logo
Breaking

मैमून और ओक्साना बने ''इंडियाज बेस्ट सिनेस्टार्स, एक्टिंग के लिए छोड़ दी डॉक्टरी

रूस की डॉक्टर ने जीता भारतीय रिएलटी शो

मैमून और ओक्साना बने

मुंबई. सैयद मैमून और ओक्साना रसूलोवा बने 'इंडियाज बेस्ट सिनेस्टार्स की खोज' के विजेता। रविवार को हुए फिनाले के दौरान अपने प्रतिद्वंदियों को पछाड़ इन दोनों ने जीत अपने नाम की। इस विजेता जोड़ी को मनी ट्रांसफर कंपनी मनीग्राम की ओर से 50-50 हजार रुपये नकद और सेरा टाइल की ओर से एक-एक लाख रुपये के गिफ्ट वाउचर दिए गए है।

उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद निवासी सैयद और अजरबैजान देश की रहने वाली ओक्साना को फिल्म निर्देशक गुरुदेव भल्ला की फिल्म में भूमिका निभाने का मौका भी दिया गया है। एक्टिंग रियलिटी शो 'इंडियाज बेस्ट सिनेस्टार्स की खोज' पांच जुलाई से जी टीवी पर प्रसारित हुआ था।

शो के फाइनल को प्रतिभागियों की प्रस्तुतियों के साथ ही शाहिद कपूर और श्रद्धा कपूर की मौजूदगी ने यादगार बना दिया। शो की मेजबानी अभिनेता विशाल मल्होत्रा और हुसैन कुवाजेरवाल कर रहे थे। शो का फाइनल दो कड़ीयों में शनिवार और रविवार को प्रसारित हुआ। शो के टॉप 12 प्रतिभागियों का सफर भी रोमांच से भरा रहा। देश के अनेक शहरों में हुए हजारों ऑडिशन के बाद टॉप 12 प्रतिभागियों को चुना गया था, जिनमें से 6 प्रतिभागी ही फाइनल में पहुंचे थे।

31 वर्षीय ओक्साना रसुलोवा ने इस शो के लिए रूस के प्रतिष्ठित अस्पताल की अपनी स्त्री रोग विशेषज्ञ की नौकरी छोड़ दी थी। शो में जज की भूमिका निर्माता- निर्देशक अनुराग बसु, स्क्रीनप्ले राइटर विजय कृष्णा आचरेकर और अभिनेत्री सोनाली बेंद्रे ने निभाई। ये दोनों विजेता जल्द ही महेश भट्ट की फिल्म में नजर आएंगे। ओक्साना ने कहा- "महेश भट्ट के साथ काम करना एक स्वप्न के सच होने जैसा है"। वे शुद्ध हिंदी बोलती है साथ ही भारतीय शास्त्रीय नृत्य के साथ ही भरतनाट्यम में भी पारंगत है। इस बात को नजरअंदाज नही किया जा सकता की भारतीय शो को दुनियाभर के लोग देखते है।

नीचे की स्लाइड्स में पढ़िए, इंडियाज बेस्ट सिनेस्टार्स की खोज से जुड़ी बातें-
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि और हमें फॉलो करें ट्विटर पर-
Share it
Top