Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

HBD: जब 13 साल की उम्र में दलेर मेहंदी ने किया था ये काम, पहले गाने ने ही रातों-रात बना दिया था स्टार

दलेर मेहंदी आज बॉलीवुड ही नहीं बल्कि पंजाबी और पॉप सिंगिग में भी एक बड़ा नाम हैं। दलेर मेहंदी को सिगिंग विरासत में मिली है। उन्होंने छोटी उम्र से ही गाना शुरु कर दिया था।

HBD: जब 13 साल की उम्र में दलेर मेहंदी ने किया था ये काम, पहले गाने ने ही रातों-रात बना दिया था स्टार

दलेर मेहंदी आज बॉलीवुड ही नहीं बल्कि पंजाबी और पॉप सिंगिग में भी एक बड़ा नाम हैं। दलेक मेहंदी को सिगिंग विरासत में मिली है। शायद यही कारण है कि उन्होंने छोटी सी उम्र में ही गाना शुरु कर दिया था।

इसे भी पढ़ेः पैसे जुटाने के लिए जब इन अभिनेत्रियों ने की सारी हदें पार, खुद कबूली थी सच्चाई, जानें कौन हैं ये

सिंगर दलेर मेहंदी का आज 51 वां जन्मदिन है। उनका जन्म 18 अगस्त 1967 को पटना में हुआ था। उनके घर का वातारवरण ही सिंगिग का था। जिसके कारण उनका रूझान भी गायन की तरफ ही गया।

बता दें कि दलेर जब 11 साल के थे तब उन्होंने सिंगिंग के करियर को आगे बढ़़ाने के लिए घर-परिवार सब कुछ छोड़ दिया था। दलेर गोरखपुर के रहने वाले उस्ताद राहत अली खान के पास उनसे संगीत की शिक्षा लेने पहुंचे।

यही से उन्होंने अपने गायन की शुरुआत की और मात्र 13 साल की उम्र में ही उन्होंने कई हजार लोगो के सामने अपनी पहली परफॉर्मेंस दी। यही से उनके संगीत का कारवां आगे बढ़ता गया।

दलेर मेहंदी का पहला गाना 'बोले ता रा रा' ही काफी सुपरहिट हो गया। इस गाने ने उन्हें रातो-रात सुपरस्टार बना दिया। इसी के साथ उन्हें म्युजिक इंडस्ट्री में काफी शोहरत हसिल हुई।

दलेर मेहंदी ने कई स्टेज परफॉर्मेंस भी दी है। उन्होंने सिर्फ देश ही नहीं बल्कि विदेश में भी पॉप सिंगिंग और पंजाबी भंगड़ा को विश्व-विख्यात बनाया है। अपने पहले एल्बम के इतने सक्सेस होने के बाद दलेर ने कई और एल्बम्स निकाले।

इसे भी पढ़ेः बॉलीवुड की इन जोड़ियों के प्यार ने सेट पर ही तोड़ दिया था दम, एक चली थी आत्महत्या करने, कारण जान रह जाएंगे दंग

आपको बता दें कि 2003 में पटियाला कोर्ट ने दलेर मेहंदी को कबूतरबाजी मामले में दोषी मानते हुए 2 साल की कैद की सजा सुनाई थी। हालांकि उन्हें बाद में अदालत से जमानत भी मिल गई थी।

Next Story
Top