Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

पद्मावती को बैन करने के लिए करणी सेना का जुलूस, भयंकर विरोध में भड़के लोग

संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावती को लेकर काफी हंगामा अभी भी जारी है।

पद्मावती को बैन करने के लिए करणी सेना का जुलूस, भयंकर विरोध में भड़के लोग

संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावती को लेकर काफी हंगामा अभी भी जारी है। फिल्म 1 दिसंबर को रिलीज होने के लिए बिल्कुल तैयार है लेकिन राजपूत करणी सेना ने फिल्म पद्मावती पर प्रतिबंध लगाने की हुंकार भर दी है।

पद्मावती के विरोध में अब राजनीतिक और सामाजिक संगठन खड़े हो गए हैं। अब राजपूत करणी सेना ने फिल्म पद्मावती पर प्रतिबंध लगाने को लेकर बेंगलुरु में विरोध प्रदर्शन किया है। शूटिंग के वक़्त से ही पद्मावती का विरोध शुरू हो गया था।

इस दौरान राजपूत करणी सेना के संरक्षक लोकेन्द्र सिंह कालवी ने बुधवार को पत्रकार वार्ता में साफ चेतावनी देते हुए कहा कि "यह जो जौहर की ज्वाला है, बहुत कुछ जलेगा, रोक सको तो रोक लो।" कालवी ने कहा कि फिल्म का प्रदर्शन रोकने के लिए राजपूत समाज किसी भी हद तक जा सकता है।

उन्होंने कहा कि "अहिंसा जरूरी है, लेकिन हिंसा मजबूरी है।" कालवी ने बताया कि फिल्म के विरोध में देशभर में विरोध प्रदर्शन के दौर चल रहे है। इसी सिलसिले में 25 नवबंर को गुडगांव, 26 नवम्बर को पटना और 27 नवम्बर को लखनऊ में रैली आयोजित कर विरोध प्रदर्शन किए जाएंगे।

शुरुआत राजस्थान के राजपूत करणी सेना से हुई, जिसने जयपुर में चल रही फ़िल्म की शूटिंग के दौरान काफ़ी हंगामा किया था और भंसाली के साथ हाथापाई की थी। पद्मावती का विरोध करने वालों का दावा है कि फ़िल्म में एक ड्रीम सीक्वेंस दिखायी जा रहा है।

इसमें पद्मावती बनी दीपिका पादुकोण और अलाउद्दीन खिलजी बने रणवीर सिंह के बीच प्रेम-प्रसंग दिखाया जाएगा। दिलचस्प बात ये है कि भंसाली के इंकार करने के बावजूद विरोध जारी है।

Next Story
Top