Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

आखिर क्यों इमरजेंसी के दौरान इंदिरा गांधी ने किशोर कुमार के गानों को बैन कर दिया था, जानिए इससे जुड़ा पूरा इतिहास

आज से 43 साल पहले इंदिरा गांधी सरकार द्वारा संपूर्ण भारत में आपातकाल को लागू किया गया था। आपातकाल के समय सिर्फ नेताओं पर ही नहीं बल्कि बॉलीवुड की कई हस्तियों को भी आपातकाल के नाम पर डराया गया। इन्हीं में एक हैं मशहूर गायक किशोर कुमार।

आखिर क्यों इमरजेंसी के दौरान इंदिरा गांधी ने किशोर कुमार के गानों को बैन कर दिया था, जानिए इससे जुड़ा पूरा इतिहास

आज से 43 साल पहले इंदिरा गांधी सरकार द्वारा संपूर्ण भारत में आपातकाल को लागू किया गया था। इंदिरा गांधी की सरकार ने 25 जून 1975 को पूरे देश में आपातकाल की घोषणा की थी।

इसी मौके पर भाजपा आज काला दिवस मना रही है। लेकिन आपातकाल से जुड़ी कुछ ऐसी सच्चाई है जिसका प्रभाव आज तक लोगों के जेहन में है।

आपातकाल के समय सिर्फ नेताओं पर ही नहीं बल्कि बॉलीवुड की कई हस्तियों को भी आपातकाल के नाम पर डराया गया। इसी में एक हैं मशहूर गायक किशोर कुमार।

दरअसल, आपातकाल के समय प्रेस, संगीत और ऑल इंडिया रेडियो सभी पर प्रतिबंध लगा दिया गया था। आपातकाल के समय ही इंदिरा गांधी सरकार ने किशोर कुमार के गानों पर तीन साल के लिए प्रतिबंध लगा दिया था।

दरअसल, इंदिरा गांधी के इस फैसले से पूरे देश में सरकार की छवि धूमिल हो गई थी। इसीलिए तत्कालीन सूचना और प्रसारण मंत्री वीसी शुक्ल ने गायक किशोर कुमार को एक खत लिखा।

खत में इंदिरा गांधी पर लिए गए गीत पर किशोर कुमार को अपनी आवाज देनी थी। लेकिन ऐसा काम करने से किशोर कुमार ने साफ मना कर दिया था। किशोर कुमार का कहना था कि कौन जाने वो क्यों आए, लेकिन कोई भी मुझसे वो नहीं करा सकता जो मैं नहीं करना चाहता। मै किसी के हुक्म पर काम नहीं करता।

इसी कारण तत्कालीन सूचना और प्रसारण मंत्री वीसी शुक्ल ने किशोर कुमार के गानों के प्रसारण पर रोक लगा दी थी। दरअसल, उस समय के आईबी मंत्री ने आकाशवाणी पर प्रसारित किए जाने वाले किशोर कुमार के गानों पर तीन साल कर प्रतिंबध लगा दिया।

साथ ही किशोर कुमार के घर पर आयकर विबाग के छापे भी डाले गए। लेकिन उन्होंने फिर भी इंदिरा सरकार के आपातकाल का समर्थन नहीं किया।

Next Story
Top