Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

Yeh Saali Aashiqui Box Office Collection Day 1: पहले दिन फिल्म का चला जादू, कमा डाले इतने करोड़

वर्धन पुरी की फिल्म 'ये साली आशिकी' रिलीज हो चुकी है। फिल्म ने पहली ही दिन शानदार कमाई की। फिल्म की कहानी काफी मजबूत है, जो आपको काफी एंटरटेन करेंगी। लोगों को ये फिल्म काफी पसंद आ रही है।

Yeh Saali Aashiqui Box Office Collection Day 1: पहले दिन फिल्म का चला जादू, कमा डाले इतने करोड़

हिंदी सिनेमा के खलनायक स्वर्गीय अमरीश पुरी के पोते वर्धन पुरी की फिल्म 'ये साली आशिकी' रिलीज हो चुकी है। फिल्म ने पहले दिन उम्मीदों के मुताबिक बॉक्स ऑफिस पर कमाई की। फिल्म की ओपनिंग डे की कमाई 1.5 करोड़ रही। हालांकि उम्मीद 2 से 3 करोड़ कमाई की थी, लेकिन ये बिजनेस भी ठीक माना जा रहा है। फिल्म में वर्धन पुरी के साथ शिवालिका ओबेरॉय नजर आ रही है। फिल्म बाकी सभी बॉलीवुड की लव स्टोरी की कहानी से थोड़ा अलग है। फिल्म में प्यार, मासूमियत, जज्बात और जिद्दीपन का मिक्सअप बखूबी देखने को मिलेगा।


फिल्म की कहानी- फिल्म की कहानी में प्यार कम और नफरत ज्यादा देखने को मिलेगी। फिल्म की शुरुआत एक मैनेजमेंट कॉलेज से होती है। जहां एक स्टूडेंट साहिल.. जिसका किरदार वर्धन पुरी ने निभाया है, वो कॉलेज में होटल मैनेजमेंट की पढ़ाई कर रहा है। उसका सबसे अच्छा दोस्त उसका रूम पार्टनर वेणु होता है, वेणु का किरदार जेसी लीवर ने निभाया है। एक दिन क्लास में मीति.. जिसका किरदार शिवालिका ओबेरॉय ने अदा किया है, उसकी कॉलेज में एंट्री होती है, वो भी साहिल के साथ मैनेजमेंट की पढ़ाई करने कॉलेज में आई होती है। दोनों एक ही क्लास में होते है।


पहली नजर में ही साहिल को मीति से प्यार हो जाता है। लेकिन मीति उसे अपना दोस्त समझती है, लेकिन मस्ती करने के लिए मीति साहिल से प्यार का नाटक करती है, क्योंकि साहिल अमीर होता है। वो उसे चीट करना शुरु कर देती है। पर प्यार में पागल साहिल उसके इस झूठे प्यार को समझ नहीं पाता। लेकिन धीरे-धीरे ये बात उसके समझ में आने लगती है। एग्जाम के दौरान मीति चिटिंग कर रही होती है, ऐसा करता देख साहिल वेणु को इस बारे में बताता है और इस बात की खबर वेणु टीचर को बताती है। नकल करने के चलते टीचर मीति को प्रिंसिपल के पास ले जाती है।


कॉलेज में हुई बेइज्जती का बदला मीति साहिल से लेना चाहती है। चालाकी से मीति साहिल को पागल साबित कर देती है। जिसके बाद साहिल को शिमला मेंटल असाइलम भेज दिया जाता है। मेंटल असाइलम में तीन साल तक रहने के बाद साहिल मीति से बदला लेने बाहर आता है। बदला लेने में साहिल और मीति के लाइफ के कई राज सामने आते हैं.. कई ट्व‍िस्ट्स और टर्न्स भी दिखाई देंगे.. जिसके आपको फिल्म देखने में मजा आएगा।

फिल्म की कहानी थ्रि‍लर स्टोरी है। फिल्म की स्टोरी, बैकग्राउंड और डायरेक्शन काफी बेहतरीन है। फिल्म के एक सीन में वर्धन अपने दादा अमरीश पुरी के 'दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे' के सीन को दोहराते नजर आएंगे। कबूतरों को दाना खिलाते हुए वर्धन का ये सीन आपको अमरीश पुरी की याद दिला देगा। फिल्म का गाने भी बेहद शानदार है।

Next Story
Share it
Top