Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Interview : कैसी फिल्में करने में दिखता है माधुरी को फायेदा जानिए खुद माधुरी दीक्षित से

फिल्म ‘टोटल धमाल’ के बाद एक बार फिर माधुरी दीक्षित नेने ‘कलंक’ में भी कई बड़े स्टार के साथ नजर आएंगी। इस तरह किसी मल्टीस्टारर फिल्म में काम करने से स्टार को कितना फायदा या नुकसान होता है? ‘कलंक’, जिसमें उन्होंने बहार बेगम का वो किरदार निभाया हैं, जिसे श्रीदेवी को निभाना था, इसे निभाना उनके लिए कितना चैलेंजिंग रहा? बतौर प्रोड्यूसर माधुरी इन दिनों क्या खास कर रही हैं, क्या वह अपनी होम प्रोडक्शन फिल्मों में हीरोइन बनना पसंद करेंगी? माधुरी दीक्षित नेने से खुली-खुली बातें।

Interview : कैसी फिल्में करने में दिखता है माधुरी को फायेदा जानिए खुद माधुरी दीक्षित से
X

माधुरी दीक्षित नेने का आज भी दर्शकों में क्रेज है, उनकी कोई भी फिल्म आती है, उनके पुराने ही नहीं, नए फैंस भी फिल्म देखने को आतुर हो जाते हैं। कहने का यह मतलब है कि माधुरी के दीवाने हर उम्र के दर्शक आज भी हैं। धक-धक गर्ल का जादू अभी भी लोगों के सिर पर चढ़कर बोलता है। वह छोटे पर्दे के रियालिटी शो में तो नजर आती ही हैं, जब तब फिल्मों में भी नजर आ जाती हैं। फिल्म ‘टोटल धमाल’ के बाद अब उनकी फिल्म ‘कलंक’ 19 अप्रैल को रिलीज होने जा रही है। खास बात यह है कि इस फिल्म में माधुरी के साथ संजय दत्त बाइस साल बाद नजर आएंगे। अभिषेक वर्मा निर्देशित इस फिल्म में माधुरी, संजय दत्त के अलावा वरुण धवन, आदित्य राय कपूर, सोनाक्षी सिन्हा, आलिया भट्ट भी हैं। प्रस्तुत है, माधुरी दीक्षित नेने से हुई बातचीत के प्रमुख अंश-

फिल्म ‘टोटल धमाल’ के बाद अब आप ‘कलंक’ में नजर आएंगी, इस फिल्म को लेकर क्या कहेंगी?

‘कलंक’ एक बहुत ही खूबसूरत फिल्म है। आजादी से पहले की कहानी है, जो ब्रिटिश शासन का खिलाफत करने वालों पर है। जब मेरे पास इस फिल्म की स्क्रिप्ट आई तो मैं इसे पढ़कर बहुत भावुक हो गई थी। ‘कलंक’ की कहानी कलंक और प्यार पर आधारित है। कभी-कभी सच्चा प्यार भी ‘कलंक’ बन जाता है और कभी-कभी ‘कलंक’ के चलते प्यार अधूरा रह जाता है, यही बात फिल्म में समझाने की कोशिश गई है।

आप इस फिल्म में किस तरह का किरदार निभा रही हैं?

मैंने इस फिल्म में बहार बेगम का किरदार निभाया है, जो एक तवायफ है। इससे ज्यादा मैं आपको अपने किरदार के बारे में नहीं बता पाऊंगी, क्योंकि हमें इसकी इजाजत नहीं है।

बहार बेगम के किरदार को आपसे पहले श्रीदेवी करने वाली थीं, लेकिन उनके देहांत के बाद आपको इस किरदार को निभाने का मौका मिला। क्या कहना चाहेंगी?

हां, ये सच है बहार बेगम का किरदार मुझसे पहले श्रीदेवी जी निभाने वाली थीं, लेकिन अचानक उनकी डेथ हो गई, इसके बाद यह रोल मेरे पास आया। मुझे उनके न रहने का गहरा सदमा लगा था, सो मुझे इस किरदार को निभाने के दौरान हर पल श्रीदेवी की याद आ रही थी। हर वक्त मेरी आंखों के सामने उनकी शक्ल घूम जाती थी। मैं कई बार ऐसा सोचती थी कि अगर श्रीदेवी जी होतीं तो ऐसे करतीं, वैसे करतीं। लेकिन फाइनली मुझे इस किरदार को अपने तरीके से करना था, मैंने इस किरदार को संवारने के लिए बहुत मेहनत की है।

‘कलंक’ से पहले आपकी फिल्म ‘टोटल धमाल’आई थी, यह फिल्म भी मल्टीस्टारर थी। अब ‘कलंक’ भी मल्टीस्टारर फिल्म है। आपके मुताबिक मल्टीस्टारर फिल्म करने से क्या फायदे और क्या नुकसान हैं?

