड़े तो दिन में तारे नजर आ गए। काजोल मैम ने कहा था कि मैं एक्टिंग करूंगी थप्पड़ मारने की और हवा में हाथ चला दूंगी।

लेकिन मैंने उनसे कहा कि मैं नेचुरल शॉट देना चाहता हूं, इसलिए वह मुझे सच में थप्पड़ मार दें। काजोल मैम ने ऐसा ही किया। इस वजह से शॉट बिल्कुल नेचुरल, इमोशनल बन गया।’

Next Story
Top