Web Analytics Made Easy - StatCounter
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

Kritika Kamra Interview: इस अभिनेत्री की बायोपिक का मुख्य किरदार निभाना चाहती हूं

दस साल पहले कृतिका कामरा ने सीरियल ‘कितनी मोहब्बत है’ के जरिए टीवी वर्ल्ड में कदम रखा था। लव स्टोरी बेस्ड इस सीरियल में दर्शकों ने उनकी एक्टिंग को खूब सराहा।

Kritika Kamra Interview: इस अभिनेत्री की बायोपिक का मुख्य किरदार निभाना चाहती हूं

दस साल पहले कृतिका कामरा ने सीरियल ‘कितनी मोहब्बत है’ के जरिए टीवी वर्ल्ड में कदम रखा था। लव स्टोरी बेस्ड इस सीरियल में दर्शकों ने उनकी एक्टिंग को खूब सराहा। इसके बाद वह लगातार बतौर लीड एक्ट्रेस सीरियल्स करती रहीं।

अब कृतिका फिल्म ‘मित्रों’ के जरिए बॉलीवुड में शुरुआत करने जा रही हैं। इस फिल्म को लेकर वह काफी एक्साइटेड हैं। कृतिका कहती हैं, ‘हमारी फिल्म ‘मित्रों’ का बैकड्रॉप अहमदाबाद (गुजरात) का है।

ऐसे लोगों को लग सकता है कि यह एक पॉलिटिकल फिल्म होगी। दरअसल, हमारे प्रधानमंत्री अपने भाषण में मित्रों शब्द का इस्तेमाल करते हैं और वह भी गुजरात से हैं। लेकिन ऐसा कुछ नहीं है कि हमारी फिल्म की स्टोरी पॉलिटिकल है।

कहानी कुछ दोस्तों की है, जो अपना छोटा सा बिजनेस शुरू करते हैं। फिल्म में मैंने अंजलि का कैरेक्टर प्ले किया है। वह अपनी शर्तों पर जीने वाली लड़की है। मैं इस किरदार से रिलेट कर पाती हूं।

दरअसल, मैं भी अंजलि की तरह अपने दम पर आगे बढ़ने में यकीन करती हूं। मैं बरेली से हूं, बाद में फैमिली दिल्ली आई। इसके बाद मैं मुंबई आई, टीवी की दुनिया में अपनी पहचान बनाई, वो भी बिना किसी गॉडफादर के।

टीवी पर लंबे समय तक काम करके अब फिल्मों में कदम रखा है। मैंने फिल्म ‘मित्रों’ की अंजलि में अपनी छवि पाई, तभी इस रोल को चुना।’ सुना है कि इस फिल्म की शूटिंग से पहले डायरेक्टर ने एक्टर जैकी भगनानी और कृतिका की कोई मुलाकात नहीं होने दी थी।

इस बारे में कृतिका बताती हैं, ‘नितिन कक्कड़ बहुत ही सुलझे हुए डायरेक्टर हैं। फिल्म ‘मित्रों’ को उन्होंने रियलिस्टिक टच दिया है। जहां तक जैकी भगनानी से न मिलवाने वाली बात है तो ऐसा नितिन जी ने इसलिए किया क्योंकि वह चाहते थे हमारे बीच एक अजनबीपन बना रहे, जो फिल्म में शुरुआती दौर में नजर आए।

फिर जैसे-जैसे सेट पर जैकी और मेरी बातचीत हो, बॉन्डिंग बने, वह स्क्रीन पर नजर आए। दरअसल, डायरेक्टर हमारे इमोशन को पर्दे पर बिल्कुल रियल दिखाना चाहते थे। यहां तक कि फिल्म में मेरा लुक भी बिल्कुल अहमदाबाद में रहने वाली लड़की जैसा है। मैंने कॉटन की सलवार-कुर्ती पहनी हैं, बहुत ही कम मेकअप किया है।’

‘मित्रों’ कृतिका कामरा की डेब्यू फिल्म है। लेकिन टीवी करने के दौरान कई बड़े फिल्म मेकर्स की तरफ से फिल्में ऑफर हुई थीं। उन फिल्मों का क्या हुआ? पूछने पर कृतिका कहती हैं, ‘हां, जब मैं टीवी शो कर रही थी तो कई बार बड़े बैनर, बड़े प्रोडक्शन हाउस ने मुझे अपनी फिल्मों में साइन किया, लेकिन पता नहीं किन वजहों से वे फिल्में आगे नहीं बढ़ पाईं।

मेरा मानना है कि कुछ बातें किस्मत के हाथ में होती हैं। इसके अलावा एक बात और है, मैं फिल्मों में सिर्फ शो पीस नहीं बनना चाहती हूं। मैं सिर्फ ऐसे ही रोल एक्सेप्ट करूंगी, जिनमें दम होगा।

मैं पहले से ही फिल्मों में आइटम सॉन्ग, छोटे किरदार करने के फेवर में नहीं हूं। फिर टीवी पर भी मैंने स्ट्रॉन्ग कैरेक्टर किए हैं और इस सिलसिले को फिल्मों में भी बनाए रखना चाहती हूं।’

कई टीवी एक्टर फिल्मों में जाने के बाद टीवी नहीं करते हैं। लेकिन कृतिका ऐसा नहीं करेंगी। वह बताती हैं, ‘मैंने ऐसा कोई पैरामीटर नहीं बनाया है। टीवी हो या फिल्म, जहां भी काम करूं, दर्शकों को मेरा काम पसंद आए, यही तमन्ना है।’

बॉलीवुड में इन दिनों बायोपिक फिल्में खूब बन रही हैं। कृतिका भी बायोपिक फिल्में करने की चाहत रखती हैं। वह कहती हैं, ‘मैं मधुबाला जी का किरदार निभाना चाहती हूं। उनकी खूबसूरती, उनकी एक्टिंग, उनका जीवन सभी कुछ अनोखा रहा है। मैं जानती हूं कि करियर के शुरुआत में मुधबाला जी का किरदार मिलना मुश्किल है, लेकिन सपने देखने में कोई टैक्स नहीं लगता है।’

Next Story
Share it
Top