मेरे ख्याल से मल्टीस्टारर फिल्म करने में फायदे ही फायदे हैं, नुकसान कुछ भी नहीं होता है। जैसे कि फिल्म का भार सिर्फ आपके कंधे पर नहीं आता, इसके अलावा जब कई सारे स्टार होते हैं तो माहौल भी अच्छा रहता है। जैसे कि ‘कलंक’ में मेरे साथ सोनाक्षी सिन्हा और अलिया भट्ट भी हैं। उनके साथ काम करने मंर भी मुझे बहुत मजा आया। इसी तरह ‘टोटल धमाल’ में अच्छी खासी स्टार कास्ट थी, हमने खूब धमाल मचाई।

संजय दत्त के साथ आपने कई हिट फिल्में दी हैं। इतने सालों बाद आपने फिर से संजय दत्त के साथ काम किया, कैसे एक्सपीरियंस रहे?

काफी अच्छे एक्सपीरियंस रहे। जब पुराने लोग मिलते हैं तो बहुत खुशी होती है। करीबन बाइस साल बाद जब मैंने संजू के साथ काम किया तो मुझे बहुत अच्छा लगा।

संजय दत्त की तरह ही आपने फिल्म ‘टोटल धमाल’ में अनिल कपूर के साथ भी काफी अरसे बाद काम किया। उनके साथ ‘टोटल धमाल’ करने का एक्सपीरियंस कैसा रहा?

सच कहूं तो अनिल कपूर के साथ भी मैंने बीस साल बाद फिल्म में काम किया, लेकिन उनमें या उनके स्वभाव में रत्ती भर भी बदलाव नहीं आया है। जैसे अनिल 1998 में थे, वैसे ही 2018 और 2019 में भी हैं। बढ़ती उम्र ने ना तो उनकी शक्ल बदली है, ना ही स्वभाव। ‘टोटल धमाल’ में अनिल के साथ भी काम करने का एक्सपीरियंस यादगार रहा।

बतौर निर्माता आपकी फिल्म ‘15 अगस्त’ रिलीज के लिए तैयार है। इसके बारे में कुछ बताएंगी? क्या भविष्य में भी आप अपने होम प्रोडक्शन में फिल्म निर्माण करती रहेंगी?

ऑफकोर्स...। ‘15 अगस्त’ नेटफ्लिक्स पर अप्रैल में रिलीज हो होगी। इससे पहले मैंने मराठी फिल्म ‘बकेट लिस्ट’ का निर्माण किया था। आगे भी अपने प्रोडक्शन में बतौर निर्माता मैं अच्छी- अच्छी फिल्में बनाती रहूंगी।

क्या आप अपनी प्रोडक्शन हाउस की फिल्मों में बतौर हीरोइन भी नजर आएंगी?

इस बारे में मैंने अभी कुछ खास सोचा नहीं है। अगर किसी राइटर ने मुझे ध्यान में रखकर फिल्म लिखी या मुझे खुद लगा कि इस कहानी पर मुझे खुद परफॉर्म करना चाहिए तो मैं उस फिल्म में भी काम करूंगी।

खबर है कि आप लोकसभा चुनाव में हिस्सा लेंगी, इस बात में कितनी सच्चाई है?

(ठहाका लगाकर हंसते हुए) यह आपसे किसने कह दिया। ऐसा कुछ नहीं है।

डांस में बच्चों और हसबैंड को भी है दिलचस्पी

माधुरी दीक्षित नेने के डांस सॉन्ग्स हिट रहे हैं। क्या उनके बच्चों और हसबैंड को डांस में दिलचस्पी है? पूछने पर वह बताती, ‘हां, बिल्कुल है। मेरे पति भी बहुत अच्छा डांस करते हैं, लेकिन उन्होंने डांस सीखा नहीं है, वो बस दिल से डांस करते हैं। मेरे दोनों बेटों को भी डांस बहुत पसंद है, वो भी आज के लेटेस्ट गानों पर डांस करते हैं। उन दोनों ने भी डांस नहीं सीखा है। वो अपनी मम्मी को डांस करते हुए देखकर बहुत खुश होते हैं।’

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story