Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

अब मेरा नजरिया देश को लेकर बदल गया है: अंकिता लोखंडे

गणतंत्र दिवस 2019 (Republic Day 2019) आने को है। गणतंत्र दिवस 2019 (Republic Day 2019) की तैयारियां भी पूरे देश में हो रही है। भारत की तीनों सेनाएं गणतंत्र दिवस परेड 2019 (Republic Day Parade 2019) की रिहर्सल कर रही हैं। अगर आप दिल्ली में रह रहे हों तो इस समय आपको सुबह-शाम लाइन से हवाई जहाज उड़ते दिख जाएंगे। सेनाएं ही नहीं आम जनता भी गणतंत्र दिवस (Republic Day) को लेकर पूरी तैयारी में हैं। लोग गणतंत्र दिवस पर बधाई संदेश (Republic Day Wishes) भेजकर एक दूसरे को शुभकामनाएं देते हैं। आज के समय में लोग गणतंत्र दिवस की शायरी (Republic Day Shayari), गणतंत्र दिवस की कविता (Republic Day Poems), गणतंत्र दिवस के विचार (Republic Day Quotes), गणतंत्र दिवस के व्हाट्सएप स्टेटस (Republic Day Whatsapp Status) के साथ एक दूसरे को बाधाई देते हैं। आम लोगों के साथ ही बड़े पर्दे के कलाकार भी गणतंत्र दिवस को बड़े ही उत्साह के साथ मनाते हैं। आइए जानते हैं कि भारत के 70वें गणतंत्र दिवस (70th Republic Day) पर क्या कहते हैं आपके पसंदीदा कलाकार।

अब मेरा नजरिया देश को लेकर बदल गया है: अंकिता लोखंडे
गणतंत्र दिवस 2019 (Republic Day 2019) की तैयारियां भी पूरे देश में हो रही है। भारत की तीनों सेनाएं गणतंत्र दिवस परेड 2019 (Republic Day Parade 2019) की रिहर्सल कर रही हैं। अगर आप दिल्ली में रह रहे हों तो इस समय आपको सुबह-शाम लाइन से हवाई जहाज उड़ते दिख जाएंगे। सेनाएं ही नहीं आम जनता भी गणतंत्र दिवस (Republic Day) को लेकर पूरी तैयारी में हैं। लोग गणतंत्र दिवस पर बधाई संदेश (Republic Day Wishes) भेजकर एक दूसरे को शुभकामनाएं देते हैं। आज के समय में लोग गणतंत्र दिवस की शायरी (Republic Day Shayari), गणतंत्र दिवस की कविता (Republic Day Poems), गणतंत्र दिवस के विचार (Republic Day Quotes), गणतंत्र दिवस के व्हाट्सएप स्टेटस (Republic Day Whatsapp Status) के साथ एक दूसरे को बाधाई देते हैं। गणतंत्र दिवस के एक दिन पहले ही एक बेहतरीन फिल्म रिलीज हुई। टीवी एक्ट्रेस अंकिता लोखंडे (Ankita Lokhande) ने फिल्म ‘मणिकर्णिका : द क्वीन ऑफ झांसी’ (Manikarnika The Queen Of Jhansi) से बॉलीवुड में डेब्यू किया है। इस फिल्म ने उनके करियर को नया आयाम दिया है, साथ ही देश को लेकर उनके नजरिए को भी बदल दिया। ऐसा कैसे हुआ, बता रही हैं अंकिता लोखंडे अपनी जुबानी।
उन्होंने बताया कि जब मैं स्कूल में पढ़ती थी तो 26 जनवरी और 15 अगस्त के दिन स्कूल जाना और कल्चरल एक्टिविटी में हिस्सा लेना भाता नहीं था। इसके लिए सुबह उठना पड़ता था, जो मुझे मुश्किल लगता था। तब फ्लैग होस्टिंग की अहमियत भी मुझे पता नहीं थी। फिर कॉलेज में भी यही सिलसिला जारी रहा।
बाद में करियर में इतना बिजी हो गई कि इन बातों पर कभी गहराई से सोचा नहीं। लेकिन जब दो साल पहले मैंने फिल्म ‘मणिकर्णिका-द क्वीन ऑफ झांसी’ साइन की और इसमें रानी लक्ष्मी बाई की सहयोगी झलकारी बाई का रोल किया तो मेरा जीवन और सोच पूरी तरह से बदल गई। मैंने रानी लक्ष्मीबाई और देश के महान स्वतंत्रता सेनानियों के बारे में जाना।
अपने इतिहास से मेरा परिचय हुआ। देश को स्वतंत्र कराने में और बाद में एक गणतंत्र राष्ट्र बनने में कितना लंबा संघर्ष हम भारतीयों ने किया, इस बात का अहसास हुआ। बाबा साहब आंबेडकर ने संविधान का निर्माण किया, देश के हर नागरिक को समान अधिकार मिले और हम प्रगति पथ पर बढ़े।
इन सब बातों को जानकर मुझे अपने देश पर, अपने लोगों पर बहुत गर्व हुआ। अब मेरा नजरिया भी देश को लेकर बहुत बदल गया है। मैं भी एक नागरिक के रूप में अपना ज्यादा से ज्यादा योगदान देश के विकास में देना चाहती हूं, जिससे मेरा देश महान बने।
Next Story
Top