Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

Kajol Interview: बेटी न्यासा के बॉलीवुड में आने पर काजोल ने दिया ये जवाब

काजोल ने करियर की शुरुआत से लेकर अब तक बहुत ज्यादा फिल्में नहीं की हैं। लेकिन जिन भी फिल्मों में वह नजर आईं, उनमें छा गईं। दर्शकों के जेहन में आज भी सिमरन, मंदिरा जैसे किरदार बसे हुए हैं।

Kajol Interview: बेटी न्यासा के बॉलीवुड में आने पर काजोल ने दिया ये जवाब

काजोल ने करियर की शुरुआत से लेकर अब तक बहुत ज्यादा फिल्में नहीं की हैं। लेकिन जिन भी फिल्मों में वह नजर आईं, उनमें छा गईं। दर्शकों के जेहन में आज भी फिल्म ‘दिल वाले दुल्हनिया ले जाएंगे’ की सिमरन,‘माई नेम इज खान’ की मंदिरा जैसे किरदार बसे हुए हैं।

काजोल प्रोफेशनल लाइफ में जितनी परफेक्ट एक्ट्रेस हैं, उतनी ही परफेक्ट पर्सनल लाइफ में एक मदर, वाइफ भी हैं। एक्टर अजय देवगन से शादी के बाद और बच्चों के जन्म के बाद काजोल ने फैमिली को ज्यादा समय देना बेहतर समझा।

लेकिन अब बेटी न्यासा और युग बड़े हो गए हैं तो वह करियर पर फिर से फोकस कर रही हैं। जल्द ही काजोल फिल्म ‘हेलीकॉप्टर इला’ में नजर आएंगी। हाल ही में इस फिल्म के प्रमोशन के दौरान काजोल से मुलाकात हुई।

फिल्म ‘हेलीकॉप्टर इला’ किस तरह की फिल्म है? इसके बारे में कुछ बताइए?

फिल्म ‘हेलीकॉप्टर इला’ एक मां-बेटे के इमोशनल रिश्ते की कहानी है। इससे पहले भी मां-बेटे, मां-बेटी के रिश्ते पर फिल्में बन चुकी हैं। लेकिन हमारी फिल्म के डायरेक्टर प्रदीप सरकार, जिन्हें हम प्यार से दादा कहते हैं, का स्टोरी टेलिंग का अंदाज अलग है। यह फिल्म एक गुजराती नाटक ‘बेटा कागड़ो’ पर बेस्ड है। मेरा रोल सिंगल मदर का है।

देखा जाए तो यह फिल्म पैरेंटिंग पर है, आप असल जिंदगी में कैसी मदर हैं?

मैं एक सख्त मां हूं। मेरा मानना है कि बच्चे पौधों की तरह होते हैं, उन्हें सही देखभाल और निगरानी की जरूरत होती है। मेरे बच्चे जब तक छोटे थे, उनके लिए जो सही होता था, वो मैं करती थी।

इसके लिए सख्ती भी दिखाती थी। उनको हमेशा सही गाइडेंस देती थी। हां, अजय लिबरल फादर हैं। लेकिन वह बच्चों के लिए बनाई मेरी गाइडलाइंस के बीच में नहीं आते हैं। फिर भी अजय को लगता है कि बच्चों को ज्यादा आजादी देनी चाहिए, मैं इस बात से सहमत नहीं हूं। अब तो बच्चे समझदार हो गए हैं, वह सही-गलत को समझने लगे हैं।

आपकी बेटी न्यासा तो काफी बड़ी हो गई है। अगर वह दूसरे स्टार किड की तरह फिल्मों में आना चाहे तो आपका क्या डिसीजन होगा?

देखिए, हमने करियर चुनने का डिसीजन बच्चों पर छोड़ा है। हां, उन्हें गाइड जरूर करेंगे। अगर बच्चे फिल्म इंडस्ट्री में आना चाहते हैं तो उन्हें रोक नहीं सकते हैं।

आपने बच्चों की परवरिश को पूरा समय दिया और एक्टिंग में भी एक्टिव रहीं। कैसे मैनेज किया सब कुछ?

इसका क्रेडिट मैं नहीं लेना चाहती हूं। मुझ पर मेरी नानी और मां का असर रहा है। मेरी नानी 50 के दशक में भी बहुत स्ट्रॉन्ग वूमेन थीं। तमाम जद्दोजहद के साथ नानी ने चार बेटियों नूतन, तनुजा, चतुरा और रेशमा को पाल-पोसकर बड़ा किया।

नानी ने बेटियों को राजकुमारियों की तरह पाला। विदेश में एजुकेशन के लिए भेजा। मम्मी ने भी मुझे और तनीषा को इसी तरह पाला। बच्चों की परवरिश में मैंने भी कोई कमी नहीं की।

जहां तक सवाल बच्चों की परवरिश और करियर दोनों को साथ लेकर चलने का है, तो यह बदलते हुए बॉलीवुड और ऑडियंस की वजह से हुआ। अब दर्शक सिर्फ मिलने-बिछड़ने वाली फिल्में ही नहीं देखते हैं।

वह हर तरह का कंटेंट पसंद करते हैं। ऐसे में हम एक्ट्रेसेस के लिए काफी स्कोप हो गया है। मेरे बाद आईं एक्ट्रेसेस भी करियर और फैमिली दोनों को मैनेज कर रही हैं। इस तरह मैंने भी सबकुछ मैनेज किया। हां, मैंने कभी दवाब में आकर फिल्में नहीं कीं, अपनी पसंद का काम किया।

क्या खुद में बदलाव भी महसूस करती हैं?

मुझमें गजब का चेंज आया है। मैं पहले बहुत गुस्सैल थी, अब बहुत शांत हो गई हूं। मुझे अब गुस्सा नहीं आता है। आया भी तो गुस्से पर कंट्रोल करना सीख चुकी हूं। मैं जिंदगी को बेहतर तरीके से समझने लगी हूं।

मुझमें पहले से ज्यादा कॉन्फिडेंस आ गया है। अजय से शादी और फिर मां बनने के बाद यह बदलाव मेरे अंदर आए हैं। हां, मैं पहले से स्लिम भी हो गई हूं।

आगे कौन सी फिल्में कर रही हैं?

‘हेलीकॉप्टर इला’ फिल्म मुझे करनी चाहिए यह अजय का सजेशन था। मैंने स्क्रिप्ट पढ़ी और अच्छी लगने पर फिल्म साइन की। जब तक अगली फिल्म का सब्जेक्ट नहीं भाएगा, कोई फिल्म नहीं करूंगी। पर्सनल लाइफ की ग्रोथ से मैं खुश हूं। यह दौर मेरे लिए पर्सनली-प्रोफेशनली बहुत सुनहरा है।

काजोल-अजय देवगन की मैरीड लाइफ को लंबा समय हो गया है। आज भी अजय और काजोल के बीच एक प्यारी केमिस्ट्री नजर आती है, क्या राज है इसका?

‘बहुत पहले से अजय और मेरे कुछ मामलों में विचार एक जैसे थे और आज भी हैं। पति के रूप में अजय बहुत सुलझे हुए इंसान हैं। आमतौर पर शादी होने के बाद बॉलीवुड और दूसरी फील्ड में पति-पत्नी के साथ प्रोफेशनली काम करने को लेकर एक्साइटेड नहीं होते हैं। लेकिन मैं और अजय हमेशा साथ फिल्म करने को तैयार रहते हैं। यही सब बातें हमारी हैप्पी मैरीड लाइफ के सीक्रेट्स हैं।’

Next Story
Top