logo
Breaking

फिलहाल मैं अपने हिसाब से फिल्में चूज नहीं कर सकता: मनीष पॉल

मनीष पाल एंकरिंग में ही नहीं एक्टिंग में भी हुनरमंद हैं।

फिलहाल मैं अपने हिसाब से फिल्में चूज नहीं कर सकता: मनीष पॉल
मनीष पाल एंकरिंग में ही नहीं एक्टिंग में भी हुनरमंद हैं। फिल्म ‘मिक्की वाइरस’ से बॉलीवुड में कदम रखने वाले मनीष बाद में फिल्म ‘रणबांका’ में भी नजर आए, लेकिन फिल्म कोई खास कमाल ना दिखा सकी। अब उन्हें अपनी अपकमिंग कॉमेडी फिल्म ‘तेरे बिन लादेन :डेड और अलाइव’ से बहुत उम्मीदें हैं। इसका पहला पार्ट ‘तेरे बिन लादेन’ हिट रही थी, इसलिए उन पर लीड कैरेक्टर में बड़ी जिम्मेदारी है। इस फिल्म से जुड़ी बातचीत मनीष पॉल से।
क्या आपको ‘तेरे बिन लादेन : डेड या अलाइव’ के लिए ऑडिशन देना पड़ा था?
जी हां। बाकायदा मेरा आॅडिशन लिया गया। लगभग चार घंटे मुझे ऑडिशन देना पड़ा। आॅडिशन में मेरी हेल्प करने के लिए फिल्म में मेरे को-स्टार प्रद्युम्न सिंह भी मौजूद थे। अभिषेक शर्मा बड़े माहिर डायरेक्टर हैं, आसानी से कंवरसिंग नहीं होते।
इस फिल्म में आपका कैरेक्टर और स्टोरी किस तरह की है?
मैं इस फिल्म में उस डायरेक्टर का कैरेक्टर प्ले कर रहा हूं, जिसने ‘तेरे बिन लादेन’ डायरेक्ट की है। दिल्ली का एक लड़का मुंबई में डायरेक्टर बनने का सपना लेकर आता है। मेरा यह कैरेक्टर फिल्म के डायरेक्टर अभिषेक शर्मा से काफी हद तक इंस्पायर है। वह किस तरह घर से भाग कर मायानगरी आता है और यहां स्ट्रगल करता है, यही फिल्म में दिखाया गया है।
फिल्म में कॉमेडी करते हुए आपने किन बातों का ख्याल रखा है?
‘तेरे बिन लादेन:डेड या अलाइव’ में कॉमेडी फिल्म है, लेकिन कॉमेडी करते हुए इस बात का ध्यान रखा कि हम अपने दायरे से बाहर न जाएं। लोगों को कॉमेडी देखते हुए मजा आएगा।
इस फिल्म का कैरेक्टर खुद आपकी रियल लाइफ से कितना मेल खाता है?
मैं भी दिल्ली से एक्टिंग वर्ल्ड में कुछ करने आया था। इसलिए मुझसे भी काफी रिलेटेड कैरेक्टर है।
‘तेरे बिन लादेन’ बड़ी हिट मूवी थी। इसके सेकेंड पार्ट को करते हुए आपने कितना प्रेशर फील किया?
मैं इस फिल्म में लीड कैरेक्टर में हूं, इसलिए मुझ पर काफी प्रेशर था। फिल्म साइन करते समय ही डायरेक्टर ने साफ कर दिया था कि मुझे बहुत हार्ड वर्क करना पड़ेगा।
क्या इस तरह के कैरेक्टर आप इंटेंशनली सेलेक्ट करते हैं, जिसमें कॉमिक टाइमिंग का खेल होता है?
जी नहीं। फिलहाल तो डायरेक्टर मुझे चूज कर रहे हैं। मेरे पास जिस तरह की फिल्मों के आॅफर आ रहे हैं, मैं उन्हें कुबूल भी कर रहा हूं। अभी तो मैंने सिर्फ दो फिल्में की हैं। फिलहाल मैं अपने हिसाब से फिल्में चूज कर भी नहीं सकता।
वैसे आप किस तरह के रोल निभाने के इच्छुक हैं?
मैं सिर्फ कॉमेडी ही नहीं, हर तरह के कैरेक्टर्स निभाना चाहता हूं। मैं रोमांटिक फिल्म करना चाहता हूं। मैं आउट एंड आउट एक्शन फिल्म भी करने का इरादा रखता हूं।
क्या आपको लगता है कि बॉलीवुड में कॉमेडी करने वाले कलाकारों को गंभीरता से नहीं लिया जाता?
हमारे यहां थोड़ा-सा ऐसा ही है। शो होस्टिंग को भी हल्के में ही लिया जाता है। हालांकि होस्टिंग ईजी नहीं है।

आप अपनी लास्ट मूवी ‘रणबांका’ के प्रमोशन में कहीं नजर नहीं आए?
जी हां, वह प्रोड्यूसर का कुछ मामला था, जिसकी वजह से मैं पीछे हट गया था।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Share it
Top