Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

खूब वाहवाही बटोरने वाली ये भारतीय फिल्म हुई ऑस्कर के दौड़ से बाहर

राजकुमार राव की फिल्म न्यूटन ऑस्कर के दौड़ से बाहर हो गई है। ऑस्कर अवाडर्स का आयोजन चार मार्च को लॉस एंजिलिस में किया जाएगा।

खूब वाहवाही बटोरने वाली ये भारतीय फिल्म हुई ऑस्कर के दौड़ से बाहर

भारत की ओर से 90वें एकेडमी अवाडर्स में सर्वश्रेष्ठ विदेशी भाषा की श्रेणी में आधिकारिक रूप से भेजी गई फिल्म ‘‘न्यूटन' ऑस्कर की दौड़ से बाहर हो गई है। ऑस्कर अवाडर्स का आयोजन चार मार्च को लॉस एंजिलिस में किया जाएगा।

द एकेडमी ऑफ मोशन पिक्चर आटर्स एंड साइंसेज (एएमपीएएएस) ने घोषणा की कि अमित मसुर्कर के निर्देशन वाली गंभीर कॉमेडी फिल्म उन नौ फिल्मों का हिस्सा नहीं हैं जिन्होंने अगले चरण की वोटिंग में जगह बनाई है।

इन फिल्मों ने अगले चरण में बनाई जगह-

ये नौ फिल्में हैं : ‘‘ए फैंटेस्टिक वुमैन' (चिली), ‘‘इन द फेड' (जर्मनी), ‘‘ऑन बॉडी एंड सोल' (हंगरी), ‘‘फॉक्सट्रोट' (इस्राइल), ‘‘द इनसल्ट' (लेबनान), ‘‘लवलेस' (रूस), ‘‘फेलिसाइट' (सेनेगल), ‘‘द वूंड' (दक्षिण अफ्रीका) और ‘‘द स्क्वेयर' (स्वीडन)।

यह थी न्यूटन की कहानी-

राजकुमार राव और पंकज त्रिपाठी की मुख्य भूमिकाओं वाली हिंदी भाषी इस फिल्म में छत्तीसगढ़ में व्यवस्था के झोल को दिखाया गया है। ऑस्कर अवाडर्स के लिए नामांकनों की घोषणा 23 जनवरी को की जाएगी।

भारतीय फिल्मों को नहीं मिला ऑस्कर-

अभी तक किसी भी भारतीय फिल्म ने ऑस्कर नहीं जीता है। सर्वश्रेष्ठ विदेशी फिल्म की श्रेणी में अंतिम पांच तक पहुंचने वाली आखिरी भारतीय फिल्म वर्ष 2011 में आशुतोष गोवारिकर की ‘‘लगान' थी।

‘‘मदर इंडिया' (1958) और ‘‘सलाम बॉम्बे' (1989) ने भी शीर्ष पांच फिल्मों में जगह बनाई थी।

Next Story
Top