Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Irrfan Khan Death: ये थी इरफान खान की आखिरी इच्छा, नहीं हो पाई पूरी

Irrfan Khan Death:कैंसर (Cancer) का पता लगने के बाद इरफान (Irrfan Khan) इलाज के लिए लंदन चले गए थे। इरफान इलाज के दौरान सोशल मीडिया (Social Media) पर पोस्ट लिख कर अपने दिल का हाल बयां करते थे। वहीं उनकी पोस्ट से भी उनका दर्द झलकता था। इरफान अपनी बीमारी के कारण काफी निराश हो गए थे। जिसके चलते उन्होंने अपने बेटे से कहा था कि मैं इस समय इस सिच्युएशन का सामना नहीं करना चाहता हूं।

Irrfan Khan Death: ये थी इरफान खान की आखिरी इच्छा, नहीं हो पाई पूरी
X
इरफान खान अपने बेटे के साथ (फाइल फोटो)

Irrfan Khan Death: अपने परर्फोमेंस से लोगों का दिल जीतने वाले इरफान खान (Irrfan Khan) ने आज दुनिया को अलविदा कह दिया है। उनकी मौत से उनके फैंस को ही नहीं बल्कि फिल्म इंडस्ट्री को काफी बड़ा झटका लगा है (Irrfan Khan Death)। साल 2018 में इरफान को अपनी बीमारी का पता चला था। जिसकी जानकारी उन्होंने अपने फैंस को सोशल मीडिया (Social Media) के जरिए दी थी।

पोस्ट से भी उनका दर्द झलकता था

कैंसर का पता लगने के बाद इरफान इलाज के लिए लंदन चले गए थे। इरफान इलाज के दौरान सोशल मीडिया पर पोस्ट लिख कर अपने दिल का हाल बयां करते थे। वहीं उनकी पोस्ट से भी उनका दर्द झलकता था। इरफान अपनी बीमारी के कारण काफी निराश हो गए थे। जिसके चलते उन्होंने अपने बेटे से कहा था कि मैं इस समय इस सिच्युएशन का सामना नहीं करना चाहता हूं।

बीमारी को लेकर काफी सहमे सहमे रहने लगे थे

आपको बता दें कि इरफान पिछले दो साल से न्यूरोएंडोक्राइन ट्यूमर जैसी बीमारी से जूझ रहे थे। इरफान अपनी बीमारी को लेकर काफी सहमे सहमे रहने लगे थे। उनका दर्द कई बार उनके द्वारा लिखी गई पोस्ट में भी दिख जाता था। इरफान इन सभी पलों का सामना करने से डरने लगे थे।

Also Read: Irrfan Khan Death: इरफान खान की मौत का असली कारण? अंग्रेजी मीडियम के चलते मिस हुई थी एक कीमोथेरपी

इरफान खुद को काफी मजबूत बनाना चाहते थे

इसी बीच उन्होंने अपने बेटे से कहा था कि सिर्फ एक ही चीज है जो मुझे खुद से चाहिए। वो चीज है कि मुझे मौजूदा सिच्युएशन का सामना नहीं करना है। इरफान खुद को काफी मजबूत बनाना चाहते थे। डर और घबराहट का सामना करके वो हालातों को मजबूती से जीना चाहते थे। इस बीच इरफान ने सोशल मीडिया पर कई इमोशनल पोस्ट भी लिखे। लेकिन कभी ऐसी खबर नहीं आई कि उन्होंने कैंसर को हरा दिया है।

Shagufta Khanam

Shagufta Khanam

Jr. Sub Editor


Next Story