Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Manikarnika Film Review : कंगना रनौत की ''मणिकर्णिका'' बॉक्स ऑफिस पर रिलीज, कमजोर स्क्रिप्ट, दमदार है डायलॉग्स कुछ ऐसी है फिल्म

बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत की फिल्म मणिकर्णिका 160 साल पहले झांसी की रानी लक्ष्मी बाई के जीवन पर आधारित फिल्म है। जब वो अंग्रेजों से लड़ते हुए शहीद गई थीं।

Manikarnika Film Review : कंगना रनौत की
X
Manikarnika: The Queen of Jhansi Kangana Ranaut Rani of Jhansi Jhansi
बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत (Kangana Ranaut) की फिल्म मणिकर्णिका (Manikarnika) 160 साल पहले झांसी की रानी लक्ष्मी बाई (Rani of Jhansi Rani Laxmibai) के जीवन पर आधारित फिल्म है। जब वो अंग्रेजों से लड़ते हुए शहीद गई थीं। बचपन आप लोगों ने किताबों और टीवी सीरियल्स में कई बार झांसी की रानी लक्ष्मी बाई को देखा होगा। एक बार फिर झांसी की रानी की एक छवि कंगना रनौत ने 'मणिकर्णिकाः द क्वीन ऑफ झांसी' में भी लेकर आई हैं।

कमजोर डायरेक्शन और स्क्रिप्टिंग

Image result for manikarnika haribhoomi

फिल्म में कंगना रनौत ने झांसी की रानी लक्ष्मीबाई के किरदार को एक बार फिर जिंदा कर दिया है। बड़ी ही खूबसूरती से इस किरदार को बखूबी परदे पर उतारा है। फिल्म रिव्यू की बात करें तो एक्टिंग दमदार है लेकिन स्क्रिप्ट और डायरेक्शन में थोड़ी सी कमी नजर आई है। कमजोर निर्देशन और बचकानी बातें से पूरी फिल्म कही ना कहीं कमजोर नजर आई है।

दमदार एक्टिंग

Image result for manikarnika haribhoomi

वहीं फिल्म में अंग्रेजों के बोलने के ढंग वैसा ही है जैसे पहले के नाटकों में था। उसमें कुछ बदलाव नहीं किया गया है। कंगना ने इस फिल्म में एक्टिंग के साथ ही डायरेक्शन की जिम्मेदारी भी पहली बार निभाई है।

इन तीन वजहों से देखें फिल्म मणिकर्णिका

इस फिल्म में संजय लीला भंसाली जैसी भव्यता दिखाई गई है। युद्ध दृश्यों से लेकर संगीत तक सब भंसाली जैसा ही है। इस फिल्म को देखने के लिए 3 वजह हैं भंसाली जैसी भव्यता, झांसी की रानी के जीवन के अनछुए पहलू, देशभक्त‍ि से भरी और गैर-राजनीतिक फिल्म है।

फिल्म की कहानी

Image result for manikarnika haribhoomi

कंगना रनौत की फिल्म 'मणिकर्णिका' एक पीरीएड ड्रामा पर आधारित मूवी है। फिल्म की कहानी मणिकर्णिका यानी (कंगना रनौत) से शुरू होती है। फिल्म झांसी की रानी मणिकर्णिका के जन्म से शुरू होती है। बचपन से शस्त्र चलाने में बेहद ही निपुण हैं। उनकी इसी योग्यता को देखकर झांसी के राजा गंगाधर राव (जिस्सू सेनगुप्ता) का रिश्ता आता है और उनकी शादी हो जाती है। जिसके बाद उनका नाम बदल जाता है यहां से शुरु होता है उनका नया नाम 'लक्ष्मीबाई' दिया गया। पहले बेटे 'दामोदर दास राव' और फिर पति का गंभीर बीमारी से से निधन हो जाता है। राजा के निधन के बाद रानी लक्ष्मीबाई झांसी के गद्दी पर बैठती हैं। ऐसे स्थिति में अंग्रेज झांसी को अपना गुलाम बनाने की योजना बनाते हैं। अंग्रेजों से लोहा लेते हुए रानी मातृभूमि के लिए शहीद होती हैं। फिल्म उनके जन्म से शहीद होने तक है। केंद्र में झांसी की रानी यानि कंगना रनौत हैं।
फिल्म में गजब का एक्शन है और ग्राफिक्स का भी काफी इस्तेमाल किया गया है। इस फिल्म का बजट 125 करोड़ रुपये है। इस फिल्म से सुशांत सिंह की एक्स गर्लफ्रेंड और टीवी एक्ट्रेस अंकिता लोखंडे डेब्यू कर रही हैं।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story
Top