Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Dadasaheb Phalke Birthday : इन 16 बॉलीवुड हस्तियों को मिल चुका है 'दादासाहेब फाल्के अवार्ड'

धुंडीराज गोविंद फाल्के जिन्हें दादासाहेब फाल्के के नाम से जाना जाता है। दादा साहेब फाल्के पुरस्कार भारतीय सिनेमा का सर्वोच्च पुरस्कार है। किसी भी कलाकार और सिनेमा से सम्बंधित व्यक्ति के लिए ये अवार्ड मिलना गर्व की बात है। आज दादा साहेब के जन्मदिन पर जानिए किन बॉलीवुड हस्तियों को मिल चूका है ये अवार्ड।

Dadasaheb Phalke Birthday : इन 16 बॉलीवुड हस्तियों को मिल चुका है दादासाहेब फाल्के अवार्ड
X

धुंडीराज गोविंद फाल्के (Dhundiraj Govind Phalke ) जिन्हें दादासाहेब फाल्के (Dadasaheb Phalke) के नाम से जाना जाता है। दादा साहेब फाल्के पुरस्कार (Dadasaheb Phalke Award) भारतीय सिनेमा (Indian Cinema) का सर्वोच्च पुरस्कार है। किसी भी कलाकार और सिनेमा से सम्बंधित व्यक्ति के लिए ये अवार्ड मिलना गर्व की बात है। आज दादा साहेब के जन्मदिन (Dadasaheb Phalke Birthday) पर जानिए कौन सी बॉलीवुड हस्तियाँ हो चुकी हैं इस अवार्ड से सम्मानित।

'देविका रानी' (1969)

'देविका रानी' को भारतीय सिनेमा की पहली महिला एक्ट्रेस के रूप में जाना जाता है। पहले फिल्मों में लड़कियों का काम करना सामाजिक नजरिये से बुरा समझा जाता था। ज्यादातर फिल्मों में लड़कियों के किरदार को लड़कों के द्वारा ही निभाया जाता था। समय में परिवर्तन के साथ कुछ नाच-गाने के कामों से सम्बंधित लड़कियां इस क्षेत्र में आई और फिर धीरे-धीरे फिल्मों में लड़कियों के काम करने को सामाजिक सहमति मिलती गई। 'देविका रानी' अपने समय की एक ऐसी अभिनेत्री थी जिनकी टक्कर में किसी दूसरी अभिनेत्री की कल्पना भी नहीं की जाती थी।

देविका रानी ने अपने अभिनय की शुरुआत साल 1933 में आई फिल्म 'कर्मा' से की थी। 'कर्मा' पहली भारतीय फिल्म थी जो अंग्रेजी भाषा में बनाई गयी थी। इस फिल्म में पहली बार ऑन-स्क्रीन चुंबन का सीन था जिसने सिनेमा की दुनिया में तहलका मचा दिया था। 'देविका रानी' ने 1934 में बॉम्बे टॉकीज नाम से पहली भारतीय पब्लिक लिमिटेड कंपनी की स्थापना की थी।'देविका रानी' को फिल्मों में उनके योगदान के लिए साल 1969 में ये आवर्ड दिया गया था।


पृथ्वी राज कपूर (1971)

पृथ्वी राज कपूर ने अपने अभिनय करियर की शुरुआत भारत की पहली साउंड फिल्म 'आलम आरा' से की थी जो साल 1931 में रिलीज हुई थी। पृथ्वी राज कपूर ने 1944 में पृथ्वी थिएटर की स्थापना की जो हिंदी रंगमंच को बढ़ावा देने के लिए एक थिएटर कंपनी थी। राज कपूर को साल 1971 में दादासाहेब फाल्के अवार्ड दिया गया।



और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story