logo
Breaking

जल्द ही ''एक था राजा एक थी रानी'' में दिखेंगी दृष्टि धामी

दृष्टि धामी जल्द ही डेली सोप ‘एक था राजा एक थी रानी’ से फिर छोटे परदे पर वापसी कर रही हैं

जल्द ही
मुंबई. टीवी सीरियल 'मधुबाला' से छोटे पर्दे पर फेमस हुई दृष्टि धामी जल्द ही डेली सोप ‘एक था राजा एक थी रानी’ से फिर छोटे परदे पर वापसी कर रही हैं। इस सीरियल को सोमवार को लॉन्च किया गया। इस सीरियल में दृष्टि गायत्री नाम का किरदार निभाएंगी। यह सीरियल 1940 के दशक के भारतीय राजा-महाराजाओं के काल पर आधारित है।
जी टीवी का यह धारावाहिक एक राजा और एक आम लड़की के प्यार की कहानी है। दृष्टि इसमें दो चोटी और सूती साड़ियों में नजर आएंगी। उन्होंने बताया, 'एक था राजा एक थी रानी' 21 वर्षीय युवती गायत्री के बारे में है, जो एक छोटे से परिवार से है, लेकिन बाद में उसकी शादी एक महाराजा (सिद्धांत) से हो जाती है। वह एक शाही परिवार का हिस्सा बनने के बाद अपनी जिंदगी में अचानक से बदलाव देखती है।'
दृष्टि धारावाहिक 'मधुबाला-एक इश्क एक जुनून' से मधुबाला के रूप में लोकप्रिय हुईं। 'एक था राजा एक थी रानी' को 1940 के दशक का रूप देने के लिए निर्माताओं ने इसकी शूटिंग राजस्थान में की है। इसके अलावा मुंबई के बाहर एक महंगा सेट भी लगवाया। सिद्धांत ने अपनी राणा इंद्रवर्द्धन सिंह देव की भूमिका के बारे में कहा, 'राणाजी एक आदर्श राजकुमार हैं, जो उथल-पुथल भरे अतीत के बाद एक गंभीर व्यक्ति बन गए हैं। वह हालांकि अब भी राजकुमार बनने की काबिलियत रखते हैं। उन्हें लोगों के प्रति अपनी जिम्मेदारी का अहसास है।'
नीचे की स्लाइड्स में पढें, पूरी खबर-
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर
Share it
Top